पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसानों ने बारिश से खराब हुई फसलों के मुआवजे की मांग की

10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शुक्रवार काे हुई तेज बरसात ने किसानों की गेहूं अाैर सरसों की फसल काे पूरी तरह से बर्बाद कर दिया है। फसलें धरती में पसर गई हैं। किसानों ने सरकार से मांग की है। वो उनकी फसलों की गिरदावरी करवाकर उचित मुआवजा दे। नारनौंद क्षेत्र के दर्जनों गांव में शुक्रवार को हुई तेज बारिश से फसलें पूरी तरह से तबाह हो गई। इससे किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें देखने को मिल रही हैं। किसान महामारी के चलते अपने खेतों में भी नहीं जा पा रहें। जब शनिवार को किसान फसल को देखने के लिए खेत में पहुंचे तो गमगीन हो गए। 6 महीने से तैयार की हुई फसल पूरी तरह से बर्बादी के कगार पर है। इस समय फसल में पानी की कोई जरूरत नहीं होती और तेज बारिश ने फसलों को पानी पानी कर दिया है। किसानों की तैयार फसल पानी भरने के कारण धरती में गिर गई। किसानों रामनिवास, सुभाष, गोपी राम, सत्यनारायण ,रामधारी, धर्मवीर, जयवीर इत्यादि ने बताया कि फसल पूरी तरह से पकने के कगार पर पहुंच चुकी है। लेकिन शुक्रवार को हुई बारिश के कारण फसलें धरती में पसर गई हैं। जो दाना तैयार हो रहा था वह नीचे गिरने के कारण काला पड़ जाएगा, जिसके कारण तैयार हुई हुई फसल पूरी तरह से खराब होने के कगार पर पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि किसानों की सरकार से मांग है कि वह तुरंत ही गिरदावरी करवाकर किसानों को 50 हजार रुपये प्रति एकड़ मुआवजा देने का ऐलान करें।

इधर, तेज हवाओं से नेट हाउस फसल बर्बाद, लाखों का नुकसान

सुलखनी | खानपुर गांव में तेज हवाओं की वजह से नेट हाउस फसल बर्बाद हो गई। किसान बलजीत संजय ने बताया कि 3 महीने पहले नेट हाउस की फसल लगाई गई थी।जिस वजह से ढाई से तीन लाख का नुकसान हो गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर जमीन जायदाद संबंधी कोई काम रुका हुआ है, तो आज उसके बनने की पूरी संभावना है। भविष्य संबंधी कुछ योजनाओं पर भी विचार होगा। कोई रुका हुआ पैसा आ जाने से टेंशन दूर होगी तथा प्रसन्नता बनी रहेगी।...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser