हरियाणा / जाट आरक्षण आंदोलन में कैप्टन अभिमन्यु के घर में आग लगाने वाले 54 आरोपी माफ, खाप पंचायत ने करवाया समझौता

दादरी विधायक व सांगवान खाप के प्रधान सोमबीर सांगवान। दादरी विधायक व सांगवान खाप के प्रधान सोमबीर सांगवान।
जींद की जाट धर्मशाला में पहुंचे खाप पंचायत के प्रतिनिधि। जींद की जाट धर्मशाला में पहुंचे खाप पंचायत के प्रतिनिधि।
X
दादरी विधायक व सांगवान खाप के प्रधान सोमबीर सांगवान।दादरी विधायक व सांगवान खाप के प्रधान सोमबीर सांगवान।
जींद की जाट धर्मशाला में पहुंचे खाप पंचायत के प्रतिनिधि।जींद की जाट धर्मशाला में पहुंचे खाप पंचायत के प्रतिनिधि।

  • फरवरी 2016 में जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान अभिमन्यु के घर में हुई थी आगजनी
  • अभिमन्यु की तरफ से उनके बड़े भाई हुए पंचायत में शामिल 

दैनिक भास्कर

Jan 16, 2020, 05:51 PM IST
जींद (सुरेंद्र भारद्वाज)। जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान फरवरी 2016 में रोहतक स्थित हरियाणा के पूर्व वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु के घर में आग लगाने वाले 54 आरोपियों को माफ कर दिया है। जींद की जाट धर्मशाला में गुरुवार को हुई सर्वजातिय खाप पंचायत ने इसमें समझौता करवा दिया है। कैप्टन अभिमन्यु की तरफ से उनका बड़ा भाई वीर सेन सिंधु इसमें शामिल हुए और उन्होंने समझौता मानते हुए सभी आरोपियों को माफ कर दिया है। 

खाप पंचायत में ऐसे हुआ समझौता

खाप पंचायत में सामूहिक रूप से इन आरोपियों पर 11 हजार रुपये गौशाला में दान देने का जुर्माना लगाया और समझौता करवाया। इसके बाद सतरोल खाप व सिंधु परिवार ने इस जुर्माने को माफ कर दिया। सर्व खाप पंचायत को इस मामले में सीबीआई द्वारा बनाए गए आरोपियों ने एक माफीनामा दिया। जिसमें लिखा था कि सिंधु निवास पर जो हमला, लूटपाट और आगजनी हुई उसके लिए हम खेद व्यक्त करते हैं। इस विषय में हमारी प्रत्यक्ष एवं परोक्ष भूमिका, गलती या भूल चूक के लिए क्षमा प्रार्थी हैं। समाज की तरफ से आयोजित इस पंचायत में जो भी निर्णय लिया जाएगा हम उसे स्वीकार करेंगे। सिंधु परिवार ने भी कहा कि पंचायत जो भी फैसला करेंगी वह उसे मानेगा । इस मामले में पंचायत की कार्यवाही के बाद 21 सदस्यों की एक कमेटी बनाई गई जिसने यह फैसला पंचायत के समक्ष रखा। 

सर्व खाप पंचायत में वक्ताओं ने रोहतक स्थित सिंधु भवन, वेद मंदिर, कार्यालय, इंडस पब्लिक स्कूल, हरिभूमि प्रैस आदि में आगजनी, तोड़फोड़, लूटपाट और हमले को बहुत ही दुर्भाग्य पूर्ण बताया। सिन्धु परिवार पर किये गए हमले से जुडे मामलों मे जो सीबीआई जांच चल रही है और उसमे जिन लोगों को आरोपी बनाया गया है वे तमाम लोग यहां उपस्थित हैं। उन्होने अपने या अपने परिवार की ओर से अपना माफीनामा पंचायत को सौंपा है। पंचायत उनके कृत्य की वजह से उन्हे समाज के प्रति दोषी मानती है और उन्हे पंचायत की तरफ से दंड दिया जाता है। न्यायिक मामले के लिए एक कमेटी गठित की गई है जो कानूनी सलाह लेकर पंचायत के फैसले को अमल में लाने के लिए आगामी भूमिका तय करेगी । इसके बाद भी न्यायलय कोई फैसला सुनाता है तो वह सर्वपरि है और इसमें एक-दूसरे को दोषी नहीं ठहराया जाएगा । 

इस दौरान दादरी विधायक व सांगवान खाप के प्रधान सोमबीर सांगवान, सतरोल खाप के प्रधान रामनिवास लोहान, पालम 360 के प्रधान रामकरण, पुनिया खाप के शमशेर नम्बरदार, टेकराम कंडेला, राजकुमार रेडू, मास्टर किताब सिंह मलिक, बलबीर सिहाग, मानसिंह दलाल, महेन्द्र नांदल, सतबीर सिंह, मलिक राज मलिक, जयसिंह अहलावत, सुरेंद्र दहिया, भलेराम नरवाल, चौधरी राजमल जाटू खाप आदि शामिल थे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना