पानीपत / 11 वर्षीय बच्चे को पिस्टल से डरा प्राइवेट पार्ट में पैंसिल डाली, ब्लैकमेल कर 2 लाख रु. ऐंठे

पुलिस हिरासत में आरोपी अक्षय। पुलिस हिरासत में आरोपी अक्षय।
X
पुलिस हिरासत में आरोपी अक्षय।पुलिस हिरासत में आरोपी अक्षय।

  • पानीपत में बाल अपराध का सनसनीखेज मामला, एक अरेस्ट
  • आरोपियों पर एससी-एसटी एक्ट नहीं लगाने पर परिजनों का प्रदर्शन

दैनिक भास्कर

Feb 15, 2020, 07:41 AM IST

पानीपत. पानीपत में बाल अपराध का सनसनीखेज मामला सामने आया है। दो युवकों ने 11 साल के बच्चे को पिस्तौल से डराकर प्राइवेट पार्ट में पेंसिल डाली और ब्लैकमेल कर 6 माह में 2 लाख रु. ऐंठ लिए। यही नहीं, आरोपी युवक छठी कक्षा में पढ़ने वाले बच्चे को कभी लाइटर से जलाते तो कभी सूई चुभाते। चोट देख मां ने पूछा तो बच्चे ने डर में कुछ नहीं बताया, पर उसके दोस्त ने वारदात के बारे में बता दिया।

मां ने आरोपियों के खिलाफ गुरुवार देर रात केस दर्ज कराया। आरोपियों पर एससी-एसटी एक्ट नहीं लगाने पर शुक्रवार को परिजनों ने सेक्टर-29 थाने में 3 घंटे प्रदर्शन किया, तब पुलिस ने धाराएं जोड़ी। एक आराेपी अक्षय काे पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है। उसे कोर्ट से 2 दिन के रिमांड पर लिया है। आरोपी का साथी यूपी भाग गया। पुलिस ने बच्चे का मेडिकल कराकर काेर्ट में बयान दर्ज कराए हैं। 

रुपए चोरी पर परिजनों में झगड़ा होता

बच्चे की मां ने बताया, ‘करीब 6 माह पहले बेटा व उसका दाेस्त खेल रहे थे। विकास नगर निवासी अक्षय (22) पुत्र बलबीर बेटे के दाेस्त काे पीटते हुए ले गया। बेटा भी पीछे चला गया। अक्षय ने मारपीट की तो दोनों उसपर रेत डालकर भाग गए। कुछ दिन बाद अक्षय ने बेटे काे पकड़कर पिस्ताैल दिखा मारपीट की। प्राइवेट पार्ट में पैंसिल डाली। ब्लैकमेल कर रुपए मांगे। बेटा घर से 70 हजार रु. चुरा ले गया। 6 माह तक बेटा घर से रुपए चुराकर आराेपियाें काे देता रहा।

उसने 9 फरवरी काे रविदास जयंती पर 4 हजार रु. लिए थे। 1600 रु. के कपड़े खरीदे। बाकी घर रख दिए। आराेपियाें ने बेटे काे लाइटर से जलाया व सुई चुभाेकर रुपए मांगे ताे 2 हजार दे दिए। चाेट देख मैंने बेटे से बात की, पर कुछ नहीं बताया। तब उसके दाेस्त की मां काे बताया। पूछताछ पर दाेस्त ने सच्चाई बताई। हम अक्षय के घर पहुंचे, पर आराेपी ने बदतमीजी की। उसका माेबाइल देखा ताे बेटे काे धमकाने का वीडियाे मिला। तब एसपी काे फाेन कर सूचना दी। करीब 6 माह से घर से रुपए गायब हाे रहे थे। इसके लिए आपस में झगड़ा रहता था। किसी काे बच्चाें पर शक नहीं हाेता था। परिजन एक-दूसरे पर ही शक करते थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना