हरियाणा / सरकारी वेबसाइटों पर सीएम व मंत्रियों के महकमों में अंतर; वेबसाइटों पर अपडेट नहीं हुए विभाग

सीएम हरियाणाा की साइट पर इलेक्शन डिपार्टमेंट सीएम के पास, जबकि मूलचंद शर्मा काे दिया है। सीएम हरियाणाा की साइट पर इलेक्शन डिपार्टमेंट सीएम के पास, जबकि मूलचंद शर्मा काे दिया है।
हरियाणाा गवर्नमेंट की साइट पर नया पोर्टफोलियो अपलाेड किया गया, जाे सही है। हरियाणाा गवर्नमेंट की साइट पर नया पोर्टफोलियो अपलाेड किया गया, जाे सही है।
इंफोरमेशन पब्लिक रिलेशन की वेबसाइट पर दर्शाया जा रहा पुराना पोर्टफोलियो। इंफोरमेशन पब्लिक रिलेशन की वेबसाइट पर दर्शाया जा रहा पुराना पोर्टफोलियो।
X
सीएम हरियाणाा की साइट पर इलेक्शन डिपार्टमेंट सीएम के पास, जबकि मूलचंद शर्मा काे दिया है।सीएम हरियाणाा की साइट पर इलेक्शन डिपार्टमेंट सीएम के पास, जबकि मूलचंद शर्मा काे दिया है।
हरियाणाा गवर्नमेंट की साइट पर नया पोर्टफोलियो अपलाेड किया गया, जाे सही है।हरियाणाा गवर्नमेंट की साइट पर नया पोर्टफोलियो अपलाेड किया गया, जाे सही है।
इंफोरमेशन पब्लिक रिलेशन की वेबसाइट पर दर्शाया जा रहा पुराना पोर्टफोलियो।इंफोरमेशन पब्लिक रिलेशन की वेबसाइट पर दर्शाया जा रहा पुराना पोर्टफोलियो।

  • हरियाणा सरकार और विधानसभा की वेबसाइटों पर मुख्यमंत्री के पास 15 विभाग दिखा रहे
  • हरियाणा सीएम ऑफिस और पीआर डिपार्टमेंट की वेबसाइटों पर 17 विभाग दर्शाए जा रहे

दैनिक भास्कर

Feb 02, 2020, 01:00 AM IST

चंडीगढ़ (मनोज कुमार). जनवरी के पहले सप्ताह में बिना अधिसूचना के सरकारी वेबसाइटों पर नया पोर्टफोलियो अपलोड होने के बाद शुरू हुआ विवाद भले ही अब शांत हो गया हो लेकिन अभी भी वेबसाइटों सबकुछ स्पष्ट नहीं कर रही है। किसी पर पिछले दिनों जारी हुई अधिसूचना के बाद नया पोर्टफोलियो अपलोड कर दिया गया है तो कहीं अभी विवाद के बीच में अपलोड किए गए मंत्रियों के विभागों को बदला नहीं गया है।


22 जनवरी की मुख्य सचिव की अधिसूचना के अनुसार मुख्यमंत्री के पास सीआईडी और दो अन्य विभाग पर्सनल एंड ट्रेनिंग और राजभवन अफेयर्स आने के बाद कुल 15 विभाग हो गए हैं। जबकि 16वें नंबर पर लिखा गया है कि अन्य वह विभाग भी सीएम के पास रहेंगे जो किसी मंत्री के पास नहीं है।

इसी प्रकार परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा से आर्ट एंड कल्चर डिपार्टमेंट लेकर शिक्षा मंत्री कंवरपाल गुर्जर को दिया गया और मूलचंद शर्मा को चुनाव विभाग दिया था। यह नया पोर्टफोलियो हरियाणा गर्वमेंट और हरियाणा की विधानसभा की वेबसाइटों पर अपलोड हो गया है।

लेकिन सीआईडी को लेकर जब विवाद चल रहा था तब बिना किसी अधिसूचना के भी इन दोनों वेबसाइटों के साथ हरियाणा सीएम ऑफिस और इन्फॉर्मेशन एंड पब्लिक रिलेशन की वेबसाइटों पर मंत्रियों के 14 नवंबर की अधिसूचना से इतर विभाग दर्शा दिए गए थे।

यह भी जानें

सीआईडी को बिना अधिसूचना के नया पोर्टफोलियो सबसे पहले हरियाणा गर्वमेंट और हरियाणा विधानसभा की वेबसाइटों पर अपलोड होने के बाद ही सामने आया था। जिसके बाद गृह मंत्री अनिल विज और मुख्यमंत्री में विवाद हुआ। विज यही कहते रहे कि वेबसाइटों से सरकार नहीं चलती। इसके बाद इन दोनों वेबसाइटों पर पोर्टफोलियो का पेज हटाकर वहां अपडेशन दर्शा दिया गया था। जबकि हरियाणा सीएम ऑफिस और पब्लिक रिलेशन डिपार्टमेंट की वेबसाइटों पर अपलोड यही पोर्टफोलियो अभी तक दर्शाया जा रहा है।जिसमें मुख्यमंत्री के पास 17 महकमे दिखाए गए, जिसमें सीआईडी भी था। इन दोनों वेबसाइटों पर अभी तक मंत्रियों के पास यही महकमे दिखाए गए हैं, जिनमें चुनाव विभाग सीएम के पास है और आर्ट एंड कल्चर मूलचंद शर्मा के पास दिख रहा है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना