• Hindi News
  • Haryana
  • Hisar
  • Hisar News haryana news it is important to have solitude in life so that wisdom is pure and self respecting

जीवन में एकांत का होना जरूरी जिससे प्रज्ञा शुद्ध और आत्मस्वरूप का हाेता है स्मरण

Hisar News - मुक्ति मरणोपरान्त नहीं अपितु जीवन के रहते ही होनी चाहिए। जीवन मुक्ति का मार्ग केवल और केवल सच्चे संत ही बता सकते...

Dec 16, 2019, 07:46 AM IST
Hisar News - haryana news it is important to have solitude in life so that wisdom is pure and self respecting
मुक्ति मरणोपरान्त नहीं अपितु जीवन के रहते ही होनी चाहिए। जीवन मुक्ति का मार्ग केवल और केवल सच्चे संत ही बता सकते हैं।

ये उद्गार श्रीहित अम्बरीष महाराज ने अग्रसेन भवन में रविवार काे आयोजित त्रिदिवसीय सत्संग के अंतिम दिन ‘भजन मार्ग’ विषय पर उपस्थित श्रद्धालुओं को संबाेधित करते हुए व्यक्त किए। उन्हाेंने कहा कि संत की वाणी जीवन की गुत्थी सुलझाने में सहायक होती है। प्रत्येक जीव का जीवन सुख-दुख मेें परिपूरित होता है। इससे छुटकारा पाने के लिए जीव जीवन भर प्रयासरत रहता है। ये सुख दुख जीव के अपने किए कर्मों पर आधारित होते हैं। महाराजश्री ने कहा कि संत जीव को सदाचार के मार्ग पर ले जाते हंै। उसके मन रूपी दर्पण पर पड़ी धूल को साफ कर उसे निर्मल कर देते हैं। महाराजश्री ने कहा कि व्यक्ति के जीवन में एकांत का होना अत्यंत जरूरी है। एकांत से ही उसकी प्रज्ञा शुद्ध होती है, जिससे उसको आत्मस्वरूप का स्मरण होता है। आत्मस्वरूप का अाह्वान किए बिना प्रभु को पाना असम्भव है। संत के पास जाकर कभी भी संसार न मागें। मात्र वही संत आशीर्वाद देने के अधिकारी होते हैं, जिसका स्वयं का आचरण शुद्ध होता है। अनुशासित एवं संयमित होता है, क्योंकि जहां धर्म है वहां सदाचार और सत्य परायणता का होना निश्चित है। उन्हाेंने भारतीय संस्कृति समाज एवं राष्ट्र की सुरक्षा हेतु मातृशक्ति का आह्वान करते हुए कहा कि अगर एक मां चाहे तो वह अपनी संतान को संस्कारवान बना सकती है। आज का युवा वर्ग पाश्चात्य संस्कृति के प्रभाव से ग्रसित होकर अपने मार्ग से भटक रहा है। उनको संयमित करने के लिए मातृशक्ति का योगदान अपेक्षित है। जीवन में मर्यादा का होना अनिवार्य है, क्योंकि एक मर्यादित व्यक्ति ही सदाचारी हो सकता है। संत की वाणी जीव को कर्तव्य पालन के लिए अग्रसर करती है। जीव को सदा संतों की सन्निधि में रहकर उनके द्वारा दिए गए सूत्रों का मनन व चिन्तन करना चाहिए।

श्रीहित अम्बरीष महाराज।

अग्रसेन भवन में श्रीहित अम्बरीष के प्रवचन सुनते श्रद्धालुगण।

Hisar News - haryana news it is important to have solitude in life so that wisdom is pure and self respecting
X
Hisar News - haryana news it is important to have solitude in life so that wisdom is pure and self respecting
Hisar News - haryana news it is important to have solitude in life so that wisdom is pure and self respecting
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना