शहर के सौंदर्यीकरण के लिए बनेंगी 3 नर्सरी, अब ढाई लाख पौधे होंगे तैयार

Rohtak News - शहर की आबोहवा और पर्यावरण को अनुकूल बनाए रखने के लिए सौंदर्यीकरण का प्लान बनाया गया है। इसके लिए 7 एकड़ में 3...

Jan 16, 2020, 08:40 AM IST
Rohtak News - haryana news 3 nurseries to be beautified for the city now 25 lakh plants will be ready
शहर की आबोहवा और पर्यावरण को अनुकूल बनाए रखने के लिए सौंदर्यीकरण का प्लान बनाया गया है। इसके लिए 7 एकड़ में 3 पौधशालाएं विकसित की जा रही हैं। यहां 2 लाख 50 हजार फलदार-छायादार सहित औषधीय पौधे तैयार होंगे। मकसद 22 वार्ड में फैले चौक-चौराहे, पार्क व ग्रीन बेल्ट आदि को हरा-भरा और मनभावन बनाना है। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के निर्देश के बाद इस कार्य योजना पर अमल भी शुरू हो गया है। 6 से 8 महीने में प्रोजेक्ट काे पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है ताकि अगले मानसून सीजन में पौधरोपण कार्यक्रम को गति दी जा सके। इसकी प्लानिंग करने में अफसर जुट गए हैं। इस अभियान में आमजन की दिलचस्पी बढ़ाने के लिए हरियाली महोत्सव जैसे कार्यक्रम भी आयोजित किए जा सकते हैं। इस बारे में भी निगम प्रबंधन विचार-विमर्श कर रहा है।

प्रयास
पहरावर गांव में 4 एकड़ में बनेगी नर्सरी

नगर निगम की सीमा में शामिल पहरावर गांव में जेएलएन व भालौठ सब ब्रांच नहर के साथ लगती लगभग 4 एकड़ जमीन में नई नर्सरी बनाई जा रही है। नगर निगम कमिश्नर प्रदीप गोदारा सहित संबंधित अधिकारियों की टीम ने इसका निरीक्षण भी कर लिया है। सबसे पहले इसकी चारदीवारी बनेगी। इसके बाद खेत की मिट्‌टी को पौधशाला की प्रकृति के अनुकूल ट्रीटमेंट दिया जाएगा। फिर पौधों को तैयार किए जाने की पहल होगी।

एसटीपी पर ढाई एकड़ में तैयार होगी नर्सरी

भिवानी रोड पर ड्रेन नंबर 8 के किनारे सॉलिड वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांट परिसर में भी नई नर्सरी बनाई जाएगी। इसके लिए ढाई एकड़ जमीन के हिस्से पर काम चल रहा है। यहां एसटीपी के आसपास के एरिया को बेहतर लुक देने की कोशिश की जा रही है। सॉलिड वेस्ट ट्रीटमेंट प्लांट का संचालन करने वाली एजेंसी को इससे संबंधित काम सौंपा गया है। हालांकि नर्सरी खुद नगर निगम ही चलाएगी।

प्रदूषण घटाना व हरियाली बढ़ाना मकसद


पुरानी नर्सरी को मिलेंगे जरूरी संसाधन : सोनीपत रोड पर मानसरोवर पार्क के सामने स्थित प्रथम जलघर परिसर में लगभग चौथाई एकड़ जमीन में पहले से नगर निगम की एक नर्सरी संचालित है। जहां पौधे तैयार किए जा रहे हैं। इसे भी आधुनिक और अन्य जरूरी संसाधनों से लैस किया जाएगा। फिलहाल यहां मौसमी फूलों की कई किस्में तैयार की गई है। इंचार्ज सुनील कौशिक ने बताया कि 8 सहयोगियों की मदद से यहां पर फूल-पौधे तैयार किए जा रहे हैं। यहां दो ट्रैक्टर, दो पानी के टैंकर हैं।

नर्सरी में 70 प्रतिशत सौंदर्यीकरण बढ़ाने वाले पौधे : नगर निगम की ओर से इन तीनों नर्सरी में तैयार होने वाले ढाई लाख पौधों में 70 प्रतिशत पौधे सौंदर्यीकरण बढ़ाने वाले होंगे। बाकी 20 प्रतिशत फलदार-छायादार और 10 फीसदी औषधीय पौधे शामिल किए जाएंगे।

खर्च के अनुपात पर निर्धारित होगा शुल्क : दो नई व एक पुरानी नर्सरी में निगम की ओर से तैयार किए जाने वाले ढाई लाख पौधे शहरवासियों को भी मुहैया कराए जाएंगे। अपनी पहल पर निगम चौक-चौराहे, पार्क और ग्रीन बेल्ट आदि में इन पौधों को रोपेगा। इसमें वे पौधे भी शामिल किए जाएंगे, जो पर्यावरण प्रेमियों में लोकप्रिय हैं।

निगम में शामिल गांवों में बढ़ाएंगे हरियाली


X
Rohtak News - haryana news 3 nurseries to be beautified for the city now 25 lakh plants will be ready
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना