फसलाें की मार्केटिंग न कर पाने वाले किसानों की मदद करेगा एचएयू

Hisar News - एचएयू के गृह विज्ञान महाविद्यालय के ऑडिटोरियम में बुधवार काे राष्ट्रीय स्तर का दो दिवसीय नेशनल इन्क्यूबेटर्स...

Jan 16, 2020, 07:45 AM IST
Hisar News - haryana news hau will help farmers who are not marketing crops
एचएयू के गृह विज्ञान महाविद्यालय के ऑडिटोरियम में बुधवार काे राष्ट्रीय स्तर का दो दिवसीय नेशनल इन्क्यूबेटर्स कोलोक्वियम आयोजित किया गया। इसमें हरियाणा के कृषि व किसान कल्याण पशुपालन एवं डेयरी, मत्स्य एवं कानून मंत्री जय प्रकाश दलाल मुख्य अतिथि रहे। एचएयू के पदाधिकारियों ने कहा कि जाे किसान अपनी फसलाें और प्राेडक्ट की मार्केटिंग नहीं कर पाते उनका साथ दिया जाएगा। उनकी हर स्तर से मदद का प्रयास किया जाएगा। सेमिनार में विशिष्ट अतिथि के तौर पर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फूड टेक्नोलॉजी एंटरप्रेन्योरशिप एंड मैनेजमेंट (निफ्टम), सोनीपत के कुलपति, डॉ. चिंदी वासुदेवप्पा उपस्थित रहे। समारोह की अध्यक्षता एचएयू के कुलपति प्रो. के.पी. सिंह ने की। कृषि मंत्री ने द्वीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ िकया।

इस अवसर पर उन्हाेंने कहा कि कृषि विश्वविद्यालय में शुरू किया गया एग्री बिजनेस इन्कयूबेशन सेंटर कृषि आधारित नए उद्यमों को शुरू करने की दिशा में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। यह केवल व्यवसायिक ही नहीं बल्कि सामाजिक बदलाव का भी वाहक बन रहा है। इस अवसर पर आयोजित एबिक के द्वारा स्थापित स्टार्टअप की प्रदर्शनी का उद्घाटन व अवलोकन किया।

कृषि मंत्री जयप्रकाश दलाल ने कहा कि एचएयू ने कृषि क्षेत्र को परंपरागत से आधुनिक दिशा में ले जाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। आज कृषि पूरी तरह से तकनीक आधारित हो चुकी है और ग्रामीण युवाओं तक तकनीक का लाभ पहुंचाना बहुत आवश्यक है। उन्होंने नव-उद्यमियों से आह्वान किया कि वे अपने नए विचारों से कृषि आधारित उद्योगों को नई ऊंचाइयां प्रदान करें और इसका लाभ किसानों तक जरूर पहुंचाएं।

एचएयू कुलपति प्रो. केपी सिंह ने कहा कि देश में इस प्रकार का पहला आयोजन है, जो कृषि व्यवसाय के लिए उद्यमियों को तैयार करने का प्लेटफार्म उपलब्ध करवा रहा है। उन्होंने कृषि उद्यमियों से आह्वान किया कि वे देश में ऐसा इको-सिस्टम तैयार करें, जिससे भविष्य में नए उद्यमियों को तैयार करने का मार्ग प्रशस्त हो सके। आज देश को नौकरी मांगने वाले नहीं बल्कि नौकरी देने वाले युवाओं की जरूरत है। उन्होंने बताया कि हरियाणा सरकार के इस एकमात्र इन्कयूबेशन सेंटर में नए उद्यमियों को हर वो सुविधा एक ही छत के नीचे उपलब्ध करवाई जा रही है जोकि उनके आइडिया को धरातल पर उतारने के लिए जरूरी हैं। उन्होंने यह भी कहा कि कृषि क्षेत्र से जुड़े शोधार्थी व विद्यार्थी जहां अभी तक जॉब लेने की लॉइन मे होते थे अब वह जॉब देने की श्रेणी में आ सकेंगे। कार्यक्रम में गेस्ट ऑफ ऑनर के रूप में शामिल हुए निफ्टेम, सोनीपत, के कुलपति डॉ. सी. वासुदेवप्पा ने भी स्टार्ट-अप्स को सफलता प्राप्त करने के नए मंत्र दिए। उन्‍होंने कहा कि कृषि को व्यवसाय व मार्केटिंग से जोड़कर किसानों की आय दोगुनी करना बहुत आसान है। आज कृषि में लेबर की भागीदारी कम करने और तकनीक की भागीदारी को बढ़ाने की जरूरत है।

एचएयू में अायाेजित दो दिवसीय नेशनल इन्कूबेटर कोलोक्वियम में विचार रखते अारसीईडी चंडीगढ़ के डायरेक्टर परमजीत सिंह।

बेटी काे दूध से इंफेक्शन हुअा ताे लुधियाना की ज्याेति ने बनाने शुरू किए केमिकल फ्री और बिना दूध के खाद्य पदार्थ, चार राज्यों में डिमांड, हर माह कमा रही साठ हजार

केमिकल फ्री प्राेडक्ट तैयार करने वाली लुधियाना की ज्याेति गंभीर।

पति बिजनेसमैन फिर भी करते हैं पूरा सहयाेग

ज्याेति ने बताया कि उसके पति गुरप्रेम सिंह बिजनेसमैन हैं मगर उसका पूरा सहयाेग करते हैं। पति के सहयाेग से ही वह खाद्य पदार्थ काे विभिन्न राज्यों तक पहुंचाने में सफल हाे सकी है। यदि मन में कुछ ठान लिया जाए ताे सफलता अवश्य मिलती है। ज्याेति ने बताया कि बिना दूध से चाॅकलेट, शक्कर से बर्फी तैयार की जाती है। इसमें शक्कर और गुड का प्रयाेग किया जाता है। इसके अलावा काजू और अन्य खाद्य पदार्थ इसमें डाले जाते हैं। इसके अलावा जैम, मल्टीग्रेन कूकी और फ्रूट से भी खाद्य पदार्थ तैयार किए जाते हैं।


फ्लेवर्ड गन्ने के रस का भी स्वाद चखा

कृषि मंत्री ने एचएयू में लगाई प्रदर्शनी का जायजा लिया। यही नहीं फ्लेवर्ड गन्ने के रस का भी स्वाद चखा। इसके अलावा सब्जी, खाद्य अादि के बारे में जानकारी हासिल की। इसके अलावा पुस्तिका का भी विमोचन किया गया। इस अवसर पर राबी के पी-आई, डॉ. आरके जोरड़, नोडल अधिकारी डॉ. सीमा, डॉ. नीरू भूषण, नीति आयोग के सलाहकार, डॉ. राज भण्डारी, पीवीसी, शालिनी गुप्ता, बलजीत रेढू, तेजस्वी भार्गव विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार, ओएसडी, सभी डीन, डायेरक्टर, विभागाध्यक्ष, अधिकारी और छात्र माैजूद रहे।

Hisar News - haryana news hau will help farmers who are not marketing crops
X
Hisar News - haryana news hau will help farmers who are not marketing crops
Hisar News - haryana news hau will help farmers who are not marketing crops
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना