चुनाव / 90 केंद्रों पर होगी मतगणना, हर विधानसभा के 5 मतदान केंद्रों की वीवीपैट से वोटर स्लिप होगी काउंट



lok sabha election haryana counting on 90 vidhan sabha for 10 lok sabha seat
X
lok sabha election haryana counting on 90 vidhan sabha for 10 lok sabha seat

Dainik Bhaskar

May 22, 2019, 06:41 PM IST

पानीपत. हरियाणा में 12 मई को हुए लोकसभा चुनाव की मतगणना गुरुवार सुबह 8 बजे शुरू हो गई है। चुनाव आयोग ने मतगणना की सभी तैयारियां पूरी कर ली है। प्रदेशभर में 39 स्थानों पर 90 मतगणना केंद्र बनाए गए हैं। जहां मतगणना की जाएगी। हरियाणा पुलिस ने इसके लिए विशेष सुरक्षा व्यवस्था के प्रबंध किए हैं।

वीवीपैट मशीनों की वोटर स्लिप के मिलान के बाद ही घोषित होगा परिणाम

  1. मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजीव रंजन ने कहा कि 17वीं लोकसभा में जीतने वाले उम्मीदवारों को प्रमाण-पत्र जारी किए जाएंगे। भारत निर्वाचन आयोग के दिशानिर्देशों के अनुसार इस बार ईवीएम मशीनों की गणना के बाद हर विधानसभा क्षेत्र के पांच मतदान केन्द्रों की वीवीपैट मशीनों की वोटर-स्लिप की गणना मैन्युअली की जाएगी। उसके बाद वोटों के मिलान उपरांत ही परिणाम घोषित किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि हरियाणा की 10 लोक सभा सीटों के अन्तर्गत 90 विधानसभा क्षेत्र पड़ते है, 450 वीवीपैट मशीनों की वोटर स्लिप का मिलान किया जाएगा। 

  2.  इलेक्ट्रॉनिकल ट्रांसमिटिड पोस्ट बैलेट सिस्टम (ईटीबीपीएस) की गणना हरियाणा में पहली बार की जाएगी। इस बार भिवानी-महेंद्रगढ़, रोहतक लोक सभा क्षेत्रों में बड़ी संख्या में पोस्टल बैलेट (ईटीबीपीएस) प्राप्त हुए है जिनकी गणना ईवीएम मतगणना आरंभ होने से पहले मैन्युअली की जाएगी। 

  3. उन्होंने यह भी स्पष्ट करते हुए बताया कि नोटा का वोट मान्य वोट नहीं होता इसलिए नोटा का अधिक वोट मिलने की स्थिति में फिर से मतदान नहीं होता। इस स्थिति में सबसे अधिक वोट प्राप्त करने वाले उम्मीदवार को विजयी घोषित किया जाता है। उन्होंने यह भी बताया कि यदि दो उम्मीदवारों को बराबर-बराबर वोट मिलते है, तो उस स्थिति में भी पुन: मतदान नहीं करवाया जाता। भारत निर्वाचन आयोग को इसकी सूचना देनी होती है तथा ड्रा ऑफ लोटस के माध्यम से परिणाम घोषित किया जाता है।

  4.  डीजीपी मनोज यादव ने बताया कि रोहतक, सोनीपत, झज्जर, भिवानी, सिरसा और हिसार जिलों में केंद्रीय सशस्त्र अर्धसैनिक बलों की 10 अतिरिक्त कंपनियां मिली हैं। राज्य भर में कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए घोड़ा पुलिस भी तैनात की गई है।

  5. प्रदेश में कुल 35 कंपनियां को मतगणना डयूटी पर लगाया गया है। जिसमें सेंट्रल पैरामिलिट्री की 23 और इंडियन रिजर्व बटालियन की 12 कंपनी शामिल हैं। इन कंपनियों में कुल 3150 सुरक्षाकर्मी होंगे। डीजीपी ने कहा कि कोई भी तत्व जो कानून व्यवस्था को बिगाड़ने व मतगणना प्रक्रिया को बाधित करने की कोशिश करेगा उसके खिलाफ कानून अनुसार सख्त कार्रवाई की जाएगी। यादव ने नागरिकों से आग्रह किया कि वे किसी भी प्रकार की अफवाहों पर ध्यान न दें।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना