क्राइम / रंजिश के चलते मौसी ने किया ढाई साल की बच्ची का अपहरण, 5 लाख फिरौती मांगी, गिरफ्तार



अपनी मां की गोद में काव्या। अपनी मां की गोद में काव्या।
पुलिस गिरफ्त में आरोपी  आरोपी मधु व भगत सिंह। पुलिस गिरफ्त में आरोपी आरोपी मधु व भगत सिंह।
X
अपनी मां की गोद में काव्या।अपनी मां की गोद में काव्या।
पुलिस गिरफ्त में आरोपी  आरोपी मधु व भगत सिंह।पुलिस गिरफ्त में आरोपी आरोपी मधु व भगत सिंह।

  • पुलिस ने 12 घंटे में बच्ची को बरामद कर दो आरोपियों को किया गिरफ्तार

Dainik Bhaskar

Nov 19, 2019, 04:34 PM IST

पलवल (भगत सिंह डागर). शहर थाना क्षेत्र में एकता नगर से सोमवार को एक ढाई साल की बच्ची का बाइक सवार युवक ने अपहरण कर लिया था। अपहरणकर्ता ने बच्ची के परिजनों ने बच्ची को छोड़ने की एवज में पांच लाख रुपए की फिरौती मांगी। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी नरेंद्र बिरजानिया सहित पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। एसपी ने बच्ची की तलाश के लिए पांच टीमें तीन सीआईए व दो थाने की टीमें गठित कर बच्ची की तलाश में लगा दी। पुलिस ने मंगलवार सुबह बच्ची को आरोपी के किराए के कमरे से बरामद कर आरोपी व बच्ची की नाते की मौसी को गिरफ्तार कर लिया।

पड़ोस की दुकान से बिस्कुट दिलाने ले गई थी मधु

  1. डीएसपी यशपाल खटाना ने बताया कि सोमवार को एकता नगर निवासी बीर सिंह ने पुलिस को बताया की उसके बड़े बेटे अशोक की मौत के बाद, अशोक की पत्नी का विवाह अशोक के छोटे भाई अंकित के साथ कर दिया। सोमवार को अंकित की ढ़ाई वर्ष की बेटी काव्या को अंकित के ताऊ के लड़के राजीव की साली मथुरा (यूपी) निवासी मधु उर्फ माधव जो फिलहाल पलवल एकता नगर में ही राजीव के साथ रहती है पड़ोस की दुकान से बिस्कुट दिलाने गई थी। उसी दौरान बाइक पर सवार होकर आया एक युवक बच्ची का अपहरण कर ले गया। 

  2. सोमवार को देर शाम जब परिजनों को घटना के बारे में जानकारी मिली तो उन्होंने इसकी सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने छोटी बच्ची का मामला होने के नाते गंभीरता दिखाई और तुरंत मौके पर एसपी नरेंद्र बिरजानिया, डीएसपी हेडक्वार्टर सुनील काद्यान व डीएसपी यशपाल खटना भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। मौके पर ही एसपी ने बच्ची की तलाश के लिए पांच टीमों का गठन किया और बच्ची की तलाश में जुट गई।

  3. कैसे हुए अपहरण का खुलासा

    डीएसपी यशपाल खटाना ने बताया कि पुलिस ने घर के आस पास लगे सीसीटीवी कैमरों में देखा की बच्ची के अपहरण से पूर्व मधु (नाते की मौसी) बच्ची को पास की दुकान से बिस्कुट दिलाकर ला रही थी, इसी दौरान बाइक सवार युवक अपहरण कर ले गया। पुलिस ने शक होने पर बच्ची की नाते की मौसी मधु से सख्ती से पूछताछ की तो उसने राज उगल दिया। मधु ने बताया कि उसका साथी मुर्तजाबाद (यूपी) निवासी जो हाल धौलागढ़ में किराए के कमरे में रहता है अपहरण करके ले गया है और उसी ने पांच लाख रुपए की फिरौती मांगी है।  

  4. क्यों कराया मधु ने बच्ची का अपहरण

    अंकित की पत्नी का कुछ माह पूर्व मोबाइल फोन चोरी हो गया था, जिसका शक अंकित की पत्नी ने अंकित के ताऊ के लड़के की साली मथुरा (यूपी) निवासी मधु पर लगाया था। इसी बात को लेकर मधु अंकित की पत्नी से रंजिश पाले हुए थी। इसी दौरान मथुरा में मधु की मुलाकात मुर्तजाबाद निवासी भगत सिंह से हो गई। मधु ने भगत सिंह से कहा की वह अंकित की बेटी का अपहरण कर ले उसे पैसे मिल जाऐंगे और उसकी रंजिश भी निकल जाएगा। मधु ने ही दिया था फिरौती मांगने के लिए भगत सिंह को अंकित का मोबाइल नंबर।

  5. कहां से कैसे किए आरोपी गिरफ्तार

    पुलिस टीम ने मधु से पूछताछ के बाद उसे साथ लेकर मुर्तजाबाद निवासी भगत सिंह के धौलागढ़ कमरे पर छापेमारी की तो भगत सिंह व बच्ची को वहां से बरामद कर लिया। पुलिस ने बच्ची को बरामद कर परिजनों को सौंप दिया, जबकि मधु व भगत सिंह के खिलाफ अपहरण का केस दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। खबर लिखे जाने तक पुलिस आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी हुई थी की इस मामले में उनके साथ और कौन सामिल है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना