• Hindi News
  • Haryana
  • Hisar
  • Hisar News haryana news read the news of 16 thousand deaths from the brain tumor on the internet and created a more effective software than the mri machine of rs 80 lakhs

इंटरनेट पर ब्रेन ट्यूमर से 16 हजार मौतों की खबर पढ़ी तो 80 लाख रुपए की एमआरआई मशीन से अधिक कारगर सॉफ्टवेयर बनाया

Hisar News - इंटरनेट पर भारत में हर वर्ष ब्रेन ट्यूमर से 16 हजार लोगों की मौत की खबर पढ़ी तो हिसार के रेलवे रोड निवासी हीरक ने ऐसा...

Bhaskar News Network

Feb 14, 2019, 04:22 AM IST
Hisar News - haryana news read the news of 16 thousand deaths from the brain tumor on the internet and created a more effective software than the mri machine of rs 80 lakhs
इंटरनेट पर भारत में हर वर्ष ब्रेन ट्यूमर से 16 हजार लोगों की मौत की खबर पढ़ी तो हिसार के रेलवे रोड निवासी हीरक ने ऐसा सॉफ्टवेयर तैयार कर दिया जो 80 लाख रुपये तक आने वाली एमआरआई मशीन से भी अधिक कारगर है। जीजेयू में बुधवार को साइंस कॉनक्लेव 2019 में हीरक शर्मा, शिवम सिंगल व अमन ने टू स्टेप नाम के सॉफ्टवेयर के पहले वर्जन काे प्रेजेंट किया। यह सॉफ्टवेयर 100 में से 70 प्रतिशत माइंड के फीचर काे दिखाता है जिससे आसानी से ब्रेन ट्यूमर का पता लगाया जा सकता है। वहीं एमआरआई में सिर्फ माइंड के 50 प्रतिशत फीचर का पता चलता है, जिससे कई बार ट्यूमर की सही जानकारी डॉक्टर भी नहीं लगा पाते, इससे डॉक्टर मरीजों को भी ट्यूमर की सही स्थिति नहीं बता पाते। इसके जरिये ब्रेन ट्यूमर, स्टमक, लंग कैंसर सहित बॉडी में किसी भी जगह कैंसर का पता लगाने में मदद मिल सकती है।

सबसे पहले एमआरआई स्कैन कॉपी को जेपीजी सॉफ्टवेयर में डाला जाता है। यह सॉफ्टवेयर सिर्फ आउटलाइन वाली इमेज बनाता है। इस इमेज को आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस सॉफ्टवेयर में भेजा जाता है तो यह ट्यूमर व माइंड के फीचर को दिखाता है। इस सॉफ्टवेयर के जरिये ट्यूमर किस स्टेज में इसका भी पता लगा सकते हैं। मैथमेटिकल मैट्रिक्स को कॉनविलेशन करके हम एक साधारण इमेज से एक ऐसी इमेज जिसमें सिर्फ आउटलाइन दिखे इसमें कन्वर्ट कर सकते हैं। उदाहरण के तौर पर हम एमआईआर की आउटलाइन वाली इमेज को आर्टीफिशियल इंटेलीजेंस में भेजते हैं, यह इंसानों की तरह एनालिसिस करती है। आउटलाइन वाली इमेज को देखकर यह ब्रेन ट्यूमर को डायग्नोस करती है।

X
Hisar News - haryana news read the news of 16 thousand deaths from the brain tumor on the internet and created a more effective software than the mri machine of rs 80 lakhs
COMMENT