पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Hisar
  • Hisar News Randomly Testing Started In The Second Phase On The First Day The Trainers Checked 30 Evm Sets 26 Got Out Of Bad The Commission Had Changed

दूसरे फेज में रैंडमली टेस्टिंग शुरू, पहले दिन ट्रेनर्स ने जांचे 30 ईवीएम सेट, 26 खराब निकलने पर आयोग ने बदला था

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहर की सरकार यानि मेयर और पार्षद चुनाव के लिए इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) की दूसरे फेज में टेस्टिंग शुरू हो गई है। राज्य निर्वाचन आयोग की तरफ से मास्टर ट्रेनरों ने नगर निगम कार्यालय में पहुंची ईवीएम की टेस्टिंग शुरू की। एफएलसी (फर्स्ट लेवल चेकिंग) के बाद अब मास्टर ट्रेनर की टीम ने रैंडमली 30 ईवीएम सैट की जांच की। निगम पहुंची 5 सदस्यीय मास्टर ट्रेनर की टीम के अनुसार पहले दिन जांच में सभी ईवीएम सैट सही पाए गए।

राज्य निर्वाचन आयोग की तरफ से नगर निगम में ईवीएम टेस्टिंग के लिए 5 मास्टर ट्रेनर नियुक्त किए गए। 5 मास्टर ट्रेनर में 3 राजकीय पॉलीटेक्निक हिसार और 2 राजकीय पॉलीटेक्निक आदमपुर से हैं। इनको ईवीएम की रैंडमली टेस्टिंग और बाद में चुनाव में तैनात होने वाले स्टाफ को प्रशिक्षण देने की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

टीम में तरुण शर्मा, संजय कुमार, सुरेश कुमार, गजेंद्र और विवेक दलाल शामिल है। मास्टर ट्रेनर के अनुसार हिसार में निगम चुनाव में प्रयोग होने वाली ईवीएम एम-3 वर्जन की है। पहले की ईवीएम में जहां एक कंट्रोल यूनिट के साथ चार बैलेटिंग यूनिट को जोड़ा जा सकता था, वहीं अब इन नई कंट्रोल यूनिट के साथ 24 बैलेटिंग यूनिट जोड़ी जा सकती है।

12 कंट्रोल यूनिट व 14 बैलेटिंग यूनिट खराब
ईवीएम की कर रहे अफसर।

राज्य निर्वाचन आयोग भेजकर बदलवाया
हिसार में राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से हिसार नगर निगम चुनाव के लिए “मल्टी पोस्ट’ इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) भेजी गई थी। 223022 वोटरों के लिए 230 कंट्रोल यूनिट और 460 बैलेटिंग यूनिट हिसार लाई गई है। फर्स्ट लेवल टेस्टिंग (एफएलटी) में निजी कंपनी की एक्सपर्ट टीम ने ईवीएम की जांच की थी। इसमें 26 ईवीएम खराब मिली थी। कंपनी इंजीनियर की जांच में 12 कंट्रोल यूनिट अौर 14 बैलेटिंग यूनिट खराब मिली हैं, जिन्हें राज्य निर्वाचन आयोग मुख्यालय भेजकर बदलवाया जा चुका है।

टेस्टिंग के बाद स्टाफ की लगेगी वर्कशाॅप
मास्टर ट्रेनरों के अनुसार फर्स्ट लेवल चेंकिंग के बाद अब दूसरे फेज में ईवीएम की रैंडमली टेस्टिंग हो रही है। इसके बाद प्रत्याशियों के चुनाव चिह्न जारी होने के बाद चुनाव के दौरान तैनात होने वाले स्टाफ को ट्रेनिंग दी जाएगी। उन्हें ईवीएम प्रक्रिया की सूक्ष्मता से जानकारी देते हुए ईवीएम की फाइनल सैटिंग की जाएगी। फाइनल-डे से पहले यानि एक दिन पूर्व स्टाफ को चुनाव संबंधी फाइनल दिशा निर्देश देते हुए 16 दिसंबर को चुनाव करवाने का कार्य किया जाएगा।

वोटरों की संख्या
जनसंख्या 367511

कुल वोटर 223022

पुरुष वोटर 118435

महिला वोटर 104587

पोलिंग बूथ 204

निगम चुनाव : पूर्व मेयर सहित 20 से अधिक दावेदारों ने लिया प्रॉपर्टी टैक्स का नो ड्यूज
10 दिसंबर तक निगम प्रशासन वितरित करेगा प्रॉपर्टी टैक्स बिल
हिसार| नगर निगम चुनाव में अपने को योग्य साबित करने की मेयर से लेकर पार्षद पद के दावेदारों में होड़ लग गई है। निगम की हाउस टैक्स शाखा में नामांकन पत्र भरने के लिए मेयर और पार्षद पद के दावेदारों ने अनापत्ति प्रमाण-पत्र (एनओसी) यानि नो-ड्यूज लेने के लिए पहुंच रहे हैं, ताकि चुनाव संबंधी दस्तावेज पूरे कर सके।

गुरुवार को प्रॉपर्टी के टैक्स का भुगतान कर पूर्व मेयर प्रतिनिधि सहित 20 से अधिक पार्षद पद के दावेदारों ने निगम की हाउस टैक्स शाखा से नो-ड्यूज लिया। निगम की हाउस टैक्स शाखा से लेकर नागरिक सेवा केंद्र तक दावेदार लाइन में नजर आए। उधर, शहर में प्रॉपर्टी टैक्स के बिल बांटने को लेकर निगम अफसरों की बैठक हुई। इसमें 10 दिसंबर तक शहर में बिल वितरण की योजना तैयार की, ताकि शहरवासियों से प्रॉपर्टी टैक्स का भुगतान करवाया जा सके।

कंपनी का सर्वर बंद, टैक्स प्रक्रिया मैनुअल शुरू
नगर निगम द्वारा मैनुअल बिल तैयार किए जा रहे हैं। कंपनी का सर्वर बंद कर दिया गया है, क्योंकि सर्वर से जनरेट बिल और यूएलबी का डाटा आपस में मिलान नहीं हो पा रहा है। ऐसे में अब चुनावी नामांकन भरने तक टैक्स भुगतान के लिए आने वालों को मैनुअल बिल तैयार कर दिया जाएगा, ताकि वे भुगतान कर नो-ड्यूज प्राप्त कर सके।

प्रॉपर्टी टैक्स बकायेदारों पर निगम कसेगा शिकंजा, 10 दिसंबर तक शहर में बंटवाए जाएंगे बिल
नगर निगम ने शहर में प्रॉपर्टी टैक्स बकायेदारों पर शिकंजा कसने की तैयारी शुरू कर दी है। इसके लिए बिल वितरण की रणनीति तैयार कर दी है। अगले सप्ताह से ही शहर में बिल वितरण कार्य शुरू हो जाएगा। इसके लिए नगर निगम ने प्लानिंग तैयार की है। फिलहाल निगम ने शहर में प्रोपर्टी टैक्स के बिल वितरण के लिए 10 दिसंबर डेडलाइन तय की है। इस डेडलाइन तक शहर के करीब 1 लाख 35 हजार प्रॉपर्टी मालिकों को बिल वितरित किए जाएंगे।

टैक्स भुगतान के लिए गुरुवार को 20 से अधिक मेयर और पार्षद पद की दावेदारी करने वाले पहुंचे। किसी ने टैक्स भुगतान किया तो किसी ने नो-ड्यूज प्राप्त किया। आगामी समय में टैक्स भुगतान करने वालों और नो-ड्यूज लेने वालों की संख्या और भी बढ़ेगी।- पृथ्वी सिंह, अधीक्षक, प्रॉपर्टी टैक्स शाखा, नगर निगम, हिसार।

खबरें और भी हैं...