--Advertisement--

पहली बार वाॅर्ड की राजनीति में दो अविवाहित बेटियां

Panipat News - नगर निगम के 26 वाॅर्डों में 53 महिला प्रत्याशी सहित 113 पार्षद का चुनाव लड़ रहे हैं। पहले इनकी संख्या 141 थी, शनिवार को 18...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 03:25 AM IST
Panipat News - for the first time two unmarried daughters in ward politics
नगर निगम के 26 वाॅर्डों में 53 महिला प्रत्याशी सहित 113 पार्षद का चुनाव लड़ रहे हैं। पहले इनकी संख्या 141 थी, शनिवार को 18 नामांकन वापस ले लिए। जिसमें 10 पुरुष और 8 महिला प्रत्याशी हैं। इनमें दो अविवाहित बेटियां हैं। एक के पिता तीन बार के पार्षद रहे हैं तो दूसरे के पिता ऑटो चलाते हैं। हमने दोनों से जाना कि आखिर क्या नौबत आई कि उन्हें चुनाव में आना पड़ा। दोनों की अलग-अलग सोच है, लेकिन समाज से जुड़ी।

खुद बेटी होकर माता-पिता की चिंता समझी, पूरे वाॅर्ड में सीसीटीवी लगाकर दूंगी बेटियों को सुरक्षा : मीनाक्षी

मा ता-पिता की सबसे बड़ी चिंता बेटी की सुरक्षा होती है। मैं जब घर से बाहर जाती हूं, माता-पिता बहुत परेशान रहते हैं। चाहे दुकान से सामान लेने की क्यों न निकलूं। कोई बेटी घर से बाहर निकले तो उसके माता-पिता परेशान न हों। इसलिए पूरे वार्ड के हर चौक-चौराहे पर सीसीटीवी कैमरे लगवाकर बेटियों काे सुरक्षा दूंगी। मेरे पिताजी ऑटो चलाते हैं। लेकिन मुझको लेकर हमेशा चिंतित रहे। मैं तो समाज सेवा करूंगी, राजनीति क्या होती है इसके बारे में तो पता भी नहीं है। वार्ड-19 में सबसे बड़ी समस्या पार्क की है। एक भी पार्क नहीं जहां पर आप खुली में हवा ले सकें। मेरी प्राथमिकता होगी कि महावीर कॉलोनी में तालाब को खाली करवाकर, उसकी जगह पार्क व सामुदायिक केंद्र बने। पार्क न होने के कारण लोगों को बाहर घूमने में परेशानी होती है। स्वच्छ हवा भी नहीं मिल पा रहा ही। इस कारण लोग परेशान हैं। जिनके राशन कार्ड कटे हैं, उन्हें दोबारा जुड़वाएंगी। जेबीटी व बीए पास की है। समाज सेवा के लिए आगे की पढ़ाई प्राइवेट से करूंगी। इसके लिए शादी भी नहीं करूंगी।

-मीनाक्षी, वार्ड-19 से कांग्रेस समर्थित प्रत्याशी

सीवर और पेयजल व्यवस्था से पापा परेशान, जीतने के बाद सबसे पहले इसे ठीक कराऊंगी : अंजलि

मे रे पापा (तीन बार के पार्षद हरीश शर्मा) घर पर अक्सर जिक्र करते हैं कि पूरे वार्ड में सीवर व पेयजल व्यवस्था बहुत खराब है। उन्होंने प्रयास किया, लेकिन वह सब नहीं कर पाए जो होने चाहिए। मेरी पहली प्राथमिकता तो यहीं दो व्यवस्थाएं हैं, जिससे हर कोई परेशान है। मेरे पापा पार्षद रहे हैं। अधिकांश फोन इसी दो समस्याओं के बारे में आते हैं। कहने को यह शहर का हिस्सा है, लेकिन व्यवस्थाएं नहीं है। परिवार की इकलौती बेटी हूं। आर्य कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के दौरान ही समाज सेवा का मन बना लिया था। वार्ड-3 पापा की परंपरागत सीट रही है। इस बार महिला के लिए रिजर्व हुई तो मुझे चुनाव लड़ने का मौका मिला। बेटी होने के नाते जानती हूं कि एक घर में क्या-क्या समस्याएं होती हैं। पब्लिक ने मौका दिया तो उन परेशानियों को खत्म करूंगी। जीतने के बाद उनका पूरा प्रयास होगा कि क्षेत्र की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर समाधान करवाना है। जिससे लोगों को परेशानी न हो।

-अंजलि शर्मा, भाजपा प्रत्याशी, वार्ड-3

मेयर के लिए अब 5 प्रत्याशी मैदान में डटे

मेयर के लिए अब पांच प्रत्याशी मैदान में रह गई हैं। ये हैं- भाजपा से अवनीत कौर, कांग्रेस से अंशु कौर पाहवा, इनेलो से प्रियंका कश्यप और सांसद राजकुमार सैनी की पार्टी से एडवोकेट सीमा सैनी। पाहवा को जहां कुर्सी चुनाव चिन्ह मिला है। वहीं, सैनी को नारियल का पेड़। पांच प्रत्याशियों ने नाम वापस ले लिए। ये हैं- सोनिया वर्मा, मीनू शर्मा, रेनू सैनी, संगीता रानी और संतोश सैनी।

नगर निगम चुनाव पर विशेष पेज-2 पर

Panipat News - for the first time two unmarried daughters in ward politics
Panipat News - for the first time two unmarried daughters in ward politics
Panipat News - for the first time two unmarried daughters in ward politics
X
Panipat News - for the first time two unmarried daughters in ward politics
Panipat News - for the first time two unmarried daughters in ward politics
Panipat News - for the first time two unmarried daughters in ward politics
Panipat News - for the first time two unmarried daughters in ward politics
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..