पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जाट समाज ने दी सिनेमा के घेराव की चेतावनी तो सिनेमा संचालक ने हटाई फिल्म

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • पानीपत फिल्म के विरोध में चौपटा तहसीलदार के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

सिरसा। फिल्म निर्देशक आशुतोष गोवारिकर की फिल्म पानीपत के  हो रहे विरोध का असर सिरसा में भी देखने का मिला। सोमवार को जाट आरक्षण समिति के पदाधिकारियों ने फिल्म पानीपत का विरोध करते हुए सिरसा के ओएचएम सिनेमा संचालक को  चेतावनी दी है। वहीं फिल्म के प्रति जाट समाज में रोष को देखते हुए ओएचएम सिनेमा के संचालक पंकज खेमका ने शाम को 5 बजे के बाद फिल्म को सिनेमा से हटा दिया है। 


उन्होंने कहा कि जब लोग ही फिल्म का विरोध कर रहे है तो वे फिल्म नहीं चलाएंगे। जिला प्रशासन का मैसेज मिल गया है। इसलिए फिल्म को बंद कर दिया है। इधर मीटिंग की अध्यक्षता कर रहे समिति के जिलाध्यक्ष विनोद ढाका और रणधीर जोधकां ने कहा कि फिल्म पानीपत में जाट समाज के आदर्श महाराज सुरजमल को लालची दिखाया गया है। जो उनके चरित्र और इतिहास के साथ फिल्म निर्देशक की ओर से सीधी छेड़छाड़ है। इसे जाट समाज कभी बर्दाश्त नहीं करेगा। हम फिल्म का विरोध करते है। इसलिए सिरसा के एकमात्र सिनेमा में चल रही इस फिल्म को हटाने की मांग करते है। 


अगर सिनेमा संचालक सोमवार शाम तक फिल्म नहीं हटाता है तो मंगलवार को 11 बजे सिनेमा का घेराव किया जाएगा। रणधीर जोधकां ने कहा कि फिल्म में महाराज सुरजमल का चित्रण मनगढंत तरीके से करना अशोभनीय है। इससे जाट समाज में पूरा रोष है। जिला में फिल्म का पूरा विरोध किया जाएगा। सभी हालातों की जिम्मेदारी जिला प्रशासन की रहेगी।

फिल्म के विरोध में चौपटा तहसीलदार के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन
वहीं चौपटा के तहसीलदार के माध्यम से क्षेत्र के जाट समाज के युवाओं ने एक ज्ञापन मुख्यमंत्री हरियाणा को भेजकर फिल्म पर बैन लगाने की मांग की है। इससे पूर्व युवाओं ने तहसील परिसर में महाराजा सुरजमल अमर रहे, पानीपत फिल्म बैन करो के नारे लगाए। 

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- दिन उन्नतिकारक है। आपकी प्रतिभा व योग्यता के अनुरूप आपको अपने कार्यों के उचित परिणाम प्राप्त होंगे। कामकाज व कैरियर को महत्व देंगे परंतु पहली प्राथमिकता आपकी परिवार ही रहेगी। संतान के विवाह क...

और पढ़ें