एसटीएफ ने हिसार के 2 लोगों समेत 3 और किए गिरफ्तार, कैंसर पीड़ितों का लिया था बीमा

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

सोनीपत. कैंसर पीड़ितों का बीमा कर, इसके उनकी हादसा में मौत दिखाकर क्लेम लेने के मामले में एसटीएफ ने तीन अाैर आरोपियों को गिरफ्तार किया है। यह आरोपी गिरोह के सरगना पवन के साथी हैं। पदम आरोपी हिसार के गांव धर्मखेड़ी हाल रोहतक के सेक्टर-2 में रह रहा है। नरेश धर्मखेड़ी का रहने वाला है, जबकि जोनी सरोहा लिवासपुर का रहने वाला है। पुलिस तीनों आरोपियों को रविवार को कोर्ट में पेश करेगी। 


19 अप्रैल को एसटीएफ सोनीपत ने गिरोह सरगना पवन समेत तीन आरोपियों को  पकड़ा था। इन पर आरोप है कि यह कैंसर मरीजों की मौत के बाद उनके शव को दूसरी जगह ले जाकर गाड़ी से कुचल कर सड़क दुर्घटना का रूप दे देते थे और बीमा कंपनियों से मोटी रकम ऐंठते थे। गिरोह के सरगना गांव सेवली निवासी पवन, रिंढाना निवासी मोहित व गुमाना निवासी विकास से पूछताछ में कई खुलासे किए थे। इसके बाद बल्ला गांव के सुमित, प्रदीप कम्प्यूटर ऑपरेटर व प्रमोद रोहतक को गिरफ्तार किया था। इनसे 3 लाख 50 हजार रुपए व मामले से जुड़े दस्तावेज बरामद किए गए थे।

 

एसटीएफ मामले में बारोटा चौकी में नियुक्त हवलदार अशोक व कैंसर पीड़ित पत्नी की मौत के बाद उसका क्लेम ले चुके आरोपी बेरी गांव निवासी चांद को गिरफ्तार किया था। सोनीपत के एसटीएफ प्रभारी सतीश देशवाल ने बताया कि पदम, नरेश, ओर जोनी पर गिरोह के सरगना पवन के साथ मिलकर क्लेम ऐंठने का आरोप है 

खबरें और भी हैं...