हरियाणा / बच्चा चोर गिरोह की अफवाह फैलाने वालों पर होगी एफआईआर, बाल विकास मंत्री पुलिस कार्रवाई की लेंगी रिपोर्ट



FIR will be filed against those spreading rumors of child thief gang
X
FIR will be filed against those spreading rumors of child thief gang

  • बच्चे चोरी करने वाले गिरोह की अफवाहों को लेकर हो रही मॉब लिचिंग पर राज्य सरकार अब एक्शन लेगी।
  • पिछले कुछ समय से कई जगहों पर अफवाहों के चलते बेकसूर लोगों को पीटा जा रहा है

Dainik Bhaskar

Sep 11, 2019, 05:59 AM IST

पानीपत. बच्चे चोरी करने वाले गिरोह की अफवाहों को लेकर हो रही मॉब लिचिंग पर राज्य सरकार अब एक्शन लेगी। अफवाह फैलाने वालों पर एफआईआर दर्ज होगी। महिला एवं बाल विकास मंत्री कविता जैन ने कहा है कि पुलिस से प्रदेश भर में अफवाहों के बाद घटी घटनाओं पर रिपोर्ट ली जाएगी। पुलिस से पूछा जाएगा कि मामलों पर क्या कार्रवाई की। पिछले कुछ समय से कई जगहों पर अफवाहों के चलते बेकसूर लोगों को पीटा जा रहा है। दैनिक भास्कर ने मंगलवार के अंक में इस पर प्रमुखता से रिपोर्ट प्रकाशित की थी। उधर, डीजीपी मनोज यादव का कहना है कि सभी एसपी को निर्देश जारी किए हैं कि वे ऐसी अफवाहों पर विशेष निगरानी रखें। पुलिस कर्मचारियों को गांवों तक में लोगों को जागरूक करने के लिए कहा गया है।


सोशल मीडिया में अफवाह के 2 चेहरे, जिनके जरिए लोगों को डराया जा रहा इस वीडियो में कुछ लोगों के सामने यह युवक 2 बच्चों को उठाने की बात कबूल रहा है। सच्चाई कुछ भी नहीं। वीडियों में युवक एक गली से बच्चा उठाने की बात कबूलता है। गिरोह में और लोग भी शामिल बताता है। सच्चाई कुछ भी नहीं।


ये तो सिर्फ दो उदाहरण हैं। ऐसी अफवाहों के सोशल मीडिया पर बहुत से वीडियो वायरल हो रहे हैं। इनके कारण प्रदेश में डेढ़ माह में बच्चा चोरी की अफवाह की 50 से अधिक घटनाएं हो चुकी हैं। काेई जानबूझकर एेसी अफवाहाें काे अागे बढ़ाता है या फैलता है, जिससे सार्वजनिक शांतिभंग हाेती हाे ताे उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 505 के तहत केस दर्ज हो सकता है। इसमें तीन साल तक की सजा व जुर्माना या दाेनों का प्रावधान है। पुलिस काे बिना वारंट गिरफ्तारी का अधिकार भी है। अाैर यह गैरजमानती है।

 

भास्कर की रिपोर्ट से एक्शन में सरकार- लापता लोगों को ऐसे ढूंढने में मदद करते हैं।

  • केस-1: ससुरालवालों से झगड़े के बाद मानसिक रूप से बीमार हुई शाहबाद डेरी निवासी ऊषा घर से निकल गई। सन्नी ने सोशल मीडिया ग्रुप पर इनके बारे में मदद मांगी। दूसरे साथियों से ऊषा के लावारिस हालत में बहादुरगढ़ में होने की सूचना मिली। इसके बाद परिजनों के पास पहुंचाया गया।
  • केस-2: प. बंगाल से भटककर रोहतक आए राम प्रसाद की भी सन्नी ने मदद की। बंगाल पुलिस के साथ फोटो व जानकारी शेयर कर परिजनों की जानकारी जुटाई और घर पहुंचाया।
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना