--Advertisement--

नॉरकोटिक्स टीम से हाथापाई कर स्मैक तस्करी के आरोपी इमरान को छुड़ाया

बस स्टैंड से सवा किलो स्मैक सहित सप्लायर के पकड़े जाने के मामले में पुलिस मुख्य आरोपी इमरान तक पहुंच गई। पुलिस की...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 03:16 AM IST
Hansi - narcotics team scrambled to rescue imran accused of smuggling
बस स्टैंड से सवा किलो स्मैक सहित सप्लायर के पकड़े जाने के मामले में पुलिस मुख्य आरोपी इमरान तक पहुंच गई। पुलिस की नारकोटिक्स टीम ने बाराबंकी के टीकरा गांव से इमरान को हिरासत में ले लिया। मगर उसके साथियों और महिलाओं ने टीम के सदस्यों से हाथापाई कर उसे छुड़वा लिया। टीम ने हालांकि उत्तर प्रदेश पुलिस को साथ लेकर उसे हिरासत में लिया था। बहरहाल, पुलिस की नारकोटिक्स टीम बैरंग लौट आई। उत्तर प्रदेश की पुलिस ने इमरान पर दर्ज कर लिया।

3 नवंबर को नारकोटिक्स टीम ने एक किलो 250 ग्राम स्मैक के साथ यूपी के लखनऊ निवासी आरोपी अरविंद को गिरफ्तार किया था। वह एक प्राइवेट बस में सवार होकर बरवाला से हांसी आया था। गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस बस स्टैंड पर पहुंची और बस से उतरते ही उसे गिरफ्तार कर लिया था। उसके बैग से पुलिस को सवा किलो स्मैक बरामद हुई। पुलिस ने मामला दर्ज कर उसे अदालत में पेश किया। अदालत ने उसे दस दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा। रिमांड के दौरान उसने कई जानकारियां दीं। पुलिस की पूछताछ में अरविंद ने बताया कि वह बाराबंकी के टीकरा गांव के इमरान के कहने पर स्मैक सप्लाई करता था। उससे इमरान के ठिकाने की जानकारी मिलने पर नारकोटिक्स टीम इंचार्ज कटार सिंह की अगुवाई में टीम बाराबंकी गई। उत्तर प्रदेश के जैदपुर थाने की पुलिस को साथ लेकर संयुक्त रूप से कार्रवाई की। टीम ने टीकरा गांव से इमरान को उसके घर से हिरासत में ले लिया। उसे हिरासत में लेते ही लोग इकट्ठे हो गए और टीम के सदस्यों से हाथापाई करनी शुरू कर दी। मारपीट करने वालों में महिलाओं भी शामिल रहीं। मौके का फायदा उठा कर इमरान फरार होने में कामयाब हो गया। टीम ने इसके बाद भी प्रयास किए, लेकिन इमरान हाथ नहीं आया। जिसके कारण टीम को वहां से लौटना पड़ा। टीम की शिकायत पर जैदपुर थाने में इमरान के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

शनिवार को सवा किलो स्मैक सहित पकड़ा गया अरविंद। फिलहाल वह पुलिस रिमांड पर है।

अफसरों ने साधी चुप्पी

बाराबंकी में हरियाणा पुलिस की टीम के साथ हाथापाई और आरोपी को छुड़वाने की घटना को लेकर पुलिस अधिकारी किसी तरह की टिप्पणी करने के लिए तैयार नहीं हुए।

यूपी के लखनऊ से जुड़े हैं सप्लायरों के तार

इलाके में स्मैक की सप्लाई के ज्यादातर तार लखनऊ से जुड़े हुए हैं। दो दिन पहले सीआईए ने दो किलो स्मैक के साथ राजथल के सचिन उर्फ शीशन को हिरासत में लिया था। सचिन पांच दिन के पुलिस रिमांड पर है। पुलिस की पूछताछ में पता लगा कि दिल्ली के सफदर अली ने स्मैक की सप्लाई के लिए सचिन को भेजा था। टीम सफदर अली के पीछे गई तो पता लगा कि वह लखनऊ चला गया है। सफदर दिल्ली के एक होटल से स्मैक का कारोबार करता था। अब इस मामले के तार लखनऊ से जुड़ रहे हैं। नारकोटिक्स टीम ने मई में रामायण टोल प्लाजा से एक आरोपी मोहम्मद आफताब को 3 किलो 350 ग्राम स्मैक के साथ हिरासत में लिया था। मोहम्मद आफताब भी मूल रूप से लखनऊ के पास का रहने वाला था। इस दौरान तीन आरोपी फरार हो गए थे। वह भी लखनऊ के रहने वाले हैं।

X
Hansi - narcotics team scrambled to rescue imran accused of smuggling
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..