पासिंग ग्राउंड में निरीक्षण करने पहुंचीं एडीसी ने 13 में से सात बसें की रिजेक्ट

Panipat News - पिछले दिनाें स्कूली बसों की तीन दिन तक जांच की गई थी। जिन बसों में खामियां मिली थी उन स्कूल संचालकों को तीन दिन का...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:10 AM IST
Panipat News - haryana news adc has arrived in the passing ground to review the residual of seven buses
पिछले दिनाें स्कूली बसों की तीन दिन तक जांच की गई थी। जिन बसों में खामियां मिली थी उन स्कूल संचालकों को तीन दिन का नोटिस भी दिया गया था। इसके बाद भी स्कूल संचालक नहीं सुधर रहे हैं। मंगलवार को पासिंग ग्राउंड में एडीसी प्रीति औचक निरीक्षण के लिए पहुंच गईं। किसी बस में इमरजेंसी विंडो जाम मिली तो किसी बस के फर्स्ट एड बॉक्स में कटिंग की दवाएं मिली। 13 में से 7 बसों को रिजेक्ट कर दिया गया। एडीसी ने आरटीए को सख्ती से कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

बाबा जोध सचियार स्कूल की बस से हुए हादसे के बाद एडीसी ने मामले को गंभीरता से लिया था। 35 अलग- अलग टीमों को एक साथ तीन दिन के सभी स्कूली बसों की जांच में लगा दिया। प्रशासन के पास सिर्फ 661 स्कूली बसों की सूची थी लेकिन जांच में 731 बसें सामने आ गईं। टीमों ने जिन बसों में खामी मिली थीं। उन बसों को तीन दिन में दुरुस्त कराने के निर्देश दिए थे। कंडम बसों को किसी भी सूरत में सड़क पर न चलाने की हिदायत दी थी। इसके बाद भी आरटीए ने पांच दिन में तीन कंडम बसों को पकड़ा और इंपाउंड कर दिया। मंगलवार को सेक्टर-25 स्थित जिमखाना क्लब के सामने ग्रांड में पासिंग चल रही थी। अचानक की एडीसी प्रीति जांच के लिए पहुंच गईं।

सीट बेल्ट लगाए बिना दौड़ा दी बस, किया फेल : एडीसी ने सिटी के एक स्कूल बस को चलाने के लिए चालक को बोला। चालक ने बिना सीट बेल्ट लगाए ही बस दौड़ा दी। यह देख एडीसी ने पासिंग को रिजेक्ट कर दिया। चेतावनी भी दी।

स्टैंडर्ड फर्स्ट एड बॉक्स बनवाने के दिए निर्देश : चेकिंग के दौरान कई स्कूल बसों में फर्स्ट एड किट में खामियां मिली। एडीसी ने निर्देश दिए कि सिविल अस्पताल के चिकित्सक से सलाह लेकर स्टैंडर्ड बॉक्स बनवाएं। बॉक्स के अंदर रखी हर दवा की एक्सपायरी डेट दिखना जरूरी है।

कार्रवाई के नाम पर बरती जा रही है ढिलाई, एडीसी ने दिए सख्ती के निर्देश

पानीपत. स्कूल बस के अंदर फर्स्ट एड बॉक्स की जांच करतीं एडीसी।

पासिंग को पहुंचे 178 वाहनाें में से 149 को किया पास

एडीसी ने स्वयं ही चेक करना शुरू कर दिया। एडीसी को देख ग्राउंड पर खलबली मच गई। जांच में एक बस में फर्स्ट एड बॉक्स में रखी दवाइयों की जांच की। दवा के पत्ते कटे हुए थे। दूसरी नई बस की जांच की तो उसकी इमरजेंसी डोर नहीं खुला। चालक ने कंपनी की ओर से डिफेक्ट होने का दावा किया। इस दौरान एडीसी ने लैपटॉप लगाकर सीसीटीवी कैमरे चेक करवाए। पासिंग के लिए पहुंचे 178 वाहनों में से 149 वाहनों को पास किया गया।

X
Panipat News - haryana news adc has arrived in the passing ground to review the residual of seven buses
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना