फरीदाबाद / 5वीं का छात्र चूरन समझकर स्कूल ले गया चूहे मार दवा, दोस्तों को बांट दी; खाने पर तबीयत बिगड़ी

अस्पताल में बच्चे की जांच करते हुए डॉक्टर। अस्पताल में बच्चे की जांच करते हुए डॉक्टर।
अस्पताल में उपचाराधीन बच्चा। अस्पताल में उपचाराधीन बच्चा।
X
अस्पताल में बच्चे की जांच करते हुए डॉक्टर।अस्पताल में बच्चे की जांच करते हुए डॉक्टर।
अस्पताल में उपचाराधीन बच्चा।अस्पताल में उपचाराधीन बच्चा।

  • प्राथमिक उपचार के बाद 11 बच्चों को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई
  • 3 की स्थिति अभी खराब उनका उपचार किया जा रहा

दैनिक भास्कर

Feb 28, 2020, 08:16 PM IST

फरीदाबाद. बल्लभगढ़ के चांदपुर स्थित सेंट लुक कॉन्वेंट स्कूल में 5वीं कक्षा का छात्र शुक्रवार को चटपटा चूरन समझ कर घर से चूहामार दवा ले आया। स्कूल आकर उसने अपनी कक्षा के 14 साथियों को इसे बांट दिया। चूरन समझ कर सभी ने इसे खा लिया। कुछ ही देर में इनकी हालत बिगड़ने लगी। इससे स्कूल में अफरा-तफरी मच गई। चूहा मार दवा खाने की जानकारी मिलते ही स्कूल प्रबंधन के हाथ-पांव फूल गए।

स्कूल प्रबंधन ने आनन-फानन में सभी छात्रों को कोराली के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। स्थिति को गंभीर देख वहां से इन्हें बीके अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। यहां भर्ती करने के बाद सभी का उपचार शुरू कर दिया गया। कुछ घंटे बाद हालत में सुधार होने पर 14 बच्चों में से 11 को छुट्टी दे दी गई। जबकि, 3 बच्चों का इमरजेंसी वार्ड में उपचार चल रहा है। इनके नाम साहिल, राज और काव्य हैं। डॉक्टर के अनुसार ये बच्चे भी अब खतरे से बाहर हैं। फिर भी इन्हें डॉक्टर की देखरेख में रखा गया है। उधर पुलिस मामले की जांच कर रही है। स्कूल प्रबंधन से इस संबंध में पूछताछ की जा रही है।

अब सभी बच्चे खतरे से हैं बाहर
बीके अस्पताल की डॉ. स्मृति के अनुसार 11 बच्चों को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई है। जबकि 3 बच्चों का उपचार चल रहा है। वे भी खतरे से बाहर हैं। उधर सेंट लुक कॉन्वेंट स्कूल के प्रिंसिपल कृष्ण कांत का कहना है कि इस घटना से वह हैरत में हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना