--Advertisement--

इनेलो में रार / पुरखों से चली आ रही परंपरा टूटी, दोनों भाई अजय-अभय ने अलग-अलग मनाई दीपावली



तेजाखेड़ा फार्म हाउस में कार्यकर्ताओं से दीपावली की रामरमी करते हुए नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला। तेजाखेड़ा फार्म हाउस में कार्यकर्ताओं से दीपावली की रामरमी करते हुए नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला।
गांव चौटाला में अपने दादा स्व. देवीलाल की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर आशीर्वाद लेते हुए डॉ. अजय चौटाला। गांव चौटाला में अपने दादा स्व. देवीलाल की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर आशीर्वाद लेते हुए डॉ. अजय चौटाला।
X
तेजाखेड़ा फार्म हाउस में कार्यकर्ताओं से दीपावली की रामरमी करते हुए नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला।तेजाखेड़ा फार्म हाउस में कार्यकर्ताओं से दीपावली की रामरमी करते हुए नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला।
गांव चौटाला में अपने दादा स्व. देवीलाल की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर आशीर्वाद लेते हुए डॉ. अजय चौटाला।गांव चौटाला में अपने दादा स्व. देवीलाल की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर आशीर्वाद लेते हुए डॉ. अजय चौटाला।

  • चौटाला परिवार विवाद दुष्यंत-दिग्विजय को पार्टी से निष्कासित करने के बाद से दो गुटों में बंटे अजय और अभय के परिवार

Dainik Bhaskar

Nov 09, 2018, 03:19 PM IST

सिरसा। चौटाला परिवार में पुरखों से चली आ रही परपंरा अबकी बार टूट गई। दोनों भाई इनेलो महासचिव अजय चौटाला और नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला सिरसा में ही थे, लेकिन दोनों परिवारों ने अलग-अलग दीपावली मनाई। यही नहीं जबकि अगले रोज की राम-राम भी नहीं हो पाई। 

 

अजय गुरुवार सुबह गांव चौटाला में गए और वहां दादा स्व. देवीलाल के समाधि स्थल पर माथा टेका, लेकिन तेजाखेड़ा फार्म हाउस नहीं गए, जहां नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला आए हुए थे। चौटाला गांव में ग्रामीणों और पार्टी कार्यकर्ताओं से अजय चौटाला ने मुलाकात करते हुए दीपावली की रामरमी भी की। उधर, अभय ने भी तेजाखेड़ा फार्म हाउस में आए कार्यकर्ताओं से मुलाकात की।

 

अजय-अभय की मां स्नेहलता चौटाला हॉस्पिटलाइज होने की वजह से दिल्ली में रहीं। अजय बताया कि हमने सिरसा में चौटाला हाउस में दीपावली पूजन किया। उनके साथ पत्नी विधायक नैना चौटाला, बेटे दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय चौटाला समेत परिवार के अन्य सदस्य भी थे। अजय चौटाला नई अनाज मंडी में अपनी दुकान नंबर 15 में भी गए और वहां भी दीपावली पूजन किया।

 

अजय बोले- दुष्यंत-दिग्विजय दोषी कैसे, गैरप्रजातांत्रिक तरीका अपनाया 
डॉ. अजय चौटाला ने कहा कि दुष्यंत चौटाला और दिग्विजय सिंह को एक तरफ अनुशासनहीनता का नोटिस दिया गया, दूसरी तरफ उसी मंच से कहा कि कुछ पेड कांग्रेसी यहां माहौल बिगाड़ने के लिए आए हैं। जब ये आइडेंटिफाई कर लिया कि पेड कांग्रेसी आए हैं तो दुष्यंत और दिग्विजय कैसे दोषी हुए। उन पर क्या चार्ज थे, क्या एक्शन बनता था। सब गैरप्रजातांत्रिक तरीके से किया गया। अजय ने कहा कि न युवा इनेलो भंग हुआ और न इनसो। अंतिम निर्णय 17 नवंबर को जींद में लिया जाएगा।

 

दुष्यंत बोले- दो सप्ताह में लोगों से रायशुमारी कर लेंगे बड़ा फैसला
सांसद दुष्यंत चौटाला ने चौटाला हाउस में कहा कि मैं जन्म से ही लोकदलीय हूं, मुझे कांग्रेसी बताना निंदनीय है। इनेलो के राष्ट्रीय प्रदेश महासचिव डॉ. अजय चौटाला ने इनेलो की प्रदेश कार्यकारिणी की मीटिंग बुलाई है। इस बीच अगले दो हफ्ते में जनता से रायशुमारी कर जींद में अजय बड़ा ऐलान करेंगे।

 

जेएनएसडी में 8 मीडिया पेनलिस्ट बनाए, नैना 16 को अभय के विस क्षेत्र में करेंगी जनसभा
जन नायक सेवा दल के जरिए दुष्यंत चौटाला के लिए प्रदेश में ग्राउंड तैयार करने की तैयारी है। इनेलो में आंतरिक कलह के बीच अब जननायक सेवा दल और सक्रिय किया जाएगा। यही दल जल्द पार्टी में भी बदल सकता है। पिछले दिनों इसमें उपाध्यक्ष व महासचिव नियुक्त किए थे। गुरुवार को इस दल ने 8 मीडिया पेनलिस्टों की घोषणा कर दी। इनमें प्रदीप देशवाल, मनदीप बिश्नोई, अजय गुलिया, अरविंद भारद्वाज, बलराम, विवेक चौधरी, दिनेश अग्रवाल, दलबीर शामिल हैं। ये सभी काफी समय से पार्टी व इनसो से जुड़े थे।

 

नैना चौटाला ने 16 नवंबर को अभय चौटाला के विधानसभा क्षेत्र ऐलनाबाद में जाकर हरी चुनरी चौपाल आयोजित करने का फैसला किया है। ताजा हालातों के बाद दक्षिण हरियाणा में राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। सूत्रों का कहना है कि दिग्विजय चौटाला ऐलनाबाद में हरी चुनरी चौपाल के प्रभारी होंगे। वे इस हलके के विभिन्न गांवों का दौरा कर सकते हैं।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..