• Hindi News
  • Haryana
  • Hisar
  • Hisar News haryana news apart from field and research for agriculture students there are also better opportunities in product development laboratory and robotic science

एग्रीकल्चर स्टूडेंट्स के लिए फील्ड और रिसर्च के अलावा प्रोडक्ट डेवलपमेंट, लेबोरेट्री और रोबोटिक साइंस में भी हैं बेहतर अवसर

Hisar News - चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में कृषि क्षेत्र में रोजगार के नये आयाम विषय पर दो दिवसीय औद्योगिक...

Feb 15, 2020, 07:50 AM IST
Hisar News - haryana news apart from field and research for agriculture students there are also better opportunities in product development laboratory and robotic science

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में कृषि क्षेत्र में रोजगार के नये आयाम विषय पर दो दिवसीय औद्योगिक कॉन्क्लेव का समापन किया गया। इस कॉन्क्लेव के मुख्य अतिथि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. केपी सिंह रहे।

ईटीएच ज्यूरिख विश्वविद्यालय, स्विट्जरलैंड के प्रो. यूजस्टर वर्नर, यूनिवर्सिटी ऑफ कोपेनहेगन, डेनमार्क के डॉ. सोरेन के. रसमुसेन, विशिष्ट अतिथि के तौर पर उपस्थित थें। अनुसंधान निदेशक डॉ. आरएस सहरावत ने आए हुए अतिथियों का स्वागत किया। जहां एक ओर विवि के कुलपति प्रो. केपी सिंह ने शैक्षणिक संस्थानों व औद्योगिक संस्थाओं में साझेदारी के अवसरों की कमी का कारण दोनों पक्षों में विश्वास की कमी को बताया था। तो कार्यक्रम में पहुंचे विभिन्न उद्योगपतियों ने उनकी इस बात से संतुष्टि जाहिर करते हुए विद्यार्थियों को कृषि के क्षेत्र में नए आयामों की जानकारियां दी। कार्यक्रम में कृषि में स्किल डेवलेपमेंट को लेकर स्टूडेंट व अन्य अतिथियों से सुझाव लिए गए। साथ ही कुछ उद्योगपतियों ने यहां पढ़ने वाले बच्चों को इस क्षेत्र में विभिन्न कार्यों व रास्तों से
अवगत करवाया।

विद्यार्थियों को नहीं थी अलग फील्ड की जानकारी

करनाल के बायर लिमिटेड से आए फिल्ड डेवलेपमेंट के मेनेजर तारा चरण ने बताया कि इस कॉनक्लेव में कृषि के क्षेत्र में डेवलप हो चुके रोजगार व उद्योगों के बारे में विद्यार्थियों को जानकारी देने के लिए पहुंचे। स्टूडेंट्स को केवल फील्ड या रिसर्च की नौकरी के बारे में ही पता था। इस प्रोग्राम में वे विद्यार्थियों को अपनी कंपनी में जॉब देने के लिए भी चुनते है इसलिए विद्यार्थियों को इसमें नए रास्तों के बारे में बताया। कृषि के क्षेत्र में न केवल कृषक बनने व टीचर बनने के अलावा प्रोडक्ट डेवेलंपमेंट, लेबोरेट्री साइंस, सप्लाई चेन, फॉर्मुलेशन टेक्नोलॉजी, डिडीटलाइजेशन, आर्टिफिशयल इंटेलिजेंस, रोबोटिक साइंस जैसे कई डिपार्टमेंट में एग्रीकल्चर स्टूडेंट्स के लिए भरपूर जॉब ऑफर है। इसे समझने के लिए बच्चों के व्यवहार में शालीनता होनी जरूरी है।

कल्पना व परिनील जापान की टोक्यो एग्रीकल्चर युनिवर्सिटी में निशुल्क करेंगी पढ़ाई, एचएयू ने टोक्यो युनिवर्सिटी से साइन किया एमओयू

भास्कर न्यूज | हिसार

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के दो छात्राओं का योग्यता के आधार पर छात्रवृत्ति के तहत स्नातक व स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त करने के लिए जापान की टोक्यो कृषि विश्वविद्यालय में चयन हुआ है। चरखी दादरी के गांव रामनगर निवासी कल्पना यादव एमएससी वनस्पति विज्ञान प्रथम वर्ष की छात्रा व, हिसार के गांव सीसवाल निवासी परिनील बीएससी कृषि 6 वर्षीय की छात्रा का चयन स्टूडेंट एक्सचेंज प्रोग्राम के तहत इस यूनिवर्सिटी में हुआ है। इन प्रोग्राम के तहत छात्राओं को टोक्यो कृषि विश्वविद्यालय, जापान में पूर्णकालिक छात्रवृत्ति प्राप्त करने अवसर प्राप्त हुआ हैं। दोनों छात्राओं को कृषि अनुसंधान और शिक्षा में सहयोग के लिए एचएयू और टोक्यो कृषि विश्वविद्यालय जापान के बीच समझौता ज्ञापन (एमओयू) के तहत चुना गया है। चुनी गई दोनों छात्राएं ग्रामीण पृष्ठभूमि से है। परिनील बीएससी कृषि की छात्रा के रूप में अंतर्राष्ट्रीय कृषि और खाद्य अध्ययन के संकाय में अध्ययन करेगी और कल्पना यादव एमएससी प्रथम वर्ष, वनस्पति विज्ञान, की छात्रा के रूप में ऊष्णकटिबंधीय बागवानी विज्ञान की प्रयोगशाला में हाइड्रोपोनिक्स विषय पर अपना शोध कार्य करेगीं। इन दोनों छात्राओं को टोक्यो यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर द्वारा साल में 11 महीने के लिए 45000 येन की स्कॉलरशिप देगा और उनका रहना और खाना भी फ्री रहेगा। कुलपति प्रो. केपी सिंह ने कहा कि विद्यार्थियों का सर्वांगीण विकास हमारे लिए सदैव सर्वाेपरि रहा है। विश्वविद्यालय द्वारा भविष्य में भी और अधिक विद्यार्थियों और शिक्षकों को शिक्षा और अनुसंधान के लिए विभिन्न देशों में भेजा जाएगा, ताकि विश्वविद्यालय के छात्र व शिक्षक अंतर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा के युग में अपने कौशल को निखार सकें। दोनों चयनित छात्राओं को उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं और विदेश में रहने और अध्ययन के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी दी। इस मौके पर डॉ. आरके झोरड़, एवं को-ऑर्डिनेटर इंटरनेशनल अफेयर्स, डॉ. दलविंद्र पाल सिंह मौजूद रहे।

तारा चरण।

X
Hisar News - haryana news apart from field and research for agriculture students there are also better opportunities in product development laboratory and robotic science

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना