राशन की होम डिलीवरी के लिए 252 दुकानें चिह्नित,फूड डिलीवरी कंपनी के साथ प्रशासन करेगा टाईअप

Rohtak News - कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन में प्रशासन का प्रयास है कि कम से कम लोग बाहर निकलें। अभी राशन, दूध और दवा आदि के लिए...

Mar 27, 2020, 08:26 AM IST
Rohtak News - haryana news 252 shops marked for home delivery of ration administration will tie up with food delivery company

कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन में प्रशासन का प्रयास है कि कम से कम लोग बाहर निकलें। अभी राशन, दूध और दवा आदि के लिए लोग घरों से निकल रहे हैं। लोगों की इस भीड़ को काबू करने के लिए करनाल, पानीपत, हिसार, सोनीपत और अम्बाला आदि कई जिलों में राशन की होम डिलीवरी शुरू हो चुकी है। प्रशासन के सहयोग से दुकानदार घर बैठे राशन पहुंचाने लगे हैं। वहीं, अभी रोहतक में राशन और दवा की होम डिलीवरी की तैयारी हो रही है। इसके लिए एक फूड डिलीवरी कंपनी के साथ प्रशासन बातचीत कर रहा है। अनुबंध के तहत किरयाणा व फूड सप्लाई की करीब 252 दुकानों की एक सूची को फूड डिलीवरी कंपनी के ऐप पर अपलोड कर दिया जाएगा। इनमें महम, कलानाैर, सांपला अाैर रोहतक में माल गाेदाम, सेक्टर-2 व 3 के अलावा हर क्षेत्र में राशन की दुकानों को प्रशासन की ओर से तय किया जा रहा है ताकि निर्धारित दामों पर राशन उपलब्ध हो सके और कालाबाजारी पर भी लगाम लग सके। इसके बाद जिसे भी जरूरत होगी वह ऑनलाइन ऑर्डर कर सकेगा और घर पर ही डिलीवरी ब्वाय के मार्फत राशन पहुंच जाएगा। इसकी पेमेंट भी ऑनलाइन की जा सकेगी। इस प्रक्रिया को गुरुवार शाम तक अधिकारी फाइनल करने में जुटे रहे। अब शुक्रवार दोपहर तक इस सूची को भी फाइनल कर दिया जाएगा। इसी तरह दवाओं की भी बबबबहोम डिलीवरी करने की प्लानिंग की जा रही है।

गांव-कस्बाें में दवाअाें की सप्लाई के लिए हाेलसेल दवा विक्रेताअाें ने मांगे परमिट

राेहतक| लाॅकडाउन में मेडिकल स्टोर्स पर दवाओं की उपलब्धता बनी रहे, इसके लिए रोहतक डिस्ट्रिक्ट केमिस्ट एसोसिएशन के पदाधिकारियों की मांग पर स्टेट ड्रग कंट्रोलर ने फार्मा कंपनियों को सप्लाई बहाल रखने के लिए एडवाइजरी जारी कर दी है। स्टेट ड्रग कंट्रोलर ने जीरकपुर, पंचकूला व चंडीगढ़ से संचालित फार्मा कंपनियों को एडवाइजरी दी है कि मांग के अनुसार दवाओं की सप्लाई जारी रखी जाए। एसोसिएशन के प्रधान सतीश कत्याल ने बताया कि होलसेल में मेडिसन सप्लाई करने वालों के पास ब्लड प्रेशर, शुगर, अस्थमा, मिर्गी का दौरा व अन्य रोगों की दवाओं का स्टाॅक सीमित है। वहीं जिले की तहसीलों मंे भी दवाओं की सप्लाई व्यवस्था बनी रहे, इसके लिए शुक्रवार को डिस्ट्रिक्ट ड्रग कंट्रोलर मनदीप मान के साथ एसोसिएशन के पदाधिकारी डीसी से मिलकर वाहनों के परमिट जारी करने की मांग रखेंगे। डीसीओ मनदीप मान ने बताया कि दवाओं का पर्याप्त स्टॉक है। यह स्टॉक लगातार बना रहे, इसके लिए स्टेट ड्रग कंट्रोलर ने फार्मा कंपनियों से बात की है। जिले भर में सप्लाई बहाल रखने के लिए डीसी से परमिट की मंजूरी ली जाएगी।

परमिट होने पर भी पुलिस ने करियाना शॉप संचालक को सामान नहीं लाने दिया

रोहतक| गली-मोहल्लों की किरयाना की दुकानों पर स्टॉक खत्म होने लगा है। ऐसे में उन्हें माल गोदाम रोड पर होलसेल की दुकानों से सामान लाने में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। सामान लाने की इजाजत के लिए प्रशासन से मंजूरी लेने के बावजूद दिक्कत आ रही है। सेक्टर 2-3 मार्केट में दुकानदार जगबीर सिंह आर्य ने बताया कि उनके यहां पर स्टॉक खत्म हो रहा है। ऐसे में उन्होंने सामान खरीदने के लिए प्रशासन से लिखित में इजाजत ली। इसके बावजूद पुलिस ने उन्हें माल गोदाम रोड पर जाने नहीं दिया।

सरकार इधर भी ध्यान दें

राशन की होम डिलीवरी कराने की तैयारी में जिला प्रशासन डीसी आरएस वर्मा ने कहा कि जल्द ही राशन की होम डिलीवरी की व्यवस्था हो जाएगी। पूरे जिले में व्यवस्था करने की प्लानिंग चल रही है। डीसी ने कहा कि जिले में खाद्य सामग्री व जीवन के लिए उपयोगी वस्तुओं की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि आवश्यक वस्तुओं के लिए प्रयोग किए जाने वाले वाहन की ऑनलाइन अनुमति प्रदान की जा रही है। कोई भी व्यक्ति इसकी अनुमति ले सकता है। सभी गैस एजेंसियों को गैस की होम डिलिवरी और पेट्रोल पंप संचालकों को पेट्रोलियम उत्पादों का पर्याप्त मात्रा में स्टॉक रखने के निर्देश दिए गए हैं।

जिले में 19 तरह की इंडस्ट्री को छूट : डीसी वर्मा ने बताया कि जिले में लॉकडाउन के दौरान करीब 19 तरह की इंडस्ट्री को ही छूट दी गई है। इसके लिए भी प्रशासन की अनुमति जरूरी होगी। इसके अलावा कोई फैक्टरी नहीं चल पाएगी। वहीं जिन इंडस्ट्री को छूट दी गई है, उनमें पशुओं, पक्षियों का फीड, फूड पैकेजिंग, फूड प्रोसेसिंग, दवाएं, सर्जिकल सेवाएं, इनमें बनने वाले मैटीरियल की इंडस्ट्री को ही छूट दी गई है। वहीं नट बोल्ट की दो फैक्टरी ने वेंटिलेटर के लिए उत्पाद मुहैया करवाने को लेकर मंजूरी मांगी है।

वाहनों की अनुमति के लिए यहां करें संपर्क: जिलावासी लॉकडाउन के दौरान अतिआवश्यक निजी कार्यों को लेकर वाहनों की अनुमति के लिए संबंधित एसडीएम कार्यालयों के दूरभाष पर संपर्क कर सकते हैं। रोहतक उपमंडल के लिए दूरभाष संख्या 01262-244163, महम उपमंडल के लिए 94165-14366 और सांपला उपमंडल के लिए 94165-19018 पर संपर्क किया जा सकता है। इसी प्रकार व्यावसायिक वाहनों की अनुमति के लिए प्रादेशिक परिवहन प्राधिकरण के सचिव के कार्यालय के दूरभाष संख्या 01262-247589 एवं मोबाइल 7380196189 पर संपर्क किया जा सकता है। लॉक डाउन की स्थिति का जायजा लेने के लिए डीसी आरएस वर्मा आैर एसपी राहुल शर्मा ने गुरुवार को देर सायं विभिन्न स्थानों का निरीक्षण किया।

फोन पर ही ऑर्डर करके घर सामान मंगवा सकेंगे ग्राहक, बाहर निकलना हो जाएगा कम, दवा की भी होम डिलीवरी की तैयारी


शिवाजी कॉलोनी में दुकान पर सामान लेने के लिए खड़े लोग। होम डिलीवरी होने पर लाइन से मिलेगी मुक्ति।

X
Rohtak News - haryana news 252 shops marked for home delivery of ration administration will tie up with food delivery company

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना