• Hindi News
  • Haryana
  • Hisar
  • Hisar News haryana news 437 positive patients and 10 people lost their lives due to swine flu maximum 4 deaths in uttar pradesh

स्वाइन फ्लू से देश में 437 पॉजिटिव रोगी और 10 लोगों को गंवानी पड़ी जान, सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में 4 मौतें

Hisar News - कोरोना वायरस के बीच स्वाइन फ्लू एच1-एन1 ने देश में पैर पसारते हुए लोगों की जान लेनी शुरू कर दी है। राष्ट्रीय रोग...

Feb 15, 2020, 07:50 AM IST

कोरोना वायरस के बीच स्वाइन फ्लू एच1-एन1 ने देश में पैर पसारते हुए लोगों की जान लेनी शुरू कर दी है। राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र में प्राप्त आंकड़ों के अनुसार 12 जनवरी 2020 तक 117 पॉजिटिव रोगी मिले थे, जबकि एक की मौत हुई थी। इसके बाद 2 फरवरी तक रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ते हुए 437 तक जा पहुंची है। मृतकों की संख्या 10 हो चुकी है। सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश में 4, तेलंगाना में 2, तमिलनाडु व मध्यप्रदेश में 1-1 और आंध्र प्रदेश में 2 रोगियों की एच1 एन1 वायरस की चपेट में आने के कारण जान गई है। पिछले साल राजस्थान में वायरस का प्रकोप था लेकिन इस साल मौत का आंकड़ा शुन्य है। हरियाणा की बात करें तो यहां 12 जनवरी तक 5 पॉजिटिव रोगी थे, जोकि बढ़कर 7 हो चुके हैं। दुनिया भर में दहशत का कारण बन चुके कोरोना वायरस के साथ स्वाइन फ्लू के फैलने पर स्वास्थ्य विभाग और अलर्ट हो गया है। सभी आईडीएसपी या एकीकृत रोग निगरानी कार्यक्रम शाखा को निर्देश जारी हैं। आमजन को वायरस से बचाव एवं रोकथाम के प्रति जागरूकता किया जाए। उन्हें संक्रमण से बचने व स्वच्छता को लेकर भी मोटिवेट करें।

कोरोना वायरस और स्वाइन फ्लू के चलते अलर्ट है हेल्थ विभाग, प्रदेश में 5 से बढ़कर 7 हुए मरीज

प्रदेश में यह रही स्थिति

वर्ष केस डेथ

2017 252 9

2018 61 7

2019 1041 16

2020 7 0

देश में यह रही स्थिति

वर्ष केस डेथ

2017 38811 2270

2018 15266 1128

2019 28798 1218

2020 437 10

ऐसे करें बचाव

{ डॉक्टर के परामर्श से दवा लें

{ खूब पानी पीना

{ शरीर में पानी की कमी न होने देना

इलाज: शुरुआत में पेरासीटामॉल जैसी दवाएं बुखार कम करने के लिए दी जाती हैं। बीमारी के बढ़ने पर एंटी वायरल दवा ओसिल्टामीवियर (टेमी फ्लू) से इलाज किया जाता है।

ये हैं लक्षण

{नाक का लगातार बहना

{छींक आना, कफ, कोल्ड और लगातार खांसी

{मांसपेशियों में दर्द या अकड़न

{सिर में भयानक दर्द, नींद न आना

{ज्यादा थकान, दवा खाने पर भी बुखार का लगातार बढ़ना

{गले में खराश का लगातार बढ़ते जाना।

देश में यहां हैं रोगी

इस बार स्वाइन ग्रस्त रोगी तमिलनाडु में 132, तेलंगाना में 78, कर्नाटक में 74, दिल्ली में 43, महाराष्ट्र में 22, उत्तर प्रदेश 16, आंध्र प्रदेश में 14, पंजाब में 13, हिमाचल प्रदेश में 4, हरियाणा व राजस्थान में 7-7, छत्तीसगढ में 1, गुजरात में 8, केरला में 9, मध्यप्रदेश में 5, उड़ीसा और पांडिचेरी में 2-2 रोगियों की 2 फरवरी तक पुष्टि हुई है। बाकी राज्यों व केंद्र शासित राज्यों में आंकड़ा शुन्य है।

पिछले सालों में यह थी प्रदेश में स्थिति

प्रदेश भर में वर्ष 2018 में स्वाइन फ्लू से 61 लोग रोग ग्रस्त हुए थे जबकि 7 की मृत्यु हुई थी। वर्ष 2019 में वायरस तेजी से फैला था। 1041 पॉजिटिव रोगी थे। 16 की वायरस की वजह से जान गई थी। इस साल सिर्फ 7 केस मिले हैं।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना