--Advertisement--

सीबीएसई स्कूलों में आइडिया पर आधारित होगी पढ़ाई

सीबीएसई ने पहली बार देशभर के शिक्षकों से शिक्षा से जुड़े विभिन्न विषयों पर केस स्टडीज मांगी है। बोर्ड ने हाल ही...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 03:36 AM IST
Panipat - study will be based on cbse schools
सीबीएसई ने पहली बार देशभर के शिक्षकों से शिक्षा से जुड़े विभिन्न विषयों पर केस स्टडीज मांगी है। बोर्ड ने हाल ही में स्कूलों को इस संबंध में सकुर्लर भेजा है। इसमें कहा है कि किसी भी सेक्टर को विकसित करने के लिए उसमें शोध की काफी आवश्यकता होती है। शिक्षण पद्धति में इसी के महत्व को ध्यान में रखते हुए इस साल पहली बार देश भर के शिक्षकों से पढ़ाई के रोचक तरीकों की केस स्टडी मांगी है। इन केस स्टडीज के माध्यम से सीबीएसई नए शिक्षकों को पढ़ाई में नवाचार करना सिखाएगी।

बोर्ड गाइडलाइंस के लिए किया जाएगा इस्तेमाल

सीबीएसई को जो जानकारी यानी स्टडी सीबीएसई को भेजी जा रही है, वह यदि किसी शिक्षक ने तैयार की है, तो उसे स्कूल प्रिंसिपल से सत्यापन करवाना होगा। सत्यापन के तहत प्रिंसिपल यह सुनिश्चित करेंगे कि जो मटेरियल शिक्षक भेज रहे हैं, वह उनका स्वयं का प्रयोग है। बोर्ड की ओर से लर्निंग, टीचिंग सिस्टम, करिकुलम, इंक्लूसिव एजुकेशन, ईको फ्रेंडली एजुकेशन सिस्टम जैसे विषयों पर तैयार की जाने वाली रिसर्च स्टडी में से निकलने वाले अच्छे उदाहरण को बोर्ड गाइडलाइंस के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकेगा। वहीं शिक्षण की खामियों के समाधान भी निकाले जाएंगे।

दीक्षा पोर्टल पर कर सकते हैं अपलोड

देशभर के स्कूलों से मांगी जा रही केस स्टडी को नवंबर के दूसरे सप्ताह तक बोर्ड को भेजना होगा। शिक्षक अपने रिसर्च वर्क, केस स्टडी सीबीएसई के दीक्षा पोर्टल पर अपलोड करेंगे। इसके बाद दीक्षा पोर्टल की टीम चयनित केस स्टडीज को पोर्टल पर जारी करेगी। खास बात यह भी है कि इस रिसर्च में यदि शिक्षक रिसर्च मटेरियल के तौर पर कोई वीडियो या ऑडियो तैयार करते हैं, तो उसे भी अपलोड कर सकते हैं। रिसर्च वर्क के रिफरेंस को भी टीचर को बोर्ड को समझाना होगा। स्कूल ग्रुप और व्यक्तिगत एंट्री भी इसी के माध्यम से भेज सकते हैं।

सबसे अच्छे आइडिया का होगा चयन

सीबीएसई द्वारा देशभर के शिक्षकों से पढ़ाई का स्तर सुधारने के लिए आइडिया मांगे हैं। जिस शिक्षक का सबसे अच्छा आइडिया होगा, उसका चयन कर देश भर के सीबीएसई स्कूलों में भेजा जाएगा, ताकि उस आधार पर आइडिया आधारित पढ़ाई कराने के शिक्षकों को मदद मिल सके। इस नए प्रयोग से पढ़ाई का तरीका सुधारने पर बल दिया जाना है।

X
Panipat - study will be based on cbse schools
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..