गलतफहमी / पिता की अस्थियां बहाकर हरिद्वार से लौट रहा था परिवार, लोगों ने बच्चा चोर समझकर पकड़ा



कार में डिग्गी में बैठे छोटे बच्चे। कार में डिग्गी में बैठे छोटे बच्चे।
X
कार में डिग्गी में बैठे छोटे बच्चे।कार में डिग्गी में बैठे छोटे बच्चे।

  • बच्चों को बिठाया हुआ था कार की डिग्गी में, शक होने पर बाइक सवारों ने पीछा कर पकड़ा
  • गनीमत रही कि इसी बीच पुलिस पहुंच गई, परिवार को थाने ले गई पूछताछ करने पर सच सामने आया 

Dainik Bhaskar

Aug 14, 2019, 07:41 AM IST

कुरुक्षेत्र/लाडवा. पिछले कई दिनों से जिले में बच्चा चोर गिरोह के सक्रिय होने की चर्चाएं चल रही हैं। हालांकि अभी तक ये अफवाहें ही साबित हुई। लेकिन गिरोह के शक में कई निर्दोष लोगों के आक्रोश का शिकार हो चुके हैं। कईयों को इस शक में लेने के देने पड़ गए।

 
अब एक बार फिर सिरसा वासी एक परिवार को लोगों ने बच्चा चोर गिरोह समझ कर पकड़ लिया। अपने निर्दोष होने की दुहाई देते रहे। पर लोग नहीं माने। आक्रोशित लोगों ने परिवार के साथ धक्का मुक्की शुरू कर दी। लेकिन गनीमत रही कि इसी बीच पुलिस पहुंच गई। परिवार को थाने ले गई। करीब डेढ घंटे बाद जाकर उनका पिंड छुटा। कार सवार सिरसा के सुरेंद्र कुमार ने बताया कि वे किसी गिरोह के सदस्य नहीं हैं। कार में उनका परिवार है। उनके पिता रामनिवास का कुछ दिन पहले निधन हुआ था। उनकी अस्थियां लेकर सोमवार सुबह सिरसा से हरिद्वार गए थे। अस्थियां विसर्जित कर मंगलवार तड़के पांच बजे वापस चले पड़े। साथ में सिरसा से ही पंडित सुनील शास्त्री हरिद्वार गए थे। बताया कि कार में जगह कम थी। बच्चों को पीछे घर पर अकेला नहीं छोड़ सकते थे। वे भी साथ जाने की जिद पर अड़े थे। जगहकम होने के चलते तीन बच्चे पीछे डिग्गी में बैठ गए। डिग्गी से चुन्नी खिड़की से बांधी थी। ताकि बच्चे नीचे ना गिरें।

 

गाड़ी की डिग्गी में बैठे थे बच्चे, लोगों ने पीछा कर पकड़े 
लाडवा-पिपली मार्ग पर मंगलवार सुबह लगभग 10 बजे कार सवार कुरुक्षेत्र की तरफ जा रहे थे। कार की डिग्गी कुछ खुली थी। जिसे चुन्नी की मदद से खिड़की से बांधा हुआ था। राहगीरों की नजर डिग्गी पर गई तो उसमें तीन चार बच्चे नजर आए। लोगों ने यही समझा कि बच्चा चोर गिरोह इस कार में सवार है। बच्चों को अगवा कर ले जा रहा है। जिस पर कुछ बाइक सवार कार के पीछे लगे। रिलायंस पेट्रोल पंप के नजदीक लोगों ने कार को रोक लिया। कार में दो पुरुष, तीन महिलाएं और पांच बच्चे थे।

 

वीडियो बनाकर दिया वायरल
बच्चा चोर पकड़ने की बात आग की तरह फैली। देखते ही देखते कुरुक्षेत्र रोड पर मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। लोगों ने मोबाइल से वीडियो बना कर बच्चा चोर गिरोह पकड़ने की कहते हुए वायरल भी कर दी। बाद में पुलिस ने उनके बारे में वेरीफिकेशन की। सिरसा में परिचितों से बातचीत की। साथ ही उनके आईकार्ड व आधारकार्ड आदि की सत्यता जांची। करीब डेढ घंटे बाद जाकर उनका पीछा छूटा। डीएसपी भारत भूषण के मुताबिक बच्चा चोर गिरोह के शक में लोगों ने कार सवारों को रोका था। उनके बारे में पूरी पड़ताल की। निर्दोष मिलने पर उन्हें सिरसा जाने दिया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना