• Hindi News
  • Haryana
  • Hisar
  • Hisar News haryana news 50 thousand prized histrifter was not returned from a fat parole jail was caught by stf

50 हजार का ईनामी हिस्ट्रीशीटर मोटा पैरोल से वापस नहीं लौटा था जेल, एसटीएफ ने पकड़ा

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:51 AM IST

Hisar News - स्पेशल टास्क फोर्स ने 21 साल से अपराध की दुनिया में सक्रिय 50 हजार के ईनामी हिस्ट्रीशीटर मोठ करनैल वासी नरेंद्र उर्फ...

Hisar News - haryana news 50 thousand prized histrifter was not returned from a fat parole jail was caught by stf
स्पेशल टास्क फोर्स ने 21 साल से अपराध की दुनिया में सक्रिय 50 हजार के ईनामी हिस्ट्रीशीटर मोठ करनैल वासी नरेंद्र उर्फ मोटा को उसके साथी उचाना कलां वासी रामपाल सहित नारनौंद एरिया से धर दबोचा। इनके पास से 600 ग्राम अफीम भी बरामद हुई थी। दोनों आरोपियों के विरुद्ध एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज करके पूछताछ की जा रही है।

बता दें कि नरेंद्र उर्फ मोटा को हत्या मामले में 20 साल और एनडीपीएस एक्ट के तहत 12 साल की सजा मिली थी। वह जेल से 2 बार पैरोल पर बाहर आया था लेकिन वापस नहीं लौटा था। वहीं, रामपाल भी सजायफ्ता है। वह हाईकोर्ट से जमानत पर रिहा था, जिसे मादक पदार्थ की तस्करी करते हुए पकड़ा है। इन अपराधियों के विरुद्ध हत्या, लूट सहित कई संगीन केस दर्ज हैं।

एसटीएफ इंचार्ज प्रदीप यादव ने बताया कि मोठ करनैल वासी नरेंद्र उर्फ मोटा पर 50 हजार का ईनाम था। जून 1998 में उसके विरुद्ध तोशाम थाना में डकैती करने पर पहला केस दर्ज हुआ था। वह अतिवांछित अपराधी था, जोकि जेल से पैरोल पर जाकर वापस नहीं लौटता था। सूचना मिली थी कि उक्त अपराधी के नारनौंद में होने का अंदेशा है। इसके चलते टीम का गठन किया गया, जिसमें एसआई महेंद्र सिंह, एएसआई संदीप कुमार सहित पुलिस कर्मियों ने नारनौंद एरिया में दबिश देकर हिस्ट्रीशीटर नरेंद्र उर्फ मोटा को उसके साथी रामपाल के साथ गिरफ्तार कर लिया। इनके पास से 600 ग्राम अफीम बरामद हुई थी।

एसटीएफ की गिरफ्त में ईनामी हिस्ट्रीशीटर नरेंद्र उर्फ माेटा व रामपाल।

मोटा पर दर्ज हैं कई केस

हिस्ट्रीशीटर नरेंद्र उर्फ मोटा के विरुद्ध 1 जून 1998 में डकैती करने पर तोशाम थाना में केस दर्ज हुआ था। महम थाना, सदर थाना हांसी, नारनौंद थाना, सिविल लाइन थाना, राजस्थान, सिटी हांसी, सिवानी थाना में लूट,हत्या, पैरोल एक्ट, मादक पदार्थ तस्करी सहित अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज हैं। वहीं, आरोपी रामपाल के खिलाफ तीन-चार केस ही दर्ज हैं।

X
Hisar News - haryana news 50 thousand prized histrifter was not returned from a fat parole jail was caught by stf
COMMENT