हरियाणा / बैंक दोषी कर्मचारियों की सैलरी से रिकवरी कर किसानों के मुआवजे का करे भुगतान: उपायुक्त



DC Ashok Meena reviewed the works of banks during the district level meeting
X
DC Ashok Meena reviewed the works of banks during the district level meeting

  • जिला स्तरीय बैठक के दौरान बैंकों के कार्यों की समीक्षा बैठक में डीसी अशोक मीणा दिखे तल्ख

Dainik Bhaskar

Jun 27, 2019, 06:44 AM IST

हिसार. लघुसचिवालय में बुधवार को जिला के सभी बैंकों के अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक के दौरान डीसी अशोक कुमार मीणा तल्ख दिखे। उन्होने बैंक अधिकारियों को स्पष्ट किया प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत फसलों में हुए नुकसान के लिए पात्र किसानों को मुआवजा देने में हो रही देरी को सहन नहीं किया जाएगा। यदि बीमा प्रक्रिया के दौरान बैंक कर्मचारी की गलती से मुआवजा देने में विलंब हो रहा है तो इसके लिए बैंक अपने कर्मचारी से इसकी रिकवरी करके किसान को भुगतान करें। ऐसा न होने पर बैंक अधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की जाएगी। 


उपायुक्त ने कहा कि जिला में अलग-अलग गांवों से किसानों की शिकायतें सामने आई हैं कि उन्हें फसल खराबे का मुआवजा नहीं मिल रहा है। जिन मामलों में बीमा कंपनियों की गलतियां थीं उनका भुगतान करवाने के लिए बीमा कंपनियों को जरूरी निर्देश दिए हैं। कुछ मामलों में बीमा कंपनियों के खिलाफ पुलिस में मामले भी दर्ज करवाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जिन मामलों में बैंकों की गलती की वजह से फसल बीमा नहीं हो पाया अथवा गांव या किसान के नाम की एंट्री करने में गलती के कारण किसान मुआवजे से वंचित हैं, उनमें बैंक संबंधित कर्मचारी से मुआवजे की रिकवरी करते हुए किसानों को भुगतान करवाए। उन्होंने कड़े निर्देश दिए कि कर्मचारी को इस माह की सेलरी रिकवरी किए बिना जारी न की जाए।

 

उपायुक्त ने फसल बीमा योजना के मुआवजे संबंधी प्रत्येक मामले की समीक्षा करते हुए संबंधित बैंक कर्मियों से जवाब-तलब किया। उन्होंने कहा कि मैयड़ के एसबीआई ने किसानों के खाते से पैसा काट लिया लेकिन बीमा कंपनी को यह समय से नहीं भिजवाया जिससे किसान को मुआवजा नहीं मिल पाया। इस मामले में बैंक का एक साल से ड्रामा चल रहा है। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि जल्द कार्रवाई नहीं की गई तो बैंक अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी।इसके अलावा उपायुक्त ने बैंकों के माध्यम से चलाई जाने वाली अन्य सभी वित्तीय योजनाओं की समीक्षा की और इनके क्रियान्वयन के संबंध में अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए।

 

उन्होंने कहा कि बैंक कमजोर वर्ग के लिए चलाई जा रही योजनाओं को लागू करने में पूरी दिलचस्पी दिखाएं और पात्र व्यक्तियों को इनका लाभ पहुंचाएं।  इस दौरान अतिरिक्त उपायुक्त अमरजीत सिंह मान, आरबीआई से एसएस सहोता, पंजाब नेशनल बैंक से अबरार अहमद, एलडीएम सुनील कुकड़ेजा व नाबार्ड के डीडीएम पवन कुमार सहित सभी बैंकों के अधिकारी मौजूद थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना