पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दो साल से पटवारी न मिलने पर ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
करीब तीन माह पूर्व डीआरओ के आदेश के बाद भी नन्हेड़ा व बापौली गांव के पटवारी न बैठने और चकबंधी पर स्टे के बावजूद भी गिरदावरी करने पर पटवारी के खिलाफ उच्चाधिकारीयों के आदेश के बाद भी कार्यवाही न होने से खफा नन्हेड़ा गांव के ग्रामीणों ने बापौली तहसील कार्यालय के सामने प्रदर्शन कर चेतावनी दी यदि जल्द समाधान नहीं हुआ तो वो बापौली तहसील कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन करने के लिए मजबूर हो जाएंगे। ग्रामीणों ने बताया कि दो वर्ष से उन्हें न पटवारी मिल रहा है और न एसओ। जिसको लेकर वो बार-बार कार्यालय के चक्कर काट रहे है, लेकिन समस्या का अभी तक कोई समाधान नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि अगर उन्हें तहसील संबंधित कोई कागजात तैयार करवाना पड़ता है तो उसके लिए उन्हें समालखा या करनाल जाना पड़ता है। जबकि करीब तीन माह पहले डीआरओ ने उनकी शिकायत पर कार्यवाही करते हुए कहा था। आक्रोशित ग्रामीणों ने कहा कि उनके गांव में चंकबंधी के दौरान करीब 290 एकड़ भूमि कर घोटाला हुआ है। जिसका एसडीएम की रिर्पोट में खुलासा हो चुका है।

खबरें और भी हैं...