गुड़गांव / इराकी नागरिक से पुलिसकर्मी बनकर 5 हजार अमेरिकन डॉलर लूट, केस दर्ज



Robbery with foreign national in Gurgaon
X
Robbery with foreign national in Gurgaon

  • शहर में टूरिस्ट वीजा व मेडिकल वीजा पर आते हैं विदेशी
  • गुड़गांव में विदेशी नागरिक बड़ी संख्या में इलाज के लिए आते हैं

Dainik Bhaskar

Nov 19, 2019, 06:05 AM IST

गुड़गांव. गुड़गांव में विदेशी नागरिकों के साथ लूट व ठगी के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। पिछले 10 महीने में विदेशी नागरिकों के साथ 50 से अधिक वारदातें सामने आ चुकी हैं। गुड़गांव में विदेशी नागरिक बड़ी संख्या में इलाज के लिए आते हैं। यहां औसतन हर महीने एक हजार से अधिक विदेशी नागरिक इलाज के लिए आते हैं। ऐसे में वे प्राइवेट अस्पतालों में पेशंट को एडमिट कर आसपास पीजी में ही रहते हैं। 

 

गुड़गांव में विदेशी नागरिकों के साथ लूट व स्नेचिंग सहित ठगी के मामले बढ़ रहे हैं। इन सब लूट व स्नेचिंग की वारदात को आरोपी एक ही तरीके से दे रहे हैं। पुलिस कर्मी बनकर चेकिंग के नाम पर विदेशियों के साथ ठगी व स्नेचिंग की वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाते हैं। ऐसी ही एक वारदात सदर थाना क्षेत्र में दर्ज की गई है, जिसमें इराकी नागरिक से पांच हजार अमेरिकन डॉलर छीनकर फरार हो गए। पुलिस ने मौके से एक सीसीटीवी फुटेज को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। नागरिकों में जागरुकता फैलाने की जरूरत है। वे किसे दस्तावेज दिखाए और किसे नहीं।

 

रिटायर्ड एसपी महाराज सिंह ने बताया कि गुड़गांव जैसे शहर में विदेशी नागरिकों के साथ लूट, स्नेचिंग की वारदातों से शहर बदनाम होता है। इस तरह की घटनाओं में शामिल आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़कर इनके गिरोह का पर्दाफाश करना चाहिए। विदेशी नागरिक बड़ी संख्या में गुड़गांव में आते-जाते और रहते हैं। पुलिस को इसे गंभीरता से लेते हुए विदेशी

 

ऐसे दिया वारदात को अंजाम
इराकी के बगदाद शहर के रहने वाले हैथम हैदर मोहम्मद ने सदर थाना में शिकायत दी है कि 10 दिन पहले बगदाद से गुड़गांव वह  शनिवार रात करीब आठ बजे सेक्टर-39 में किसी का इंतजार कर रहा था। उसी समय उसके पास दो लोग आए और उन्होंने अपने आपको पुलिसकर्मी बताते हुए उसके दस्तावेज व अन्य सामान की चेकिंग शुरू कर दी। इसी दौरान दोनों युवकों को उन्होंने अपना पासपोर्ट भी दिखाया। उसके पास से दोनों लोगों को 10 हजार अमेरिकी डालर मिले तो उनमें से पांच हजार डालर छीनकर कार में फरार हो गए। वहीं शिकायत के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मौके पर पहुंचकर आसपास के सीसीटीवी फुटेज की जांच शुरू की। सदर थाना प्रभारी बसंत कुमार ने बताया कि एक कार सीसीटीवी फुटेज में दिखाई दे रही है। उन्होंने कहा कि एक सीसीटीवी फुटेज मिली है, जिसमें शिकायतकर्ता के अनुसार आरोपियों की कार दिखाई दे रही है। वैसे यह इरानी या इराकी नागरिक ही हैं जो पुलिस कर्मी बनकर वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। जल्द ही इस तरह के गैंग को दबोच लिया जाएगा।
 

मेडिकल वीजा में गुड़गांव में रह रहे हैं 10 हजार से अधिक विदेशी नागरिक
गुड़गांव में सऊदी अरब, इराक, इरान सहित अन्य देशों के करीब दस हजार लोग मेडिकल वीजा पर गुड़गांव में एक समय में इलाज कराने आए रहते हैं। जो सेक्टर-38, सेक्टर-39, झाड़सा, सेक्टर-29, सेक्टर-43, सेक्टर-52, डीएलएफ व सुशांत लोक आदि क्षेत्रों में बनी पीजी में रह रहे हैं। जिनसे पुलिस कर्मी बनकर लूट व स्नेचिंग कर विदेशी करंसी को लेकर फरार हो जाते हैं। पुलिस इस तरह की वारदातों को अंजाम देने वाले शातिर बदमाशों को पकड़ने में पुलिस भी नाकाम साबित हो रही है। वर्ष 2017 में गुड़गांव पुलिस ने इरानी गैंग के बदमाशों को पकड़ा था। इसके बाद पुलिस को इस तरह के लुटेरे हाथ नहीं लगे  हैं।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना