• Hindi News
  • Haryana
  • Panipat
  • Panipat News haryana news lakayukta39s comment corruption is dangerous for society like aids not controlled it will spread like fire of the forest

लाेकायुक्त की टिप्पणी- भ्रष्टाचार समाज के लिए एड्स जैसा खतरनाक, कंट्राेल नहीं किया ताे जंगल की अाग की तरह फैलेगा

Panipat News - गबन के मामलाें में मनाना गांव के पूर्व सरपंच काे बचाने अाैर कराेड़ाें के गबन का मामला काे लेकर शुक्रवार काे...

Feb 15, 2020, 08:26 AM IST

गबन के मामलाें में मनाना गांव के पूर्व सरपंच काे बचाने अाैर कराेड़ाें के गबन का मामला काे लेकर शुक्रवार काे लाेकायुक्त हरियाणा ने फैसला करते हुए कहा कि सभ्य समाज में भ्रष्टाचार कैंसर जैसी बीमारी है। यदि इसका समय पर पता नहीं लगाया जाता है तो ये देश की तरक्की में बाधा है। करप्शन वायरस की तुलना एचआईवी से होने वाले एड्स से की जा रही है जाे लाइलाज है। इसे रॉयल चोरी भी कहा जाता है। इससे अर्थव्यवस्था भी प्रभावित हाेती है। इससे कंट्राेल नहीं किया गया ताे ये जंगल की अाग की तरह फैलेगा।

बिना कार्य कराए सरपंच ने पंचायत खाते से निकले थे 15 लाख रु

शिकायतकर्ता राजेंद्र राठी ने बताया कि 14 मई 2014 काे तत्कालीन डीसी ने एक्सईएन पंचायती राज काे 15 दिन के लिए गांव मनाना के तत्कालीन सरपंच अजय(अब डेथ चुकी है) के पूरे कार्यकाल के कार्याें की जांच के अादेश दिए थे, लेकिन एक्सईएन पंचायती राज ने रिमाइंडर के बाद भी जांच नहीं की थी। वहीं बीडीपीअाे समालखा ने डीडीपीअाे काे सरपंच के खिलाफ अारटीअाई में रिकाॅर्ड जानबूझकर न देने का दाेषी मानकर अादेश पारित करके भेजा था, लेकिन सरपंच ने रिकाॅर्ड चाेरी हाेने की झूठी शिकायत दर्ज करा दी थी। इस दौरान सरपंच ने पंचायत खाते से बिना कार्य कराए 15 लाख रुपए निकाल लिए थे। पंचायती राज में मजदूराें की डबल हाजरी, मृतकाें की पैंशन का मामला भी था। वहीं एसअाईटी अब तत्कालीन अफसराें की भूमिका की जांच करेगी। इसमें ग्राम सचिव कार्यवाहक एसईपीअाे कार्यालय समालखा नीरज कुमार, तत्कालीन समालखा बीडीपीअाे रामफल, डीडीपीअाे पानीपत शमशेर सिंह नेहरा, पूर्व डीडीपीअाे पानीपत सुरेश कुमार, एक्सईएन पानीपत पंचायती राज पर पद का दुरूपयोग करके सरपंच अजय कुमार काे गबन के मामलाें में बचाने व सभी सरकारी स्कीमों के कराेड़ाें के गबन की जांच होगी।

3 अाईपीएस अफसराें की एसअाईटी बनेगी

लाेकायुक्त हरियाणा ने 3 अाईपीएस अफसराें की एसअाईटी कमेटी बनाने का अादेश दिया है ताे वहीं एसअाईटी कमेटी से कार्रवाई पूरी कर तीन माह में रिपाेर्ट भी मांगी हैं। वहीं एक स्पेशल अाॅडिट टीम भी बनाने के निर्देश दिए गए हैं।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना