पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हरियाणा कांग्रेस की बैठक में हंगामा, लोकसभा चुनाव में करारी हार पर तंवर से इस्तीफे की मांग

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • बैठक में तंवर समर्थकों ने आपत्ति जताई तो हंगामा करने लगे दूसरे गुट के विधायक
  • बैठक की अध्यक्षता वरिष्ठ कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद ने की

नई दिल्ली. हरियाणा प्रदेश कांग्रेस के नेताओं की बैठक मंगलवार को दिल्ली दिल्ली में गुरुद्वारा रकाब गंज रोड पर स्थित कांग्रेस के वॉर रूम में हुई। इस बैठक में हरियाणा में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार के कारणों की समीक्षा और आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी को लेकर बातचीत की गई। 

 

बैठक की अध्यक्षता वरिष्ठ कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आजाद ने की। बैठक में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अशोक तंवर के पद से इस्तीफे की मांग को लेकर कुछ विधायकों ने हंगामा भी किया। उन्होंने हरियाणा में लोकसभा चुनाव में हार के लिए तंवर को जिम्मेदार ठहराया। 

 

सूत्रों के अनुसार हरियाणा कांग्रेस की बैठक में गुलाम नबी आजाद ने हरियाणा कांग्रेस के सभी नेताओं से आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी को लेकर अपने अपने सुझाव पेश करने के लिए कहा। इसके साथ ही उन्होंने सभी से यह भी पूछा कि हरियाणा में बड़े कद्दावर नेताओं के लोकसभा चुनाव में हार के क्या प्रमुख कारण रहे। इस पर कुछ विधायकों ने कहा हरियाणा में लोकसभा चुनाव की हार की जिम्मेदारी प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर को स्वीकारते हुए अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

 

इसके बाद बैठक में मौजूद तंवर समर्थकों ने इस मांग पर आपत्ति जाहिर की। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में हार के बहुत से कारण है ऐसे में तंवर को उसके लिए जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता। फिर भी कुछ विधायक तंवर को हार का जिम्मेदार बताते हुए हंगामा करते रहे। 
 

किरण के विस अध्यक्ष को लिखे पत्र का मामला भी गरमाया :
बैठक में कांग्रेसी विधायक किरण चौधरी द्वारा विधानसभा अध्यक्ष को पत्र लिखने का मुद्दा भी गरमाया। विधायकों ने उनके इस कदम को गलत बताते हुए उन पर पार्टी द्वारा अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की मांग की। ज्ञात हो कि किरण चौधरी ने विधानसभा अध्यक्ष को लिखे पत्र में कहा था कि उन्हें विपक्ष का नेता चुन लिया जाए। किरण चौधरी द्वारा लिखे गए पत्र के संदर्भ में विधायकों ने कहा कि उन्हें ऐसा करने का अधिकार नहीं था और पत्र लिखने से पूर्व उन्होंने न तो इस संदर्भ में प्रदेशाध्यक्ष और ना ही पार्टी के वरिष्ठ अधिकारियों से सलाह मशवरा किया और ना ही अनुमति ली। उन्होंने खुद को बड़ा साबित करने के लिए जानबूझकर यह पत्र लिखा। कांग्रेस पार्टी के अनुशासन को तोड़ा है। उन पर पार्टी द्वारा कार्रवाई होनी चाहिए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- सकारात्मक बने रहने के लिए कुछ धार्मिक और आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करना उचित रहेगा। घर के रखरखाव तथा साफ-सफाई संबंधी कार्यों में भी व्यस्तता रहेगी। किसी विशेष लक्ष्य को हासिल करने ...

और पढ़ें