--Advertisement--

मल्टीस्टोरी पार्किंग के ग्राउंड फ्लोर पर निगम बनाना चाहता है दुकानें

29 दिसंबर, 2014 को प्रदेश मुख्यमंत्री मनोहर लाल की हिसार में मल्टीस्टोरी पार्किंग घोषणा के प्रपोजल में फेरबदल होने की...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 03:17 AM IST
Hisar - wants to make corporation on the ground floor of multistore parking
29 दिसंबर, 2014 को प्रदेश मुख्यमंत्री मनोहर लाल की हिसार में मल्टीस्टोरी पार्किंग घोषणा के प्रपोजल में फेरबदल होने की संभावना है। ऐसे में प्रपोजल पर फिलहाल ब्रेक लगता नजर आ रहा है। नगर निगम ने मल्टीस्टोरी पार्किंग बिल्डिंग में ग्राउंड फ्लोर पर दुकानें बनाने पर विचार-विमर्श करते हुए शहरी स्थानीय निकाय हरियाणा यूएलबी की एडवाइजरी कमेटी से राय मांगी है। ऐसे में अब प्रपोजल पर नये सिरे से विचार-विमर्श करते हुए एडवाइजरी स्टाफ प्रोजेक्ट तैयार करेगा। इसके साथ ही गांव ढूंढर के पास सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट की 3 एकड़ जमीन पर लगने वाले डेड एनिमल डिस्पोजल प्लांट प्रोजेक्ट के लिए भी फाइल एडवाइजरी को भेजी है। अब एडवाइजरी स्टाफ से प्रपोजल तैयार होते ही उस पर निर्माण कार्य की आगामी गतिविधियां शुरू होगी।

पार्किंग प्रपोजल में फेरबदल की तैयारी, निगम ने यूएलबी एडवाइजरी को भेजी फाइल

सीएम की घोषणा पूरा करने को एडवाइजरी भेजी फाइल

3 साल 10 महीने 12 दिन पहले सीएम ने हिसार में मल्टीस्टोरी पार्किंग व सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट की घोषणा की थी। जिसे सिरे चढ़ाने के लिए आज तक कागजी औपचारिकताएं की जा रही हैं। फिलहाल राजकीय पशुधन फार्म (जीएलएफ) की जमीन इन दोनों प्रपोजल के लिए नगर निगम को स्थानांतरित होगी। हालांकि नगर निगम प्रशासन इन दोनों प्रपोजलों के लिए जीएलएफ को जमीन के एवज में अदायगी कर चुका है।

दोनों प्रपोजल की ये है स्थिति

1. डेड एनिमल डिस्पोजल प्लांट : जीएलएफ की 32 एकड़ 4 कनाल और 2 मरला भूमि को सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट के लिए निगम को दिया जा रहा है। इसके लिए निगम से जीएलएफ को 23 करोड़ 72 लाख 80 हजार रुपए का भुगतान किया जा चुका है। निगम जमीन चिह्नित कर चुका है। इस भूमि में से सरकार की अोर से 3 एकड़ जमीन डेड एनिमल डिस्पोजल प्लांट के लिए स्वीकृत की गई है।

2. मल्टीस्टोरी पार्किंग: सिटी थाने के पास जीएलएफ की 2 एकड़, 1 कनाल और 12 मरले जमीन नगर निगम को हस्तांतरित की जा रही है। 2.5 एकड़ भूमि उपकेन्द्र और पार्किंग स्थल के निर्माण के लिए 13,500 रुपए प्रति वर्ग गज के कलेक्टर दर पर नगर निगम यह भूमि हस्तांतरित होगी। इसके लिए 14 करोड़, 37 लाख और 48 हजार रुपए का निगम ने जीएलएफ को भुगतान किया।

पार्किंग से निगम कमाने पर कर रहा विचार

मल्टीस्टोरी पार्किंग की जमीन पर निगम अपनी आय बढ़ाने के लिए ग्राउंड फ्लोर पर दुकानें बनाने पर विचार-विमर्श कर रहा है। फिलहाल निगम प्रशासन के अनुसार बेसमेंट सहित करीब 6 फ्लोर यानि 15 मीटर की ऊंचाई तक पार्किंग होंगी। शुरुआत प्रपोजल के अनुसार यहां करीब 1 हजार गाड़ियों की पार्किंग के लिए व्यवस्था की जाएगी।

इन बाजारों में आने वाले ग्राहकों को मिलेगा लाभ

बाजार के पास पार्किंग के लिए यह जगह चुनी गई थी। इसके पास ऑटो मार्केट की तरफ फोरलेन सर्विस रोड है। उधर से एंट्री आसान रहेगी। बाजार के भीड़ भरे एरिया में गाड़ी की एंट्री से बचा जा सकेगा। यहां से राजगुरु मार्केट, नागोरी गेट, तलाकी गेट, जिंदल पार्क और दिल्ली गेट के लिए भी रास्ते निकलते हैं। मिल गेट और बारह क्वार्टर रोड से आने वाले लोग पड़ाव चौक होते हुए पार्किंग स्थल तक पहुंच सकते हैं।


X
Hisar - wants to make corporation on the ground floor of multistore parking
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..