• Hindi News
  • Haryana
  • Hisar
  • Hisar News haryana news chief minister will churn with farmers and scientists on pre budget from today

मुख्यमंत्री प्री-बजट पर किसान और वैज्ञानिकों के साथ आज से करंेगे मंथन

Hisar News - सुशील भार्गव | राजधानी हरियाणा हरियाणा में अबकी बार आम बजट से ठीक पहले आम राय लेकर नई परंपरा शुरू होने जा रही है।...

Jan 16, 2020, 07:45 AM IST
Hisar News - haryana news chief minister will churn with farmers and scientists on pre budget from today
सुशील भार्गव | राजधानी हरियाणा

हरियाणा में अबकी बार आम बजट से ठीक पहले आम राय लेकर नई परंपरा शुरू होने जा रही है। बजट सीएम को पेश करना है, क्योंकि वित्त मंत्रालय उन्हीं के पास है। सीएम बजट पेश करने से पहले मुख्य विभागों के लोगो से चर्चा कर रहे हैं। इन लोगांे में सबसे बड़ा वर्ग किसान है।

प्रदेश में 16.17 लाख किसान परिवार हैं, सीएम किसानों, वैज्ञानिकों, को-आप्रेटिव से जुड़े लोगों, दुग्ध व्यवसाय करने वालों, बागवानी करने वाले किसानों, से राय लेकर अबकी बार बजट में किसानों के लिए योजनाएं बनाएंगे। कुल मिलाकर सीएम विभिन्न व्यवसायों व विभागों के साथ जुड़े महत्वपूर्ण व्यक्तियों के साथ चर्चा करेंगे। उनसे जानेंगे कि किस तरह की योजनाएं बनाई जाएं, जिससे किसानों की आय में बढ़ोत्तरी हो सके। इन सभी को को 16 जनवरी को चौ. चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार में आमंत्रित किया गया है।

चौ. चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार यह आयोजन होगा। सीएम के साथ बैठक में किसानों के अलावा सैकड़ों ऐसे वैज्ञानिक भी मौजूद रहेंगे, जो कृषि व बागवानी से जुड़े हुए हैं। वे भी अपनी राय सीएम को देंगे, ताकि किसी तरह की कसर बाकी न रहे। यही नहीं बीमा कंपनी के प्रतिनिधि, हरको बैंक प्रतिनिधि, खाद सप्लाई देने वाली कंपनी के प्रतिनिधि, नाबार्ड प्रतिनिधि, कीटनाशक बनाने वाली कंपिनयों के प्रतिनिधि भी सीएम के साथ मौजूद होंगे। कृषि विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजीव कौशल ने बताया कि सीएम मनोहर लाल 16 जनवरी को विश्वविद्यालय में सीएम किसान व वैज्ञानिकों के साथ प्री-बजट चर्चा करेंगे। इस दौरान वे किसानों सहित सभी से फीडबैक लेंगे, साथ ही वैज्ञानिक भी अपना फीडबैक देंगे। इसकी तैयारी के लिए आदेश हुए हैं, विश्वविद्यालय में तैयारी चल रही हैं।

पहली बार किसानों से बजट के लिए मांगी राय, ताकि बन सके योजनाएं

बागवानी व पशुपालन पर भी होगी चर्चा

प्री बजट की बैठक में सीएम के साथ बागवानी एवं पशुपालन से जुड़े व्यक्तियों के साथ भी चर्चा होगी। प्रदेश में कृषि कार्य के साथ ही प्रदेश के किसानों के पास 90 लाख के करीब पशु भी हैं, जो किसानों की आजीविका का साधन हैं। प्रति व्यक्ति दूध उपलब्धता में हरियाणा देश में पंजाब के बाद दूसरे स्थान पर है। जबकि प्रदेश मंे करीब 5.25 लाख हेक्टेयर में बागवानी भी की जाती है। यही नहीं जल बचाने पर भी मंथन किया जाएगा। किन किस्मों को उगाकर किसान जल बचा सकते हैं, धान का बड़ा विकल्प क्या हो सकता है, यह विषय भी शामिल होंगे।

प्रदेश में करीब 36 लाख हेक्टेयर है कृषि भूमि

हरियाणा में करीब 36 लाख हेक्टेयर में कृषि भूमि है। रबी में करीब 33 लाख हेक्टेयर में खेती होती है। रबी की प्रमुख फसल गेहूं व सरसों है, जबकि खरीफ की प्रमुख फसल धान के अलावा कपास भी है। 26 लाख हेक्टेयर में गेहूं व 14 लाख हेक्टेयर में धान की फसल होती है। 43 लाख किसान व मजदूर प्रदेश में खेती से जुड़े हुए हैं। खास बात यह है कि हरियाणा के बाजार भी खेती से सीधे जुड़े हुए हैं।

प्रदेश से हर साल 75 देशों में जाता है बासमती चावल

हरियाणा से हर साल करीब 75 देशों में बासमती चावल का निर्यात किया जाता है। इनमें अधिकांश देश अरब के हैं, क्योंकि वहां पर हरियाणा के चावल की डिमांड काफी अधिक है। सात लाख हेक्टेयर में हरियाणा के किसान बासमती उगाते हैं, काफी मात्रा में चावल यहां से दूसरे देशों में भेजा जाता है।

X
Hisar News - haryana news chief minister will churn with farmers and scientists on pre budget from today
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना