सोनीपत / ‌~2.75 करोड़ की लॉटरी की विजेता बता महिला से ~1.06 करोड़ ठगे



Lottery winner woman cheated 1.06 crore by fraud
X
Lottery winner woman cheated 1.06 crore by fraud

  • फोन पर ग्लोबल वाॅटसएप अवाॅर्ड जीतने का आया था मैसेज
  • आरबीआई के जनरल मैनेजर, समेत 9 पर धोखाधड़ी का केस 
     

Dainik Bhaskar

Sep 21, 2019, 04:46 AM IST

सोनीपत.  शहर के सेक्टर-15 में रहने वाली एक महिला ने आरबीआई के जनरल मैनेजर समेत 9 लोगों पर एक करोड़ 6 लाख 42 हजार रुपए ठगने का आरोप लगाया है। महिला ने बताया कि वाॅटसएप ग्लोबल अवाॅर्ड-2019 का विजेता बनने और उसकी 2 करोड़ 75 लाख की लॉटरी लगने का झांसा देकर ठगी की गई।

 

महिला ने बताया कि जनरल मैनेजर आरबीआई अनिता शर्मा, आरबीआई (फॉर्जन एक्सचेंज डिपार्टमेंट) जनरल मैनेजर राहुल सिन्हा, कनाडा एंबेसी के डॉक्टर हैरी निल्सन समेत 9 लोगों ने प्लानिंग से उन्हें ठगी का शिकार बनाया और अब फरार हो गए। जिन मोबाइल नंबरों से आरोपी बात करते थे, वह भी बंद हैं। सिविल लाइन थाना पुलिस ने महिला की शिकायत पर धाेखाधड़ी, फेक दस्तावेज तैयार करने के तहत केस दर्ज कर लिया है। 

 

पीड़ित महिला सरिता ने सिविल लाइन थाना पुलिस को शिकायत देकर बताया कि अगस्त माह में उसके मोबाइल फोन पर एक मैसेज आया। इसमें कहा कि वह ग्लोबल वाॅटसएप अवाॅर्ड की विजेता बन गई है। इसमें 2 करोड़ 75 लाख की लॉटरी लगी है। उसने दिए गए मोबाइल पर संपर्क किया तो डॉक्टर निल्सन नाम के शख्स से बात हुई।

 

आरोपी ने कहा कि आप यह लॉटरी जीत चुके हैं और यह रकम आप तक पहुंचाई जाएगी। इसके बाद आरोपी ने आरबीआई में खाता खुलवाने की बात कही। आरबीआई के मैनेजर राहुल सिन्हा के तौर पर भी उनसे बात की गई। इसके बाद खाता खुलवाने व राशि पौंड में होने के कारण इसे एक्सचेंज कराने के नाम पर करीब 16 लाख 42 हजार रुपए अपने खातों में डलवा लिए। आरोपियों ने कहा कि यह रकम सीधे ही उन तक पहुंचा देंगे। इसके बाद आरोपी उनके घर आए और पांच बंडल में पाैंड होने की बात कही। 

 

इधर, पुलिस का कहना है कि जल्दी ही इस मामले का खुलासा किया जाएगा। आरोपियों तक पहुंचनें के लिए साइबर सेल की भी मदद ली जाएगी, जाे अाराेपी नामजद किए गए हैं उनमें कनाडा एम्बेंसी के डाॅ. हैरी निल्सन, जनरल मैनेजर आरबीआई अनिता शर्मा, आरबीआई (फॉर्जन एक्सचेंज डिपार्टमेंट) जनरल मैनेजर राहुल सिन्हा, पुल सेलमेट, समर खान, हरेंद्र रावत, कोनसम अनीता, धीरू मिश्रा, मनोज विश्वाकर्मा शामिल हैं।

 

आरोपियों ने कहा था- पौंड पर रगड़ने होंगे 2-2 हजार के नोट, झांसा देकर रकम लेकर फरार
आरोपियों ने कहा कि इन पौंड का रंग काला सिक्योरिटी प्रपज से है। इस पर जैसे इंडियन करंसी का 2 हजार का नोट रगड़ा जाएगा तो यह कागज पोंड में बदल जाएगा। आरोपियों ने सैंपल के तौर पर ऐसा करके भी दिखाया। आरोपी यह कहकर घर से चले गए कि फिलहाल उनके पास पौंड पर इस्तेमाल हाेने वाला पाउडर नहीं है। पाउडर लेकर दोबारा आएंगे तब तक हर पौंड पर रगड़ने के लिए दो-दो हजार के नोट तैयार रखें। आरोपियों ने हर पौंड पर एक दो हजार का नोट रगड़ने का बंदोबस्त करने को कहा। उन्होंने करीब 90 लाख रुपए इकट्‌ठा कर लिए। इसके बाद आरोपियों को सूचना दी। आरोपियों ने कहा कि वह एक दो दिन में आएंगे और पौंंड पर पाउडर रगड़कर उसे बदलकर चले जाएंगे। आरोपी 16 सितंबर 2019 को उनके घर आए और उन्हें धोखे मेें रखकर 90 लाख रुपए की नकदी लेकर फरार हो गए। अब आरोपियों के नंबर बंद हैं और उनका उनसे संपर्क नहीं हो रहा। 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना