हरियाणा / 5 साल पहले तय किराए से ज्यादा लिया 1 रु., रोडवेज विभाग ब्याज समेत 1.32 रु. लौटाने को तैयार



roadways department will pay with interest
X
roadways department will pay with interest

  • गांव असाखेड़ा के यात्री से 2014 में कंडक्टर ने लिए थे 17 के बजाय 18 रुपए
  • जांच में कंडक्टर को दोषी पाया गया और उस पर एक हजार रुपए का जुर्माना लगाया था

Dainik Bhaskar

Jul 12, 2019, 06:52 PM IST

सिरसा (डबवाली). हरियाणा के गांव आसाखेड़ा निवासी बस यात्री श्रवण कुमार तंवर से रोडवेज विभाग ने एक रुपया तय किराए से ज्यादा लिया था। अब विभाग इस राशि को ब्याज समेत यानी 1.32 रुपए लौटाने के लिए तैयार है, लेकिन पीड़ित नकदी के बजाय ऑनलाइन भुगतान पर अड़ा है। हालांकि रोडवेज विभाग ने इसका रास्ता निकाल लिया है।

 

अब विभाग ने यात्री को पत्र भेजकर चेक की व्यवस्था नहीं होने के चलते आरटीजीएस के माध्यम से भुगतान किए जाने का दावा किया है। इसके लिए शिकायतकर्ता से उसका खाता नंबर समेत अन्य जानकारी मांगी गई है। इसके बाद उसे भुगतान कर दिए जाने की उम्मीद है।


शिकायतकर्ता श्रवण कुमार ने बताया कि रोडवेज महाप्रबंधक की ओर से भुगतान के लिए चेक की सुविधा उपलब्ध नहीं हाेने से आरटीजीएस से भुगतान का वादा किया है। इसके लिए जीएम को पासबुक की कॉपी समेत पत्र का जवाब भेज रहे हैं। यात्री ने कहा कि विभाग की ओर से देरी के साथ ही सही, लेकिन उचित निर्णय लिया है। इसका सम्मान करते हुए खाता नंबर की डिटेल रोडवेज विभाग को भेज रहे हैं। इसकी ब्याज व हर्जाने राशि समेत पूरी राशि मिलने की उम्मीद है।

 

2014 में 3 फरवरी काे हरियाणा रोडवेज बस में कंडक्टर मनोज कुमार ने 17 रुपए तय किराए की बजाय बस से नीचे उतारने की धमकी देते हुए जबरदस्ती 18 रुपए वसूल लिए। टिकट भी श्रवण कुमार को दे दी। इसके बाद यात्री ने ज्यादा किराया लेने की शिकायत तत्कालीन रोडवेज जीएम को की। इसकी जांच में कंडक्टर को ज्यादा किराया लेने का दोषी पाया गया। जीएम ने कंडक्टर पर एक हजार रुपए जुर्माना लगाया, लेकिन एक रुपया वापस नहीं लौटाया गया।

 

यात्री ने दोबारा जीएम को शिकायत की। अब 5 साल की पैरवी के बाद विभाग की ओर से उसे एक रुपया वापस करने की प्रक्रिया शुरू की गई है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना