विरोध / वकीलों के धरने से हाईकोर्ट ने जताई आपत्ति, कहा- गेट से हटेंगे या प्रशासन को कहा जाए



judges objected to the lawyers who were protesting
X
judges objected to the lawyers who were protesting

  • हाईकोर्ट के गेट पर धरना दे रहे वकीलों पर जजों ने जताई कड़ी आपत्ति
  • लाउड स्पीकर लगाकर दिनभर भाषणबाजी करना क्या न्यायिक प्रक्रिया में दखलअंदाजी नहीं है

Dainik Bhaskar

Aug 15, 2019, 03:36 AM IST

चंडीगढ़ (ललित कुमार). वकील काम नहीं करना चाहते तो यह उनकी मर्जी, लेकिन उनके तौर-तरीकों पर हाईकोर्ट को सख्त आपत्ति है और बार एसोसिएशन इस पर जवाब दे। हाईकोर्ट के गेट के आगे टैंट लगाकर लाउड स्पीकर पर सारा दिन भाषणबाजी करना क्या न्यायिक प्रक्रिया में दखलअंदाजी नहीं है। गेट पर लाउड स्पीकर लगाने की अनुमति किसने दी। चीफ जस्टिस कृष्ण मुरारी, जस्टिस राजीव शर्मा और जस्टिस राकेश कुमार जैन के फुल बेंच ने बुधवार को सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के प्रेजीडेंट और सेक्रेटरी से पूछा कि गेट से खुद हटने का फैसला लेंगे या कोर्ट में मौजूद चंडीगढ़ के डीजीपी, होम सेक्रेटरी और एडवाइजर को कहा जाए। वकील बार रूम या आफिस में जाएं और सारा दिन भाषणबाजी करें, लेकिन यहां नहीं होने दिया जाएगा। अब शुक्रवार को सुनवाई तय की है और डीजीपी व होम सेक्रेटरी को हाजिर रहने के निर्देश दिए गए। 

 

क्या हाईकोर्ट से बाहर निकलते डर लगता है 

हाईकोर्ट ने कहा कि सेक्रेटेरिएट जाकर आंदोलन क्यों नहीं कर रहे। क्या डर लगता है। इससे तो लगता है कि वकीलों का आंदोलन सरकार के खिलाफ न होकर जजों के खिलाफ है, क्योंकि अदालतों को काम नहीं करने दिया जा रहा। 
 

कोर्ट में तो दूर चैंबर में बैठना भी है मुश्किल 

लाउड स्पीकर की तेज आवाज के चलते कोर्ट रूम में बैठना तो दूर वे अपने चैंबर में नहीं बैठ सकते। चीफ जस्टिस ने कहा कि  जो वे कहना चाहते हैं वो बात अब सबके सामने है। 

 

ट्रिब्यूनल का फैसला टला, फिर भी कर रहे विरोध 
फुल बेंच ने कहा कि 2 अगस्त को हाईकोर्ट ने संज्ञान ले लिया था। कोर्ट ने प्रदेश सरकार से एडवोकेट जनरल बलदेव राज महाजन के कहने पर ट्रिब्यूनल के गठन संबंधी अधिसूचना व इसे लागू करने के फैसले को फिलहाल टाल देने की बात कही थी। अगले आदेशों तक हाईकोर्ट और डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में नए और पुराने सर्विस मामलों पर सुनवाई किए जाने की बात कही थी। मुख्यमंत्री से भी इस मामले में बार एसोसिएशन के पदाधिकारी मिल चुके हैं। फिर वकीलों में असंतोष का कारण क्या है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना