• Hindi News
  • Haryana
  • Panipat
  • Drug control team confiscated goods worth 45 lakhs, making perfume in Sonipat factory on Himachal Pradesh license

हरियाणा / हिमाचल प्रदेश के लाइसेंस पर सोनीपत की फैक्ट्री में बना रहे थे परफ्यूम, ड्रग कंट्रोलर टीम ने 45 लाख का माल जब्त किया

हिमाचल प्रदेश के लाइसेंस पर सोनीपत की फैक्ट्री में बन रहा था डियो। हिमाचल प्रदेश के लाइसेंस पर सोनीपत की फैक्ट्री में बन रहा था डियो।
X
हिमाचल प्रदेश के लाइसेंस पर सोनीपत की फैक्ट्री में बन रहा था डियो।हिमाचल प्रदेश के लाइसेंस पर सोनीपत की फैक्ट्री में बन रहा था डियो।

  • फैक्ट्री हिमाचल प्रदेश के कालाआंब में और डीयो बन रही थी बारोटा के प्लांट में, 306 पेटी बरामद
  • ड्रग कंट्रोलर की टीम ने जब्त माल को कोर्ट में पेश किया, फैक्ट्री मालिक को नोटिस दिया जाएगा

Dainik Bhaskar

Jan 16, 2020, 05:06 AM IST

राई. सीनियर ड्रग कंट्रोलर की टीम ने एक ऐसी फैक्ट्री को पकड़ा है। जिसका लाइसेंस हिमाचल प्रदेश की कालाआंब में है और कॉस्मेटिक का सामान वह अकबरपुर बारोटा के प्लांट में बना रहा था। ड्रग कंट्रोलर की टीम ने छापा मारकर 306 डीयो की पेटी जब्त की है। जिसकी कीमत 45 लाख रुपए बताई गई है। ड्रग कंट्रोलर की टीम ने जब्त माल को कोर्ट में पेश किया। फैक्ट्री मालिक को नोटिस दिया जाएगा।


सोनीपत जोन के सीनियर ड्रग कंट्रोलर गुरचरण सिंह, ड्रग कंट्रोलर संदीप  हुड्डा की टीम को सूचना मिली थी कि अकबरपुर बारोटा की वनिशा कॉस्मेटिक फैक्ट्री में हिमाचल प्रदेश की फर्म के लाइसेंस पर डीयो बनाई जा रही है। दोनों अधिकारियों की टीम ने फैक्ट्री में छापा मारा। फैक्ट्री में डेनवर मार्का के परफ्यूम बन रहे थे। जब इस मार्का का लाइसेंस चेक किया तो वह हिमाचल प्रदेश के कालाआंब फैक्ट्री का मिला।

ड्रग एक्ट के तहत कोई भी कंपनी ऐसे लाइसेंस का दूसरे प्रदेश में प्रयोग नहीं कर सकती। टीम ने फैक्ट्री से 306 पेटी जब्त की। इन सभी पेटियों में डेनवर मार्का का सेंट भरा हुआ था। टीम ने सभी पेटी सील कर दी। ड्रग कंट्रोलर संदीप हुड्डा ने कहा कि विभाग ने पूरे नियम व कानून के तहत छापा मारने की कार्रवाई की है।
 

किसी को अधिकारियों से बात तक नहीं करने दी

जैसे ही ड्रग कंट्रोलर की टीम फैक्ट्री में पहुंची तो वहां काम कर रहे अधिकारियों के रोंगटे खड़े हो गए। उन्होंने फैक्ट्री से भागने का भी प्रयास किया, लेकिन ड्रग कंट्रोलर संदीप हुड्डा ने फैक्ट्री का गेट बंद करा दिया। इसके बाद जब अधिकारियों व वहां काम कर रही लेबर से बात करने का प्रयास किया तो मैनेजर ने उन्हें बोलने से मना कर दिया। लेबर को एक कमरे में रोक दिया गया। जिससे वे किसी अधिकारी को जानकारी न दे सके।
 

हिमाचल प्रदेश के लाइसेंस से चल रहा था गोरखधंधा

जिस मार्का का डीयो यहां मिला है। उसको बनाने का लाइसेंस कंपनी ने हिमाचल प्रदेश की फैक्ट्री के लिए ले रखा है। कानूनन वे इसे हिमाचल प्रदेश में ही बना सकते हैं। यहां की यूनिट में कई अन्य कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स का लाइसेंस है। ड्रग कंट्रोलर की माने तो अब तक करोड़ों का माल यहां से बनकर सप्लाई हो चुका है। एक दिन में ही उन्हें 45 लाख का माल मिला है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना