हिसार / शिक्षा के स्तर में सुधार के लिए एनसीईअारटी हरियाणा में भी खाेलेगा अपना रीजनल सेंटर



NCERT will also make its regional center in Haryana
X
NCERT will also make its regional center in Haryana

  • एनसीईआरटी ने प्रदेश के जिलों में मांगी 50 एकड़ भूमि

Dainik Bhaskar

Jul 06, 2019, 01:41 AM IST

हिसार (वैभव शर्मा). एनसीईअारटी यानि राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद हरियाणा में भी वर्षाें बाद अपना रीजनल इंस्टीट्यूट खाेलने जा रहा है। इसके लिए उन्हाेंने हिसार सहित विभिन्न जिलाें के उपायुक्ताें से 50 एकड़ भूमि मांगी है। इसमें साेनीपत अाैर रेवाड़ी काे छाेड़ दिया गया है। एेसे में हिसार में इस जमीन काे लेकर खाेजबीन की तैयारी की जा रही है। मामले काे गंभीरता से लिया जा रहा है। प्रशासन का उद्देश्य है कि वह हिसार में जमीन उपलब्ध कराएं ताकि हिसार काे राष्ट्रीय स्तर पर भी पहचान मिल सके। 

 

अापकाे बता दें कि एनसीईअारटी का दिल्ली में मुख्यालय है, जहां से समूचे देश में शिक्षकाें की ट्रेनिंग का स्तर, पाठ्यक्रम, रिसर्च, भाषा में सुधार जैसे कार्य राष्ट्रीय स्तर के सिनेरियाे से किए जाते हैं। मगर एनसीईअारटी की पहुंच हर राज्य अाैर हर शिक्षक तक नहीं है, एेसे में पिछले लंबे समय से इस संस्थान काे विस्तृत करने की बात चल रही थी। इसके लिए कुछ प्रयास भी पूर्व में हुए, एनसीईअारटी ने 5 रीजनल सेंटर भी खाेले। इन सेंटर में एक भाेपाल में, अजमेर, भुवनेश्वर, मैसूर अाैर एक नाॅर्थ ईस्ट में शिलाेंग में माैजूद है। हरियाणा में यह छठवां रीजनल सेंटर हाेगा। नई शिक्षा नीति अाने के बाद से इन सेंटराें काे बढ़ाने का काम एनसीईअारटी के जिम्मे है जाेकि अब शुरू हाे चुका है। 

 

प्रदेश में एनसीईअारटी के सेंटर से हाेगा लाभ
शिक्षा के स्तर में सुधार अाैर शिक्षकाें के पढ़ाने के तरीकाें में अमूलचूल परिवर्तन के लिए एनसीईअारटी की तर्ज पर एससीईअारटी राज्य में कुछ वर्ष पहले स्थापित किया गया। मगर शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े रहे जानकार बताते हैं कि यह अपने उद्देश्याें में उतना सफल नहीं हुअा जितने की उम्मीद थी। एेसे में अगर एनसीईअारटी का रीजनल सेंटर हरियाणा में बनेगा ताे शिक्षा, शिक्षक अाैर भाषाई स्तर पर सुधार में बड़ा मील का पत्थर साबित हाेगा।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना