--Advertisement--

विज्ञान प्रदर्शनी में लकड़ी और कागज के मॉडल ही होंगे मान्य

Dainik Bhaskar

Jan 14, 2019, 04:12 AM IST

Panipat News - राज्य स्तरीय जवाहर लाल नेहरू विज्ञान प्रदर्शनी में विद्यार्थी अब केवल लकड़ी और कागज के बने मॉडल ही पेश कर सकेंगे।...

Panipat News - haryana news only wooden and paper models will be recognized in science exhibition
राज्य स्तरीय जवाहर लाल नेहरू विज्ञान प्रदर्शनी में विद्यार्थी अब केवल लकड़ी और कागज के बने मॉडल ही पेश कर सकेंगे। बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए एससीईआरटी ने यह कदम बढ़ाया है। थर्माकोल और प्लास्टिक से बने मॉडल को पूर्ण रूप से प्रतिबंधित करते हुए सभी स्कूलों में सर्कुलर जारी कर दिया गया है।

प्रदूषण के खिलाफ शिक्षा विभाग कई अभियान चला रहा है। रैली, नुक्कड़ नाटक, गोष्ठी, सेमीनार आदि का आयोजन किया जा रहा है। इस क्रम में ही एक और बड़ा फैसला लिया गया हैै। इसकी शुरूआत विज्ञान प्रदर्शनी से की जा रही है। राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) में 21 जनवरी को राज्य स्तरीय जवाहर लाल नेहरू विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन किया जा रहा है। इस प्रदर्शनी में थर्माकोल और प्लास्टिक से बनाए गए मॉडल को शामिल नहीं किया जाएगा। अब बच्चों को विज्ञान के मॉडलों में लकड़ी और कागज का ही प्रयोग करना होगा।

थर्माकोल और प्लास्टिक का नहीं किया जा सकता है निस्तारण: पिछले दिनों राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद के अधिकारियों की बैठक में इस प्रारूप पर चर्चा की गई थी। अधिकारियों ने कहा कि प्रदर्शनी के माध्यम से बच्चों को भविष्य या विज्ञान से जुड़ी चीजों को परिकल्पना करने को कहा जाता है। जबकि प्रदूषण का मुख्य कारण थर्माकोल और प्लास्टिक ही है। क्योंकि इनका निस्तारण करना असंभव है। यह दैनिक जीवन में शामिल होती जा रही हैं।

तीन दिवसीय होगी प्रदर्शनी : राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद (एससीईआरटी) में 21 जनवरी को तीन दिवसीय राज्य स्तरीय जवाहर लाल नेहरू विज्ञान, गणित और पर्यावरण प्रदर्शनी का आयोजन किया जाएगा। प्रदर्शनी में प्रतिभागी विज्ञान, गणित व पर्यावरण के मॉडल प्रस्तुत करेंगे।

पहला या दूसरा लेने वाला ही कर सकेगा प्रतिभागिता

एससीईआरटी ने सर्कुलर जारी करते हुए निर्देश दिए हैं कि राज्य स्तरीय प्रदर्शनी में वही प्रतिभागी भाग ले सकेंगे जिन्होंने जिला स्तरीय प्रदर्शनी के 6 विषयों में पहला व दूसरा स्थान प्राप्त किया हो। एक विषय के मॉडल के लिए एक छात्र और अध्यापक भाग ले सकेगा।

पर्यावरण बचाने को बढ़ाया गया है कदम


X
Panipat News - haryana news only wooden and paper models will be recognized in science exhibition
Astrology

Recommended

Click to listen..