बैंकों में पहुंच रहे बुजुर्ग पेंशनर्स, नहीं मेंटेंन हो रही सोशल डिस्टेंसिंग, भीड़ लगाकर खड़े

Rohtak News - लॉकडाउन के चलते कोरोना वायरस से बचाव के सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य कर दिया गया है। लेकिन बैंकों में पहुंच...

Apr 05, 2020, 08:22 AM IST

लॉकडाउन के चलते कोरोना वायरस से बचाव के सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अनिवार्य कर दिया गया है। लेकिन बैंकों में पहुंच रहे पेंशनर्स के बीच यह मेंटेन नहीं हो पा रही है। कही बैंक की ओर से अनदेखी है तो कहीं बैंक ग्राहक बार-बार कहने के बाद भी भीड़ लगाकर खड़े हाे रहे हैं। दरअसल अप्रैल का पहला सप्ताह शुरू होने के साथ ही बैंकों में पेंशन लेने वाले बुजुर्गों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है। अधिकांश बैंक प्रबंधन की ओर से बैंक के प्रवेश द्वार पर सेनिटाइजर के साथ बैंक कर्मी तैनात किया गया है। जो हर आने वाले ग्राहक को सेनिटाइजर इस्तेमाल के लिए प्रेरित करता है। दूसरे भीड़ लगाने की बजाए पर्याप्त दूरी बनाए रखने के लिए बार बार सावधान करता है। इसके बावजूद ग्राहक स्थिति की गंभीरता को नजरंदाज कर रहे हैं।

एटीएम कार्ड न बनवाने के कारण काटने पड़ रहे चक्कर : डीएलएफ कॉलोनी निवासी विश्वंभर दयाल पैदल ही शुक्रवार को कोर्ट रोड स्थित स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में पेंशन लेने पहुंचे। उन्होंने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि से उन्होंने एटीएम नहीं लिया है। इसीलिए पेंशन लेने के लिए बैंक तक आना आवश्यक हो जाता है। हालांकि लॉकडाउन के दौरान वे घर से आना नहीं चाहते थे। लेकिन मजदूरी में आना पड़ा। ओल्ड हाउसिंग बोर्ड निवासी टाउन कंट्री प्लानिंग विभाग से सेवानिवृत्त हरिलाल साइकिल से पेंशन लेने स्टेट बैंक आए। जबकि डबल फाटक के निकट स्थित गीता कॉलोनी निवासी छोटी देवी और बेटे के साथ लोडिंग रिक्शे पर पेंशन लेने आए 71 वर्षीय पालेराम ने बताया कि वे स्वयं से बैंक आने में असमर्थ हैं। इसीलिए परिजनों की मदद लेनी पड़ती है। कोरोना वायरस के चलते हर सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना जरूरी है।

राेहतक में झज्जर चुंगी स्थित बैंक में पेंशन लेने के लिए लगी लाेगाें की भीड़।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना