पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

‘सही तरीके से गांवाें में ग्राम सभा अाैर शहराें में वार्ड सभा लागू हाे’

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

गांवाें में ग्राम सभा अाैर शहराें में वार्ड सभा के सिस्टम काे सही तरीके से लागू कराने काे लेकर लाेक स्वराज मंच ने प्रदेश भर में मुहिम छेड़ी है। इसके तहत मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष रिटायर्ड अाईजी रणबीर सिंह ने शनिवार काे काेर्ट परिसर स्थित लाइब्रेरी में पहुंचकर वकीलाें से समर्थन मांगा।

उन्हाेंने कहा कि संसद ने पंचायत राज के अंदर गांवाें व शहराें में तीसरी सरकार बनाई हुई है। ग्राम सभा काे 29 अधिकार अाैर वार्ड सभा काे 18 अधिकार दिए है। इसके तहत सभाएं गली, पानी, सफाई जैसी मूलभूत सुविधाअाें पर स्वत: निर्णय लेकर काम करा सकती है। उन्हें किसी भी अफसर या नेताअाें स्वीकृति की जरूरत नहीं है। लेकिन नेताअाें व अफसराें का रुतबा कम न हाे, इसलिए वे इसे पूरे तरीके से लागू नहीं हाेने दे रहे हैं। उन्हाेंने कहा कि 73वां अाैर 74वां संशाेसन 1992 के तहत काेई भी डीसी गांव के सरपंच या पंच काे सस्पेंड नहीं कर सकती है। इसके लिए कैबिनेट की स्वीकृति जरूरी है। इस मुहिम में प्रदेश भर में सस्पेंड किए गए सरपंच अाैर पंच काे भी जाेड़ा जाएगा। इस दाैरान बार प्रधान शेर सिंह खर्ब, पूर्व प्रधान रितेश शर्मा, पूर्व सचिव राजपाल कश्यप, वकील इमरान खान, मनाेज शर्मा, राजेश काैशिक, पिंकी शर्मा, सुमन, नफेसिंह, रणधीर शर्मा अादि वकील माैजूद थे।

खबरें और भी हैं...