--Advertisement--

पानीपत / 15 दिन के बच्चे की कातिल उसकी मां ही निकली, ब्लेड से काटी थी बेटे की कलाई



पूजा पूजा
X
पूजापूजा

  • पति से मनमुटाव मायके में रह रही थी पूजा
  • डिलीवरी के बाद ससुराल भेजने की चल रही थी तैयारी

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 03:50 AM IST

पानीपत. सेक्टर-29 में फ्लोरा चौक के पास 5 दिन पहले हुई 15 दिन के नवजात बच्चे की हत्या की कातिल उसकी मां 23 वर्षीय पूजा ही निकली। उसने पुलिस को बताया कि पति से मनमुटाव होने के कारण वह मायके में रह रही थी। डिलीवरी हुई तो पति देखने तक नहीं आया। वह ससुराल नहीं जाना चाहती थी, जबकि डिलीवरी के बाद उसे ससुराल भेजने की तैयारी चल रही थी।

 

इससे नाराज महिला ने ब्लेड से अपने बच्चे की दोनों हाथों की कलाई काट दी। इसके बाद वह छत पर घूमती रही। काफी खून बह जाने के बाद जब उसे लगा कि बेटा मर गया तो उसने फोन करके अपनी मां सीमा को बुलाया। परिजन बच्चे को निजी अस्पताल में ले गए।

 

हालत गंभीर होने पर बच्चे को चंडीगढ़ रेफर कर दिया। जहां पर दूसरे दिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। पुलिस को बरगलाने के लिए उसने कई बार झूठ बोला। बताया कि बिल्ली या कुत्ते ने पंजा या फिर मुंह से काटा है, जिसके कारण बच्चे को चोट लगी। पुलिस ने सख्ताई से पूछताछ की तो वह टूट गई और सच उगल दिया। आरोपी मां को पुलिस ने शुक्रवार सुबह गिरफ्तार कर लिया। उसे न्यायालय में पेश करके जेल भेज दिया गया।   
 

पूजा की ऑपरेशन से हुई थी डिलीवरी :  
डीएसपी हेडक्वार्टर सतीश कुमार वत्स ने बताया कि आरोपी पूजा मूलतः बिहार के छपरा की रहने वाली है। उसके पिता मुन्ना सिंह और मां सीमा फ्लोरा चौक के पास जगबीर जाट कॉलोनी में किराए के कमरे में रह रहे हैं। पूजा की करीब दो साल पहले यूपी के बलिया जिले के बजीदपुर गांव के रामू के साथ शादी हुई थी।

 

करीब 7 माह से पूजा अपने पिता के पास फ्लोरा चौक पर रह रही थी। 18 नवंबर को सिविल अस्पताल में ऑपरेशन से उसका पहला बच्चा हुआ था। जिसका नाम कुनाल रखा था। वह ससुराल नहीं जाना चाहती थी। दिमागी तौर पर परेशान होकर उसने 3 दिसंबर को माता-पिता के फैक्ट्री में काम पर जाने के बाद पूजा ने ब्लेड से बेटे के दोनों हाथ की कलाई की नसें काट दीं। इसके बाद वह छत पर घूमती रही। बाद में परिजनों को सूचना दी। 4 दिसंबर की शाम को बेटे की चंडीगढ़ पीजीआई में मौत हो गई।

 

अपने तीन झूठ से पकड़ी गई :  
1. घटना के बाद मां सीमा और परिजन आए तो पूजा ने कहा कि वह बाथरूम में कपड़े धो रही थी। लौटकर आई तो बेटे के दोनों हाथ पर कपड़ा ढका था। देखा तो खून ही खून लगा था।  
2. पुलिस को पूजा और उसकी मां सीमा ने बयान दिए कि कुत्ते व बिल्ली ने अपने पंजों से या मुंह से काट लिया। किसी पर कोई शक नहीं है।   
3. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की बात सामने आई ताे पूजा ने कहा कि पड़ोस में रहने वाला युवक उसे परेशान करता था। कहता था कि तुम अच्छी लगती हो।   
 

और पकड़ी गई: पुलिस ने पूजा के बताए तीनों झूठों पर की हकीकत जानने के लिए गहराई से जांच की तो झूठ से पर्दा हट गया। युवक से पूछताछ में कुछ नहीं मिला। बाद में पुलिस ने पूजा से सख्ती से पूछताछ की तो उसने सच बता दिया। वारदात में इस्तेमाल ब्लेड व खून से सने कपड़े पूजा ने कमरे में ही छुपा दिए थे। पुलिस ने बरामद कर लिए हैं। वारदात में उसकी मां सीमा के शामिल होने के अभी तक कोई सबूत नहीं मिले। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Bhaskar Whatsapp
Click to listen..