क्राइम / लैपटॉप और प्रिंटर की मदद से छापे 1.2 करोड़ के नकली नोट, एनआईए ने करंसी के साथ पकड़े 2 आरोपी



आरोपी वसीम। आरोपी वसीम।
आरोपी कासिम। आरोपी कासिम।
X
आरोपी वसीम।आरोपी वसीम।
आरोपी कासिम।आरोपी कासिम।

  • नूंह जिले के सिंगार गांव के रहने वाले हैं दोनों आरोपी, एक आरोपी का पिता है सरकारी स्कूल में प्रिंसिपल

Dainik Bhaskar

May 31, 2019, 12:30 PM IST

गुड़गांव. एनआईए की टीम और गुड़गांव पुलिस ने बुधवार देर रात दो युवकों को 1.2 करोड़स रुपए के दो हजार के नकली नोटों के साथ गिरफ्तार करने के बाद गुरुवार को कोर्ट में पेश किया। जहां से अदालत ने दोनों को सात दिन के पुलिस रिमांड पर सौंप दिया। पुलिस के अनुसार 20 वर्षीय वसीम घर में लैपटॉप और प्रिंटर की मदद से नोट छापता था।

12वीं पास है आरोपी वसीम, पिता सरकारी स्कूल में है प्रिंसिपल

  1. आरोपी वसीम 12वीं पास करके क्रिकेट की प्रैक्टिस करता था। पिता नूंह के गांव सिंगार के सरकारी स्कूल में प्रिंसिपल है। वसीम का साथी कासिम बिजली का काम करता था। पुलिस ने रिमांड में लेकर दोनों आरोपियों से पूछताछ शुरू कर दी।

  2. पुलिस दोनों से पूछताछ कर रहा ही कि वे नकली नोट के लिए पेपर कहां से लाते थे, इसे कहां सप्लाई करते थे। आरोपियों ने बताया  कि वे इन्हें आधे रेट में बेचते थे। पिछले लगभग छह माह से इस गोरखधंधे में लगे थे। इनके गिरोह में कोई और भी सदस्य है इस बारे भी पूछताछ की जा रही है।

  3. सूत्रों के अनुसार राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को कुछ समय पहले सूचना मिली थी कि नूंह जिले के गांव सिंगार से नकली नोट कई जगह पहुंचाए जाते हैं। सूचना के आधार पर नोट पहुंचाने वालों की रेकी शुरू की। पता चला कि दो लोग बैग में नकली नोट लेकर गुरुग्राम के सेक्टर-48 स्थित एक पेट्रोल पंप के नजदीक पहुंचने वाले हैं। जैसे ही दोनों पहुंचे उन्हें दबोच लिया गया।

  4. दोनों की पहचान नूंह जिले के गांव नई निवासी वसीम (20) एवं गांव सिंगार निवासी कासिम (44) के रूप में की गई। एनआईए की टीम दोनों को लेकर सदर थाना पहुंची। वहां पर नोटों की गिनती की गई। देर रात एनआईए ने दोनों आरोपितों को सदर थाना पुलिस के हवाले कर दिया।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना