फरमाणा में चंदा जुटा 6 हजार में रखी इंग्लिश टीचर, नौनंद में गांव की बेटी पढ़ा रही मैथ

Rohtak News - हरियाणा विद्यालय बोर्ड की ओर से 10वीं व 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा का शेड्यूल जारी कर दिया गया है। 10वीं कक्षा की...

Jan 23, 2020, 08:35 AM IST
Rohtak News - haryana news english teacher kept in farmana raised in 6 thousand daughter of village teaching math in naunand
हरियाणा विद्यालय बोर्ड की ओर से 10वीं व 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा का शेड्यूल जारी कर दिया गया है। 10वीं कक्षा की परीक्षा 4 मार्च से शुरू होकर 27 मार्च को खत्म होगी। वहीं, 12वीं की परीक्षा 3 मार्च से 31 मार्च तक चलेंगी। ऐसे में जिले के सरकारी स्कूलों में इन दिनों विद्यार्थियों को परीक्षा की तैयारी कराई जा रही है। उन स्कूलों ने भी बोर्ड के परीक्षा परिणाम में इस बार 75 फीसदी परिणाम का लक्ष्य रखा है, जिनका 2018-19 में बोर्ड की परीक्षा का परिणाम बहुत ही कम रहा है। शिक्षा विभाग भी दावा कर रहा है कि इस बार रिजल्ट सुधारा जाएगा। विभाग के इस दावे पर सवाल उठ रहे हैं क्याेंकि जिन स्कूलों का रिजल्ट खराब रहा था, उनमें शिक्षकों की कमी है। कहीं पर स्टाफ चंदा जुटाकर अपने खर्चे पर प्राइवेट टीचर रख रहे हैं तो कहीं पर दूसरे विषय के शिक्षक से काम चलाया जा रहा है। कहीं पर कोई ग्रामीण स्वेच्छा से आकर पढ़ा रहा है। ऐसे में स्कूल स्तर पर तो प्रयास हो रहे हैं, लेकिन विभाग की नींद नहीं टूटी है। इस पर डीईओ भी पूरे मामले पर हाथ खड़े करती दिखाई दे रही हैं। उनका कहना है कि शिक्षकों की कमी पर मैं कुछ नहीं कर सकती। मैंने उच्च अधिकारियों को लिखकर भेज दिया है।

फरमाणा : टीचर मैटरनिटी लीव पर, स्टाफ अपने खर्चे पर लाया प्राइवेट टीचर

राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय फरमाणा का पिछले वर्ष कक्षा 10वीं का परीक्षा परिणाम 11.32 फीसदी रहा। नवंबर माह से अंग्रेजी की शिक्षिका मैटरनिटी लीव पर हैं। पीजीटी इकोनॉमिक्स की शिक्षिका सुनील कुमारी ने बताया कि बोर्ड परीक्षा की तैयारी प्रभावित न हो इसलिए सभी शिक्षकों के सहयोग से गांव की ही एक प्राइवेट टीचर को 6 हजार रुपए मानदेय के साथ अंग्रेजी पढ़ाने के लिए रखा गया है। इन्होंने बताया कि प्रैक्टिस पर अधिक ध्यान देकर तैयारी कराई जा रही है और 60 फीसदी से अधिक रिजल्ट का लक्ष्य रखा गया है। इस बार 48 छात्र बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे। इन्होंने बताया कि पिछली बार गणित की शिक्षिका की नियुक्ति काफी देरी से की गई, इस कारण पिछली बार परिणाम कम रहा।

रिटायर्ड टीचर्स और युवा आगे आकर दे सकते हैं शिक्षा का दान

शिक्षा विभाग से रिटायर्ड टीचर व पढ़े लिखे युवा आगे आकर उन सरकारी स्कूलों में पढ़ा सकते हैं, जहां पर टीचरों की कमी है। यह सही मायने में बड़ा दान होगा और बच्चों के भविष्य के लिए एक नई पहल होगी। इसमें पंचायतें भी सहयोग कर सकती हैं। यदि आप इच्छुक हैं तो हम शिक्षा अधिकारियों तक पहुंचा सकते हैं आपकी इच्छा। हमें इस नंबर पर कॉल करें - 9340931922

अच्छा रिजल्ट लाने की राह में इस तरह की आ रही दिक्कत, शिक्षा विभाग आंख मूंदकर बैठा

नौनंद : 4 माह से नहीं मैथ टीचर, गांव की लड़की पढ़ा रही

राजकीय उच्च विद्यालय नौनंद का पिछले वर्ष कक्षा 10वीं का परीक्षा परिणाम 17.39 फीसदी रहा। हेडमास्टर बलदेव ने बताया कि सितंबर माह से ही विद्यालय में गणित का शिक्षक नहीं है। गांव की मैथ से एमएससी पास लड़की स्कूल में गणित पढ़ा रही है। गणित शिक्षक के लिए डीईओ से बात की ही, लेकिन उन्होंने कहा कि यह मुख्यालय स्तर का काम है। अगर एक माह के लिए शिक्षक मिल जाए तो और भी अच्छी तैयारी हो सकती है। इस बार 22 विद्यार्थी 10वीं की बोर्ड परीक्षा देंगे।

नौनंद के स्कूल में बोर्ड परीक्षा की तैयारी करातीं शिक्षिका।

मदनपुर टेकना : अंग्रेजी के शिक्षक पढ़ा रहे सोशल साइंस

राजकीय उच्च विद्यालय मदनपुर टेकना का पिछले वर्ष कक्षा 10वीं का परीक्षा परिणाम सौ फीसदी रहा है। इस बार विद्यालय में सामाजिक विज्ञान का शिक्षक नहीं होने के कारण विद्यार्थियों की बोर्ड परीक्षा की तैयारी सही से नहीं हो पा रही है। हेडमास्टर कर्मवीर सिंह ने बताया कि सितंबर माह में तबादले के बाद से स्कूल में सामाजिक विज्ञान शिक्षक नहीं है। इस कारण अंग्रेजी के शिक्षक को कक्षा 10वीं के विद्यार्थियों को सामाजिक विज्ञान पढ़ाना पड़ रहा है।

मुख्यालय काे भेजी गई है फाइल


X
Rohtak News - haryana news english teacher kept in farmana raised in 6 thousand daughter of village teaching math in naunand

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना