क्राइम / फेसबुक पर लाइव आकर लगाई फांसी, 37 दिन पहले मायके गई थी पत्नी

गगनजीत। (फाइल) गगनजीत। (फाइल)
X
गगनजीत। (फाइल)गगनजीत। (फाइल)

  • पानीपत की देशराज कॉलोनी की घटना, इलेक्ट्रिशियन का काम करता था मृतक

दैनिक भास्कर

Oct 17, 2019, 07:06 PM IST

पानीपत। देशराज कॉलोनी की गली नंबर 5 में बुधवार शाम को एक इलेक्ट्रिशियन ने फेसबुक पर लाइव आकर फांसी लगा ली। उसकी पत्नी 37 दिन पहले मायके चली गई थी। इलेक्ट्रिशियन पहले तीनों बेटों को पत्नी के पास छोड़कर आया और फिर यह कदम उठाया। छोटे भाई ने बयान दिया कि मानसिक परेशानी के चलते भाई ने यह कदम उठाया है, इसमें किसी का कोई कसूर नहीं है। पुलिस ने गुरुवार को पोस्टमॉर्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया है। मामले में सीआरपीसी की धारा 174 के तहत कार्रवाई की गई है। 

 

देशराज कॉलोनी निवासी 42 वर्षीय गगनजीत पुत्र रमेश चंद्र इलेक्ट्रिशियन था। छोटे भाई साहिल ने बताया कि 9 सितंबर को गगन काम पर गया था। उसकी पत्नी पूजा बड़े बेटे 13 वर्षीय करण को दवाई लाने की बात कहकर गई थी। वह करण से छोटे बेटे 8 वर्षीय तरुण व 4 वर्षीय लच्छू को भी अपने साथ ले गई थी। शाम को गगन काम से लौटा तो पूजा नहीं आई। इस पर पिता-पुत्र ने उनकी तलाश शुरू की। ससुराल में फोन लगाया तो पता चला कि पूजा अपने दोनों बच्चों को लेकर मायके कालू पीर कॉलोनी में पहुंच गई है। करीब 10 दिन बाद सास तरुण को गगनजीत के पास छोड़ गई। कुछ दिन बाद गगन लच्छू को भी ले आया था। 

 

बहन को दूध लेने भेजा और फंदे पर लटका 
साहिल ने बताया कि गगनजीत अपने तीनों बेटों को बुधवार शाम करीब 5 बजे पत्नी के पास छोड़ आया। बच्चों को छोड़कर वह घर के बाहर से ही भाग आया। घर पर उसकी मां चंचल व बहन अंजू थी। आते ही उसने बहन को चाय बनाने के लिए बोला। दूध नहीं होने पर अंजू दूध लेने चली गई और गगनजीत ऊपर अपने कमरे में चला गया। कमरे में जाकर उसने टीवी की आवाज तेज कर दी और फेसबुक पर लाइव आकर फंदा लगा लिया। बहन चाय लेकर गई तो भाई को लटका देखकर चिल्लाने लगी। लोगों ने दरवाजा तोड़कर उसको नीचे उतारा। अस्पताल में उसे मृत घोषित कर दिया।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना