पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सोनीपत में हिंदी का पेपर आउट, एक केंद्र की परीक्षा रद्द; 11 सुपरवाइजर रिलीव, दूसरे की जगह परीक्षा देते 6 पकड़े

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
सवाल न आया तो बाथरूम में बैठकर पर्ची बनाई। - Dainik Bhaskar
सवाल न आया तो बाथरूम में बैठकर पर्ची बनाई।
  • बोर्ड परीक्षाओं में नकल रोकने के सभी प्रयास फेल
  • किसी ने कमीज की तिरपाई, शर्ट में छिपाई थी पर्ची

भिवानी. हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की 10वीं कक्षा का पेपर सोनीपत में परीक्षा केंद्र के सुपरवाइजर की मिलीभगत से मिलीभगत से आउट हाे गया। वहीं, प्रदेशभर में नकल के 422 मामले दर्ज किए गए। एक केंद्र की परीक्षा रद्द करते हुए केंद्र भी शिफ्ट कर दिया है। ड्यूटी में कोताही बरतने पर प्रदेश में 11 सुपरवाइजर ड्यूटी से रिलीव किए गए। 6 छात्रों को दूसरे की जगह परीक्षा देते पकड़े गए।

सोनीपत के परीक्षा केंद्र रावमावि रभरा-1(बी-1) पर और पर्यवेक्षक मनोज कुमार की वजह से पेपर आउट हो गया। परीक्षार्थी का यूएमसी बना दिया गया। लापरवाही करने वाले पर्यवेक्षक मनोज कुमार के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने बारे स्कूल शिक्षा निदेशालय को लिखा गया है। 11 मार्च से इस केंद्र को जवाहर वमावि गुढ़ा रोड, गोहाना में शिफ्ट किया है। फतेहाबाद में शनिवार को हुई 10वीं की हिंदी विषय की परीक्षा में जिले में पर्ची पकड़े जाने व दूसरे की जगह परीक्षा देने पर 7 पर यूएमसी केस बनाए गए हैं।

फतेहाबाद- 3 फर्जी परीक्षार्थियों समेत 7 पर केस
फतेहाबाद में भट्‌टूखंड के गांव खाबड़ाकलां के राजकीय विद्यालय में एक ही कमरे में दो छात्राओं व एक छात्र से पर्ची बरामद हुई। दोनों छात्राओं ने कमीज के नीचे की तिरपाई में दो-दो पर्चियां छिपा रखी थीं, जबकि छात्र ने शर्ट में पर्ची छिपा रखी थी। एक ही कमरे में तीन विद्यार्थियों पर यूएमसी केस बनने पर सुपरवाइजर प्रवीन कुमार को रिलीव कर दिया गया।

पानीपत-सोनीपत में नकल के 36 केस : पलवल में नकल के 28 केस पकड़े, जिनमें 4 दूसरे की जगह परीक्षा देते पकड़े गए। पानीपत व सोनीपत में नकल के 36 मामले दर्ज किए। इनमें दो दूसरे की जगह परीक्षा दे रहे थे। अन्य उड़नदस्तों ने नकल के 358 मामले दर्ज किए गए हैं।

बहाना बनाकर बाथरूम में नकल करने गए
राेहतक में गांधी कैंप स्थित राजकीय सीनियर सेकंडरी स्कूल में परीक्षा के दौरान विद्यार्थी नकल के लिए बहाना बनाकर बाथरूम में जाते दिखे। विद्यार्थी पर्चियों को खोलने ही वाले थे इस दौरान राउंड पर टीचर आ गए। तभी विद्यार्थियों ने नकल इधर-उधर फेंक दी और कुछ ने भी छुपा ली। जांच के दौरान विद्यार्थियों के पास कोई पर्ची नहीं मिली।

रोहतक में नकल के 12 केस बने
जिले में 17 परीक्षार्थियों को नकल करते पकड़ा गया। चेयरमैन स्पेशल फ्लाइंग टीम ने परीक्षा केंद्र राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय रोहतक-5 (बी-1) पर नियुक्त पर्यवेक्षक ड्राइंग टीचर रेनूका को लापरवाही बरतने पर हटा दिया गया। ग्रामीण क्षेत्रों के परीक्षा केंद्रों के आसपास आउटसाइडर्स की भीड़ अधिक रही। पुलिसकर्मी बेबस दिखे। इधर, खरखौदा के प्रताप स्कूल में बने सीबीएसई बोर्ड के केंद्र में परीक्षार्थी आशीष की जगह पर ठरु उल्देपुर का मोहित परीक्षा देता मिला। दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। इधर, जींद में नकल के 11 केस सामने आए।

खबरें और भी हैं...