हरियाणा / मैरीकॉम बोलीं- मेरी मंजिल के रास्ते में जो भी आएगा, उसे छोड़ूंगी नहीं

मैरीकॉम ने दैनिक भास्कर से विशेष बातचीत की। मैरीकॉम ने दैनिक भास्कर से विशेष बातचीत की।
सोनीपत. विश्व चैंपियन मेरीकॉम लिटिल एंजेल स्कूल के मुक्केबाजी रिंग में मैरीकॉम अपने अंदाज में नजर आईं। सोनीपत. विश्व चैंपियन मेरीकॉम लिटिल एंजेल स्कूल के मुक्केबाजी रिंग में मैरीकॉम अपने अंदाज में नजर आईं।
X
मैरीकॉम ने दैनिक भास्कर से विशेष बातचीत की।मैरीकॉम ने दैनिक भास्कर से विशेष बातचीत की।
सोनीपत. विश्व चैंपियन मेरीकॉम लिटिल एंजेल स्कूल के मुक्केबाजी रिंग में मैरीकॉम अपने अंदाज में नजर आईं।सोनीपत. विश्व चैंपियन मेरीकॉम लिटिल एंजेल स्कूल के मुक्केबाजी रिंग में मैरीकॉम अपने अंदाज में नजर आईं।

  • मुक्केबाजी में विश्व चैंपियन ने कहा- ओलंपिक गोल्ड मेरी मंजिल 
  • बोलीं- मुझे कमजोर समझने की कोशिश की गई, तीन बच्चे होने के बाद भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर परचम लहराया

दैनिक भास्कर

Nov 24, 2019, 02:32 PM IST

अनिल बंसल, सोनीपत. शादी से पहले विश्व चैंपियन। शादी के बाद विश्व चैंपियन। चैंपियन का तमगा आज भी बरकरार। ओलंपिक में भी मेडल। अब अगर नहीं है तो वह ओलंपिक गोल्ड मेडल। मेरी कोशिश अब ओलंपिक गोल्ड मेडल को ही हासिल करना है, मेरी मंजिल के रास्ते में जो भी दुश्मन आया उसे मैं छोडूंगी नहीं, क्योंकि एक बार जो मैंने ठान लिया उसके बाद मैं खुद की भी नहीं सुनती। जीत को अपनी जिद्द बनाने वाली ओलंपिक कांस्य पदक विजेता एमसी मैरीकॉम से दैनिक भास्कर से बातचीत में यह बात कही। वे यहां शनिवार को एक स्कूल के समारोह में पहुंची थीं। 

मैरीकॉम ने कहा कि 20 साल के कॅरिअर में मेरी उपलब्धियों के इतर अक्सर मुझे कमजोर करने की कोशिश की गई है। आज लोग लड़कियों को आसानी से खिलाना नहीं चाहते। उन्होंने तो तीन बच्चे होने के बाद भी अपनी मुक्केबाजी को अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पर जारी रखा है। चुनौती देते हुए बोलीं- कोई ऐसा करके तो दिखाए।

निखत अभी युवा, ओलंपिक मेडल अनुभव से आएगा
युवा मुक्केबाज निखत जरीन के साथ ओलंपिक ट्रायल को लेकर संभावित भिड़ंत पर मेरीकॉम ने नाराजगी जताई। मैरीकॉम ने कहा कि बेशक निखत युवा है और वह लड़ भी सकती है, लेकिन ओलंपिक मेडल के लिए जो चीज सबसे जरूरी है वह है अनुभव, जो आज सबसे ज्यादा उनके पास है। आप ये भी जानिए कि मुक्केबाजी में आज मेरे पास सब कुछ है। अगर नहीं है तो वह है ओलंपिक गोल्ड। इसे मैंने ठान लिया है, जो लोग मुझे जानते हैं उन्हें पता है मैं अपने दुश्मन को हराए बिना छोड़ती नहीं हूं।

प्रो लीग का बॉयकाट भी कर सकती है मैरीकॉम
2 दिसंबर से प्रस्तावित प्रो मुक्केबाजी लीग में निखत और मेरीकॉम की भिड़ंत संभावित है, लेकिन बताया जा रहा है कि अगर ओलंपिक क्वालीफाई के लिए मेरीकॉम को निखत के साथ लड़ने के लिए मजबूर किया गया तो वह लीग से पीछे हट सकती हैं। एमसी मैरीकॉम बिग बाउट लीग में एनसीआर पंजाब रॉयल्स का हिस्सा हैं तो उनकी चिर प्रतिद्वंद्वी निखत जरीन ओडिशा वॉरियर्स के लिए खेलेंगी। बताया गया है कि ओलंपिक क्वालीफायर और लीग दोनों एक ही समय है तो वे फिर लीग को छोड़ देंगी। निखत जरीन (54 किग्रा) मौजूदा जूनियर विश्व चैंपियन हैं।

DBApp

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना