--Advertisement--

इंतजार खत्म / 5 साल बाद 23 सितंबर से शुरू होगा जिमखाना क्लब



  • पहली बार आम लोग भी जा सकेंगे क्लब में पर नहीं मिलेगी कोई छूट
Danik Bhaskar | Sep 16, 2018, 10:21 AM IST

पानीपत. पांच साल पहले महिला मित्र की हत्या कर युवक के सुसाइड करने के बाद से बंद पड़ा जिमखाना क्लब 23 सितंबर से शुरू होगा। स्पा सेंटर, एरोबिक व मैरिज गार्डन जैसी नई तमाम सुविधाएं दी जाएंगी। इसे ए क्लब विद ट्रेडिशनल लुक एंड मॉडर्न फैसिलिटीज शीर्षक दिया गया है।

 

सौंदर्यीकरण का काम अब अंतिम चरण में है। क्लब खुलने से शुरुआती चरण में क्लब से जुड़े पुराने सदस्यों को यहां मिलने वाले सामान, व्यंजन व अन्य वस्तुओं में छूट का लाभ मिलेगा, लेकिन इसके लिए इन्हें अपना नाम रिन्यू करवाना होगा। इनके अलावा  अन्य लोग भी खुद या अपने परिवार  के साथ आ सकेंगे, लेकिन इन्हें किसी भी प्रकार की छूट नहीं मिलेगी। क्लब प्रेजिडेंट डीसी व सेक्रेटरी हुडा के ईओ रहेंगे।

 
एक्जीक्यूटिव कमेटी तय करेगी नई मेंबरशिप के नियम 
जिमखाना क्लब में जो भी लोग नई मेंबरशिप लेंगे उनकी फीस व नियम-शर्तें  एक्जीक्यूटिव कमेटी तय करेगी। प्रबंधक प्रदीप कुमार ने बताया कि यह कमेटी जल्दी ही बैठेगी। नई मेंबरशिप के लिए 3 पासपोर्ट साइज फोटो, आधार कार्ड व अन्य पहचान पत्र के साथ कमेटी द्वारा तय की गई फीस जमा करवानी होगी। 


इस समय हैं 427 मेंबर 
इस समय क्लब के 427 मेंबर हैं। इन्हें भी अपना नाम रिन्यू करवाना होगा। फिलहाल इनकी हर माह की मेंबरशिप फीस 200 रुपए के साथ 18 प्रतिशत जीएसटी है। 

 

यह होंगी सुविधाएं 
क्लब में मुख्य रूप से स्पा सेंटर (मसाज सेंटर), सैलून, किटी पार्टी, बर्थ-डे, सालगिरह या अन्य पार्टी, 2000 लोगों की क्षमता वाला बैंक्वेट हाॅल, ग्रीन लॉन, रेस्टोरेंट, बार, जिम, डांस एरोबिक क्लास, योगा, कराटे, जिम, स्विमिंग पूल, कांफ्रेंस हाॅल, कपल व फैमिली के लिए अलग से ड्रिंक रूम की सुविधा मिलेगी। 

 

दिल्ली से लेकर आए हैं कैटरिंग 
क्लब संचालक चंचल नांदल ने बताया कि कैटरिंग व्यवस्था पूरी तरह से दिल्ली से लेकर आए हैं। हुडा विभाग के ईओ किसी भी समय आकर इसकी क्वालिटी चेक कर सकेंगे। शहर के बड़़े-बड़े रेस्टोरेंट में तय खाने के रेटों की जांच करके उनसे सस्ते रेट तय किए गए हैं। 

 

एक ही वेंडर को संचालन की जिम्मेदारी 
इस बार एक ही वेंडर को पूरे संचालन की जिम्मेदारी दी है। नांदल ने बताया कि पहले रेस्टोरेंट कोई चलाता था, स्विमिंग पूल कोई और। बियर बार हुडा चलाता था। अब ऐसा नहीं है। बार भी हम ही संभलाएंगे। हर महीने 2 लाख, 27 हजार 744 रुपए किराए के अलावा बैंक्वेट हाॅल पर 60-40, बार की बिलिंग पर 20 प्रतिशत भी हुडा को देना होगा। 

 

फैमिली के लिए अलग से ड्रिंक रूम 
फैमिली के लिए अलग से ड्रिंक रूम तैयार किया है। कोई डिस्टर्ब न करे, इसलिए सिर्फ कपल की एंट्री ही होगी। 

 

खेल प्रतियोगिताएं  होंगी 
स्विमिंग, जूडो, बॉडी बिल्डिंग चैंपियनशिप व योगा की समय-समय पर जिला व प्रदेश स्तरीय प्रतियोगिताएं होंगी। नए खिलाड़ियों को आगे बढ़ने का मौका मिलेगा। 


पार्किंग सुविधा 
क्लब परिसर में 200 गाड़ियाें की पार्किंग सुविधा है। संख्या ज्यादा होने पर 2000 हजार तक गाड़ियां क्लब के सामने बने पक्के शैड में खड़ी हो सकेंगी। 


कूड़ा कलेक्शन सेंटर हटा 
क्लब के पास खाली पड़ी हुडा की जमीन में ड्रेन-1 किनारे से  कूड़ा कलेक्शन सेंटर हटवा दिया गया है। मैनेजर प्रदीप कुमार ने बताया कि हुडा अधिकारियों व डीसी  से आसपास चल रहे रेत के अवैध कारोबार को भी बंद कराने का आग्रह करेंगे। 

 

15 महीने बाद पहली बार हुई थी कोशिश 
8 नवंबर 2013 को पार्किंग ठेकेदार सिवाह के बलवान ने अपनी महिला मित्र को गोली मारने के बाद पत्नी को गोली मारी थी आैर बाद में खुदकुशी कर ली थी। उसी दिन से यह क्लब बंद पड़ा है। तब के डीसी समीर पाल सरो ने नवंबर 2013 में  खोलने की याेजना बनाई थी, लेकिन सिरे नहीं चढ़ी। 

 

शुरूआत में थे 650 सदस्य 
क्लब के गठन के वक्त सदस्यता फीस 25 हजार रुपए और मासिक शुल्क 200 रुपए था। शुरुआत में इसके 650 सदस्य बने थे। 

 

15 साल पहले बना था क्लब 
17 नवंबर, 2003 में शहरवासियों के लिए सेक्टर-25 पार्ट-2 में तत्कालीन मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने जिमखाना क्लब का उद्घाटन किया था। पांच एकड़ जमीन में निर्मित क्लब में तमाम सुविधाएं थीं। 

 

काम अंतिम चरण में हैं : मेंबर 
क्लब के सौंदर्यीकरण का काम अंतिम चरण में है। 23 सितंबर को इसका शुभारंभ हो जाएगा। डीसी सुमेधा कटारिया ने विशेष दिलचस्पी लेकर इसे शुरू कराया है। अब शहरवासियों को एक ही छत के नीचे सुविधाएं मिलेंगी। 
प्रदीप कुमार, प्रबंधक, जिमखाना क्लब, पानीपत

--Advertisement--