मरे हुए व्यक्ति काे टेम्पू से उतार गंडासी मारी, परिजनाें काे नहीं उठाने दिया शव

Panipat News - जावा काॅलाेनी में मंगलवार रात रेहड़ी संचालक सुनील उर्फ सिंगा की हत्या के मामले में सीअाईए-2 ने 6 अाराेपियाें काे...

Jan 16, 2020, 08:25 AM IST
Panipat News - haryana news the dead person was removed from the tempo by the gandasi the dead bodies were not allowed to be taken
जावा काॅलाेनी में मंगलवार रात रेहड़ी संचालक सुनील उर्फ सिंगा की हत्या के मामले में सीअाईए-2 ने 6 अाराेपियाें काे हिरासत में लिया है। बेटे साैरभ ने बताया कि हत्या के बाद फूफा पवन कुमार पिता के शव काे टेम्पू में अस्पताल लाने लगे ताे अाराेपियाें ने राेक लिया। शव काे उतारकर दाेबारा गंडासी व लाठी मारीं। बचाने पर फूफा व टेम्पू ड्राइवर काे भी पीटा। तभी सभी अाराेपी बेटे काे मारने के लिए उसके पीछे दाैड़े, पर वह बच निकला। हमले में बेटा, फूफा व पड़ाेसी माेनू भी चाेटें अाई हैं।

बुधवार काे सिविल अस्पताल में पाेस्टमार्टम के दाैरान परिजन शव काे सड़क पर रखकर प्रदर्शन की तैयारी में थे। तभी सीएम मनाेहरलाल की यात्रा अस्पताल के सामने सेे निकलनी थी। डीएसपी संदीप अाैर किला एसएचअाे अत्तर सिंह ने कहा कि अाराेपी गिरफ्तार कर लिए हैं, जाे बचे हैं उन्हें भी गिरफ्तार कर लेंगे। परिजनाें काे भराेसा नहीं दिया ताे पुलिस बेटे, फूफा, ताऊ रविन्द्र व संजीव काे लेकर सीअाईए-2 में गई। वहां पर 6 अाराेपियाें काे देखने के बाद शव उठाया। किला एसएचअाे अत्तर सिंह ने बताया कि घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में अाराेपी जाते हुए नजर अा रहे हैं। कुछ अाराेपियाें से पूछताछ कर रहे हैं। मामले की जांच सीअाईए कर रही है। जल्द ही खुलासा करेंगे।

जावा काॅलाेनी में सुनील की हत्या का मामला, आरोपियों के हमले में बेटा, फूफा अाैर पड़ाेसी भी हुआ घायल

सीएम की यात्रा से पहले पुलिस ने अरेस्ट आरोपी दिखाया ताे परिजन उठा ले गए शव

पति सुनील की हत्या के बाद अस्पताल में विलाप करती प|ी विजय लक्ष्मी।

भास्कर न्यूज | पानीपत

जावा काॅलाेनी में मंगलवार रात रेहड़ी संचालक सुनील उर्फ सिंगा की हत्या के मामले में सीअाईए-2 ने 6 अाराेपियाें काे हिरासत में लिया है। बेटे साैरभ ने बताया कि हत्या के बाद फूफा पवन कुमार पिता के शव काे टेम्पू में अस्पताल लाने लगे ताे अाराेपियाें ने राेक लिया। शव काे उतारकर दाेबारा गंडासी व लाठी मारीं। बचाने पर फूफा व टेम्पू ड्राइवर काे भी पीटा। तभी सभी अाराेपी बेटे काे मारने के लिए उसके पीछे दाैड़े, पर वह बच निकला। हमले में बेटा, फूफा व पड़ाेसी माेनू भी चाेटें अाई हैं।

बुधवार काे सिविल अस्पताल में पाेस्टमार्टम के दाैरान परिजन शव काे सड़क पर रखकर प्रदर्शन की तैयारी में थे। तभी सीएम मनाेहरलाल की यात्रा अस्पताल के सामने सेे निकलनी थी। डीएसपी संदीप अाैर किला एसएचअाे अत्तर सिंह ने कहा कि अाराेपी गिरफ्तार कर लिए हैं, जाे बचे हैं उन्हें भी गिरफ्तार कर लेंगे। परिजनाें काे भराेसा नहीं दिया ताे पुलिस बेटे, फूफा, ताऊ रविन्द्र व संजीव काे लेकर सीअाईए-2 में गई। वहां पर 6 अाराेपियाें काे देखने के बाद शव उठाया। किला एसएचअाे अत्तर सिंह ने बताया कि घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में अाराेपी जाते हुए नजर अा रहे हैं। कुछ अाराेपियाें से पूछताछ कर रहे हैं। मामले की जांच सीअाईए कर रही है। जल्द ही खुलासा करेंगे।

इनके खिलाफ दर्ज हुअा हत्या का केस

किला पुलिस ने जावा काॅलाेनी के ईशम के बेटे लखन उर्फ छाेटू अाैर तरुण, ईशम के भाई सतीश, लखन का चचेरा भाई अमित अाैर विशाल, लखन के दाेस्त नदीम, नईम, वसीम, महबूब, अमन महला, शुभम शर्मा, सचिन, सागर व इनके अन्य साथियाें पर हत्या, मारपीट का केस दर्ज हुअा है। सीअाईए-2 नदीम, सागर, शुभम शर्मा, अमन महला, अंकित अाैर महबूब काे हिरासत में ले पूछताछ कर रही है। वहीं हत्या के बाद ईशम का परिवार घर पर ताला लगाकर फरार हाे गया।

हत्या की वजह : एक साल पहले झगड़े की रंजिश

नूरवाला की जावा काॅलाेनी निवासी 18 वर्षीय साैरभ 11वीं कक्षा में पढ़ता है अाैर अपने माता-पिता का अकेला बेटा है। बेटे ने बताया कि एक साल पहले सुनील की लखन व तरुण के साथ जानवर काटने काे लेकर झगड़ा हाे गया था। जिसका फैसला हाे गया था। तब से अाराेपी पिता से रंजिश रखने लगे। पिता देवी मंदिर राेड पर रेहड़ी लगाते हैं। मंगलवार काे रेहड़ी नहीं लगाई थी। रात काे वह बेटे के साथ रेहड़ी पर चाऊमीन खा रहा था। तभी नदीम व सागर ने पहले वाले झगड़े काे लेकर पिता के साथ मारपीट की। लाेगाें ने बीच बचाव कर दिया। वह पिता काे लेकर घर चला गया। फिर 20-22 अाराेपी डंडे, राॅड, देसी पिस्ताैल, तलवार व गंडासी ले आए और घर के बाहर पिता पर हमला बाेला। बेटा, फूफा पवन व पड़ाेसी माेनू छुड़ाने अाए ताे उनकाे भी पीटा।

X
Panipat News - haryana news the dead person was removed from the tempo by the gandasi the dead bodies were not allowed to be taken

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना