पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

चुनाव परिणाम के 16 दिन बाद मंत्रिमंडल विस्तार नहीं, शाह-सीएम में आज बात संभव

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्‌टर।
  • 3 दिन से दिल्ली में सीएम मनोहर लाल, अमित शाह से नहीं हो पा रही मुलाकात
  • मंत्रिमंडल का विस्तार 12 के बाद, सभी नामों पर शाह लगाएंगे मुहर

चंडीगढ़. हरियाणा में विधानसभा चुनाव परिणाम के 16 दिन भी बाद मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हो पाया है। सीएम मनोहर लाल 3 दिन से दिल्ली में डटे हैं, लेकिन मुलाकात नहीं हो पाई। रविवार को आज मुलाकात होने की संभावना जताई जा रही है। बताया जा रहा है कि 12 के बाद ही मंत्रिमंडल का विस्तार हो पाएगा। जब तक सीएम की भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मुलाकात नहीं हो जाती, तब तक किसी तरह से तारीख तय नहीं होगी।
 
अमित शाह को ही मंत्रिमंडल में मंत्रियों के नामों पर आखिरी फैसला करना है। सीएम पिछले कई दिनों से नई दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं। 8 नवंबर को वे करनाल के दौरे के बाद फिर से दिल्ली लौट गए थे। पार्टी के अन्य नेता भी नई दिल्ली में सीएम से मिलने के लिए पहुंच रहे हैं। इनमें कई पूर्व मंत्री भी शामिल हैं। नई दिल्ली में शाह की मुलाकात से ठीक पहले भी मंत्रालयों को लेकर लॉबिंग चल रही है। सूत्रों का कहना है कि अब 12 नवंबर के बाद ही मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है।
 

विधायक कर रहे इंतजार
हाल ही में विधायक बने कई भाजपा नेता हैं, जिन्हें मंत्री पद से नवाजा जा सकता है। इनमें से अधिकांश का कहना है कि जब चंडीगढ़ से कॉल आएगी, तो चले जाएंगे। फिलहाल सीएम मनोहर लाल और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को ही निर्णय करना है। सात में से दो ऐसे निर्दलीय विधायक भी हैं, जिन्हें मंत्री पद दिया जा सकता है। सूत्रों का कहना है कि केवल भाजपा के वरिष्ठ नेता अनिल विज और कंवर पाल गुर्जर व डॉ. बनवारी लाल के नाम ही मंत्रियों की लिस्ट में लगभग फाइनल हो चुके हैं। 

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला का कहना है कि फिलहाल सीएम मनोहर लाल और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मुलाकात नहीं हो पाई है, क्योंकि राष्ट्रीय अध्यक्ष व्यस्त हैं। अब किसी भी समय मुलाकात हो सकती है। इसके बाद तारीख तय होगी और मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाएगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन पारिवारिक व आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदाई है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ विश्वास से पूरा करने की क्षमता रखे...

और पढ़ें