हरियाणा / 14 साल पहले बनाई सोसायटी के मेंबर तो बनाए, लेकिन जमीन कहीं भी नहीं खरीदी



Scam in Haryana Urban Development Authority
X
Scam in Haryana Urban Development Authority

  • सेक्टर में सोसायटी के प्लॉट्स देने के नाम पर बड़ा फर्जीवाडा, लाखों रुपए इकट्‌ठे कर लोगों को ठगा
  • कई लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज

Dainik Bhaskar

Aug 22, 2019, 01:57 AM IST

पंचकूला. पंचकूला में प्लॉट्स के नाम पर पहले जहां हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण पर सवाल खड़े होते रहे हैं। वहीं एचएसवीपी के सेक्टरों की जमीन दिखाकर प्लॉट और फ्लैट्स बनो के नाम पर लाखों रुपए की धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। जिसमें 14 साल तक लोगों को मेंबर बनाकर उनसे फीस वसूली गई, जिसके बाद खुद ही उन रुपयों का इस्तेमाल किया गया। 


कॉपरेटिव सोसाईटी रजिस्ट्रार की शिकायत पर यहां सेक्टर 5 पुलिस थाने में कई लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है। असल में वर्ष 2005 में एक सोसाईटी को बनाकर पंचकूला में कई कैटागिरी में प्लॉट्स देने का दावा किया गया। इसके एवज में करीब 1400 लोगों से रजिस्ट्रेशन फीस लेकर जमीन खरीदने के लिए लाखों तक को लिए गए थे। 

 

अस्सिटेंट रजिस्ट्रार कॉपरेटिव सोसाईटी रजिस्ट्रार से भाई मति दास जति दास नाम से सोसाईटी को वर्ष 2005 में रजिस्टर्ड करवाया गया था। जिसके बाद 1400 मेंबरों को जोड़ा गया, जिसमें 6 हजार रुपए रजिस्ट्रेशन फीस और उसके बाद प्लॉट की कैटागिरी के हिसाब से जमीन की इन्वेस्टमेंट के नाम पर 2 से 6 लाख रुपए प्रति मेंबर लिए गए। जिसमें चार वर्ष के दौरान लोगों को प्लॉट्स का पोजेशन देना था, लेकिन इसमें प्लॉट्स के नाम पर लोगों के करोडों रुपयों को 
ठगा गया। 
 

जांच में ये बातें आई सामने, तो दर्ज किया गया केस 
इस सोसाईटी की कार्यकारणी में कई पदों पर रहे कई पदाधिकारियों ने पिछले 14 सालों के दौरान ऑफिस खर्च, किराया, स्टॉफ और मीटिंग के नाम लाखों रुपयों को निकाला, खर्च भी दिखाया, लेकिन पूरे खर्च के बारें में दिखाए गए डॉक्यूमेंट्स में सही ब्यौरा नहीं दिया गया।

 

खेमचंद भारद्वाज के बयानों के अनुसार आरोपियों ने लोगों से इस सोसाईटी के एकाउंट में कई करोड रुपयों को जमा करवाया गया था। लोगों से बिना डेट के चेक लिए थे। प्लॉट देने का वादा 4 साल में किया गया था। वर्ष 2013 से लोगों से जमीन को खरीदने के लिए चेक दिए गए थे।

 

इस शिकायत पर दर्ज किया गया मामला
सोसाईटी के मैबर केसी भारद्वाज ने अस्सिटेंट रजिस्ट्रार कॉपरेटिव सोसाईटी ऑफिस और पंचकूला पुलिस में दी शिकायत में बताया था कि उन्हें मैंबर बनाने के लिए 6 हजार से ज्यादा राशि ली गई। उसके बाद कई कई लाख रुपए जमीन को खरीदने के लिए फंड के नाम पर लिए गया। जिसमें चार साल में प्लॉट को देने का वादा किया गया। लेकिन उसके बाद आज तक न तो हमें प्लॉट दिया गया और न ही फ्लैट। सोसाईटी के कई बार कैशियर रहे, प्रधान और सकेटरी रहे कई पदाधिकारियों ने लाखों रुपयों का फ्रॉड किया है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना